ADVERTISEMENTREMOVE AD

"पुलिस वाले नजर नहीं आ रहे थे", राहुल गांधी ने बताया- क्यों रोकनी पड़ी यात्रा?

जम्मू कश्मीर के बनिहाल में रोक दी गई थी राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा.

Updated
भारत
2 min read
छोटा
मध्यम
बड़ा
ADVERTISEMENTREMOVE AD

कांग्रेस नेता राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा जम्मू कश्मीर के बनिहाल में रोक दी गई. कांग्रेस ने आरोप लगाया कि यात्रा में सुरक्षा नहीं मिल रही है. इस वजह से यात्रा को रोकना पड़ा है. कांग्रेस ने कहा कि जब तक हमें सुरक्षा नहीं मिलती, यात्रा का आगे बढ़ना खतरे से खाली नहीं है. हालांकि, कुछ समय बाद दोबारा यात्रा शुरू कर दी गई.

0

यात्रा रोके जाने पर राहुल गांधी ने बताया कि यात्रा के दौरान पुलिस व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई थी और भीड़ को संभालने वाले पुलिस वाले कहीं नजर नहीं आ रहे थे. यात्रा पर मेरे आगे चलने से मेरे सुरक्षाकर्मी बहुत असहज थे, इसलिए मुझे अपनी यात्रा रद्द करनी पड़ी. उन्होंने बताया कि मेरे लोगों ने मुझे यात्रा न करने की सलाह दी, इसलिए मैं यात्रा से निकल गया और अन्य यात्रियों ने पदयात्रा की.

कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा में सुरक्षा में चूक हुई है. हमें सुरक्षा नहीं मिल रही है. ऐसे में हम राहुल गांधी को इस तरह से आगे नहीं जाने दे सकते. उन्होंने कहा कि अगर राहुल गांधी जाना भी चाहते हैं, तब भी हम उन्हें आगे नहीं जाने देंगे. उन्होंने कहा कि सीनियर सुरक्षा अफसरों को यहां आना चाहिए. पिछले 15 मिनट में सुरक्षा में चूक हुई है.

कांग्रेस ने कहा कि जब तक सुरक्षा नहीं मिलती, तब तक आगे नहीं बढ़ेंगे. दरअसल, राहुल गांधी की यात्रा आज 9 बजे शुरू हुई थी. यात्रा रामबन से अनंतनाग जानी थी. लेकिन यात्रा को बनिहाल में ही रोक दिया गया है. हालांकि, अब दोबारा यात्रा शुरू कर दी गई है.

कांग्रेस नेताओं ने आरोप लगाया कि काजीगुंड पहुंचने के बाद राहुल गांधी तय कार्यक्रम के तहत दक्षिण कश्मीर में वेस्सु की तरफ पदयात्रा करने लगे, लेकिन तभी पार्टी कार्यकर्ताओं ने अचानक पाया कि यात्रा का बाहरी सुरक्षा घेरा गायब हो चुका है, जिसका प्रबंधन जम्मू-कश्मीर पुलिस संभाल रही थी. कांग्रेस नेताओं ने कहा कि राहुल गांधी को शुक्रवार को 11 किलोमीटर की पदयात्रा करनी थी, लेकिन उनके 500 मीटर की दूरी तय करने के बाद ही यात्रा को अस्थाई रूप से रोकना पड़ा.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
×
×