ADVERTISEMENTREMOVE AD

परीक्षणों से पता चलता है कि कोवैक्सीन बूस्टर डोज के लिए सुरक्षित- भारत बायोटेक

भारत बायोटेक का विश्वास है कि सुरक्षा के उच्चतम स्तर को बनाए रखने के लिए तीसरी खुराक लाभकारी होगी.

Published
भारत
1 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

भारत बायोटेक(Bharat Biotech) ने 8 जनवरी शनिवार को बताया कि कोविड-19 रोधी टीके कोवैक्सीन की बूस्टर डोज (Covaxin booster jabs) के परीक्षण ने बिना किसी गंभीर प्रतिकूल घटना के दीर्घकालिक सुरक्षा का प्रदर्शन किया है. रिपोर्ट्स के मुताबिक भारत बायोटेक ने दावा किया कि कोवैक्सीन की बूस्टर डोज लगवाने वाले 90 फीसदी प्राप्तकर्ताओं में कोरोना के खिलाफ लड़ने योग्य एंटीबाडी प्रतिक्रिया देखी गई है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

भारत बायोटेक के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक कृष्ण एला ने कहा ‘‘परीक्षणों के परिणाम कोवैक्सीन को बूस्टर खुराक के तौर पर मुहैया कराने के हमारे लक्ष्य को मजबूत आधार प्रदान करते हैं. वयस्कों, बच्चों को दो प्राथमिक खुराक और बूस्टर खुराकों के साथ ही कोविड-19 के खिलाफ वैश्विक टीके का निर्माण करने का हमारा लक्ष्य पूरा हो गया है.’’

0

भारत बायोटेक ने बताया है कि सामने आ रहे आंकड़ो के मुताबिक भारत बायोटेक का विश्वास है कि सुरक्षा के उच्चतम स्तर को बनाए रखने के लिए तीसरी खुराक लाभकारी होगी.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×