ADVERTISEMENTREMOVE AD

पाकिस्तान की जीत पर जश्न का केस: आगरा में कश्मीरी छात्रों पर पुलिस के सामने हमला

भारत-पाक मैच के बाद पाकिस्तान के समर्थन में वॉट्सऐप स्टेटस लगाने और नारेबाजी करने का आरोप

Updated
भारत
2 min read
छोटा
मध्यम
बड़ा
ADVERTISEMENTREMOVE AD

वीडियो इनपुट- मानवेंद्र मल्होत्रा

भारत और पाकिस्तान (Ind Vs Pak) के बीच हुए टी-20 वर्ल्ड कप मैच के बाद अब उन तमाम लोगों के खिलाफ एक्शन लिया जा रहा है, जिन्होंने किसी भी तरह पाकिस्तान की जीत पर जश्न मनाया. यूपी के आगरा में तीन कश्मीरी छात्रों के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया गया. लेकिन जब इन तीनों को कोर्ट में पेश किया गया तो पुलिस की मौजूदगी में कुछ लोगों ने इनके साथ मारपीट करनी शुरू कर दी.

कोर्ट परिसर के बाहर जब पुलिस इन तीनों कश्मीरी छात्रों को लेकर आई तो लोगों की भीड़ ने पाकिस्तान के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी. तभी कुछ लोग इन छात्रों को पीटने के लिए आगे बढ़े, पुलिस ने किसी तरह इन लोगों को पीछे धकेला और छात्रों को वहां से निकाला. लेकिन जब पुलिस जीप चलने लगी तो कुछ लोग जीप के पीछे भागने लगे. इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है.

कॉलेज प्रशासन ने कहा- नहीं लगे कोई देश विरोधी नारे

इन कश्मीरी छात्रों को लेकर कॉलेज प्रशासन की तरफ से भी बयान जारी किया गया है. आगरा के राजा बलवंत सिंह इंजीनियरिंग टेक्निकल इंस्टिट्यूट के प्रशासन ने बताया है कि, पाकिस्तान की जीत पर जश्न मनाने वाले कश्मीरी छात्रों की गिरफ्तारी के बाद कॉलेज प्रशासन ने सभी 9 विंग्स के छात्रों के लिए अनिश्चितकालीन अवकाश घोषित कर दिया है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD
प्रशासन का कहना है कि कैंपस में कोई भी देश विरोधी नारे नहीं लगे हैं. हालांकि मुकदमा दर्ज होने के बाद तीनों छात्रों को निलंबित कर दिया गया है.

बाहरी तत्वों का कॉलेज में उत्पात

भारत-पाकिस्तान की बात आती है तो कई संगठन तेजी से एक्टिव हो जाते हैं. इस बार भी ऐसा ही हुआ. यूपी के इस कॉलेज में ऐसे तत्वों ने खूब हंगामा मचाया. जिसे लेकर कॉलेज प्रशासन ने नाराजगी जताई है. कॉलेज के निदेशक पंकज गुप्ता ने बताया कि बाहरी तत्वों ने कैंपस में घुसकर उत्पात मचाया, इस दौरान स्टाफ के साथ अभद्रता की गई. उन्होंने कहा कि एक शिक्षण संस्थान में इस तरह की हरकतों को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

कॉलेज प्रशासन के मुताबिक पूरे मामले को ऑल इंडिया काउंसिल ऑफ टेक्निकल एजुकेशन के सामने रखा गया है, क्योंकि इन कश्मीरी छात्रों का एडमिशन प्रधानमंत्री विशेष छात्रवृत्ति योजना के अंतर्गत किया गया है. कॉलेज में कुल 7 कश्मीरी छात्र हैं.

कुल मिलाकर कॉलेज में एंटी नेशनल वाला माहौल बनाने की कोशिश की जा रही है. इन संगठनों के लोगों का आरोप है कि कश्मीरी छात्रों ने देश विरोधी नारे लगाए, जबकि कॉलेज प्रशासन इस बात से साफ इनकार कर रहा है.

पाकिस्तान से जुड़े मामले पर राजनीति भी शुरू

फिलहाल इस मामले पर राजनीति भी गरम हो रही है. क्योंकि अगले कुछ ही महीनों में प्रदेश में विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं. सीएम योगी आदित्यनाथ ने खुद सामने आकर इन छात्रों के खिलाफ राजद्रोह का केस चलाने की बात कह डाली.

बता दें कि विधानसभा चुनावों खासकर यूपी चुनावों में पाकिस्तान हमेशा से एक बड़ा मुद्दा रहा है. चुनावी रैलियों में नेता पाकिस्तान का जिक्र कर वोट बटोरने की कोशिश करते हैं. अब भारत-पाकिस्तान मैच को लेकर जो कार्रवाई की जा रही है, उसका जिक्र भी आने वाले दिनों में किसी चुनावी रैली में सुनाई दे सकता है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×