ADVERTISEMENT

अर्पिता मुखर्जी के घर ED की रेड, 50 करोड़ के करीब कैश और 6 किलो सोना बरामद

TMC महासचिव कुणाल घोष की मांग- पार्थ चटर्जी को तुरंत सभी पदों से हटाएं

Updated
भारत
2 min read
अर्पिता मुखर्जी के घर ED की रेड,  50 करोड़ के करीब कैश और 6 किलो सोना बरामद
i

SSC भर्ती घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में पश्चिम बंगाल के मंत्री पार्थ चटर्जी की सहयोगी अर्पिता मुखर्जी के घर से ED के अधिकारियों को करीब 50 करोड़ मिले हैं. वहीं अर्पिता के दूसरे घर से करीब 6 किलो सोना भी बरामद किया गया है. सूत्रों के मुताबिक 4.31 करोड़ रुपये के गहने बरामद किए गए हैं. गुरुवार की सुबह आरबीआई का एक ट्रक अर्पिता के घर से स्टील के दस ट्रंक में नकदी और सोना ले गया. अर्पिता मुखर्जी के दो फ्लैटों से कुल नकद वसूली 49.10 करोड़ रुपये है.

ADVERTISEMENT
अधिकारियों ने कहा कि अर्पिता मुखर्जी के बेलघरिया आवास से कुल 27.90 करोड़ रुपये जबकि उनके डायमंड पार्क आवास से 21.20 करोड़ रुपये की वसूली की गई है.

नोट गिनने में लगीं 4 मशीनें

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कोलकाता के बेलघरिया टाउन क्लब स्थित अर्पिता के फ्लैट की छापेमारी के दौरान दौरान एक शेल्फ से नकदी के बंडल बरामद किए गए. ईडी के एक अधिकारी ने कहा कि बैंक अधिकारियों और गिनती मशीनों की मदद से नोट गिनने में कई घंटे लग गए,

गुरुवार सुबह करीब साढ़े पांच बजे तक नोटों की गिनती चलती रही. कैश गिनने के लिए चार मशीनों का इस्तेमाल किया गया. ईडी अधिकारियों ने नकदी और आभूषण के अलावा उसके घर से जमीन से जुड़े दस्तावेज भी बरामद किए हैं. सूत्रों के मुताबिक फ्लैट से सोने की छड़ें, चांदी के सिक्के, संपत्ति के दस्तावेज और सीडी बरामद हुई हैं.

TMC महासचिव कुणाल घोष की मांग- पार्थ चटर्जी को तुरंत सभी पदों से हटाएं

TMC के महासचिव कुणाल घोष ने सोशल मीडिया के जरिए पार्थ चटर्जी को हटाने की मांग की है- "पार्थ चटर्जी को तुरंत मंत्रालय और पार्टी के सभी पदों से हटाया जाना चाहिए. उन्हें निष्कासित किया जाना चाहिए. अगर इस बयान को गलत माना जाता है, तो पार्टी को मुझे सभी पदों से हटाने का पूरा अधिकार है."

ADVERTISEMENT

राज्य विधानसभा में विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि इतनी बड़ी नकद बरामदगी के बाद भी अगर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पार्थ चटर्जी को मंत्रिमंडल से नहीं हटाती हैं, तो यह स्पष्ट होगा कि अवैध नकदी का हिस्सा सिर्फ पार्थ चटर्जी तक ही सीमित नहीं है.

पार्थ चटर्जी को राज्य के शिक्षा मंत्री रहते हुए सरकारी स्कूलों में शिक्षकों और गैर-शिक्षण कर्मचारियों की भर्ती में कथित अनियमितताओं के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया था.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी पर लेटेस्ट न्यूज और ब्रेकिंग न्यूज़ पढ़ें, news और india के लिए ब्राउज़ करें

टॉपिक:  WB SSC Scam 

ADVERTISEMENT
Published: 
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
और खबरें
×
×