ADVERTISEMENTREMOVE AD

बच्चों को वैक्सीन, प्रीकॉशन डोज का ऐलान... PM मोदी के संबोधन की 10 बड़ी बातें

15 साल से 18 साल की आयु के बीच के जो बच्चे हैं, अब उनके लिए देश में वैक्सीनेशन प्रारंभ होगा

Published
भारत
2 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

ओमिक्रॉन (Omicron) के बढ़ते खतरे और कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के बीच शनिवार, 25 दिसंबर को देर रात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने देश को संबोधित किया. वैक्सीनेशन को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि बच्चों का वैक्सीनेशन शुरू किया जाएगा साथ ही 60 वर्ष से ज्यादा उम्र के को-मोर्बिडिटी वालों को डॉक्टर की सलाह पर बूस्टर डोज उपलब्ध कराया जाएगा. आइए जानते हैं पीएम मोदी के संबोधन की 10 बड़ी बातें.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

1. पीएम मोदी ने कहा कि 60 वर्ष से ऊपर की आयु के कॉ-मॉरबिडिटी वाले नागरिकों को, उनकी डॉक्टर की सलाह पर वैक्सीन की प्रीकॉशन डोज (Precaution Dose) का विकल्प उपलब्ध होगा. ये 10 जनवरी से उपलब्ध किया जाएगा.

2. मोदी ने कहा, 15 साल से 18 साल की आयु के बीच के जो बच्चे हैं, अब उनके लिए देश में वैक्सीनेशन प्रारंभ होगा. 2022 में, 3 जनवरी को, सोमवार के दिन से इसकी शुरुआत की जाएगी.

3. भारत में भी कई लोगों के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने का पता चला है. मैं आप सभी से आग्रह करूंगा कि डरें नहीं सावधान और सतर्क रहें.

4. कोरोना वैश्विक महामारी से लड़ाई का अब तक का अनुभव यही बताता है कि व्यक्तिगत स्तर पर सभी दिशानिर्देशों का पालन करना कोरोना से मुकाबले का बहुत बड़ा हथियार है.

5. पीएम ने कहा आज भारत की वयस्क जनसंख्या में से 61 प्रतिशत से ज्यादा जनसंख्या को वैक्सीन की दोनों डोज लग चुकी है. इसी तरह, वयस्क जनसंख्या में से लगभग 90 प्रतिशत लोगों को वैक्सीन की एक डोज लगाई जा चुकी है.

0

6. मोदी ने कहा अब एहतियातन सरकार ने निर्णय लिया है कि हेल्थकेयर और फ्रंटलाइन वर्कर्स को वैक्सीन की (Precaution Dose) भी प्रारंभ की जाएगी. इसकी शुरुआत 2022 में, 10 जनवरी, सोमवार के दिन से की जाएगी.

7. हम सबका अनुभव है कि जो कॉरोना वॉरियर्स हैं, हेल्थकेयर और फ्रंटलाइन वर्कर्स हैं, इस लड़ाई में देश को सुरक्षित रखने में उनका बहुत बड़ा योगदान है. वो आज भी कोरोना के मरीजों की सेवा में अपना बहुत समय बिताते हैं.

8. पीएम मोदी ने बताया कि भारत ने इस साल 16 जनवरी से अपने नागरिकों को वैक्सीन देना शुरू कर दिया था. ये देश के सभी नागरिकों का सामूहिक प्रयास और सामूहिक इच्छाशक्ति है कि आज भारत 141 करोड़ वैक्सीन डोज के अभूतपूर्व और बहुत मुश्किल लक्ष्य को पार कर चुका है.

9. पीएम ने बताया कि कोरोना वैश्विक महामारी से लड़ाई लड़ने का दूसरा सबसे बड़ा हथियार अगर कोई है तो वो वैक्सीनेशन है.

10. पीएम मोदी ने कहा मास्क का इस्तेमाल करें और हाथों को थोड़ी-थोड़ी देर पर धोएं, इन बातों को याद रखें.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×