योगी सरकार ने नहीं दिए पैसे तो मोदी के खिलाफ बोलने लगे अनुराग: BJP

बीजेपी प्रवक्ता प्रेम शुक्ला ने कहा कि अनुराग कश्यप के ‘मोदी द्वेष’ की वजह का अब पर्दाफाश हो गया है.

Updated
भारत
3 min read
योगी सरकार ने नहीं दिए पैसे तो मोदी के खिलाफ बोलने लगे अनुराग: BJP

पिछले कुछ समय से केंद्र सरकार पर लगातार हमला कर रहे फिल्ममेकर अनुराग कश्यप के खिलाफ अब बीजेपी ने मोर्चा खोल दिया है. बीजेपी ने अनुराग के कुछ पुराने लेटर सोशल मीडिया पर पोस्ट करते हुए उनके ऊपर आरोप लगाया है.

बीजेपी ने फिल्म प्रोड्यूसर और डायरेक्टर अनुराग कश्यप पर आरोप लगाया है कि पूर्व में यूपी की अखिलेश सरकार ने 'मसान' फिल्म के निर्माण के लिए अनुराग कश्यप को 2 करोड़ रुपए दिए थे. अब ऐसी ही राशि अनुराग कश्यप 'सांड की आंख' और 'मुक्काबाज' फिल्म के लिए योगी सरकार से मांग रहे हैं.

योगी सरकार ने नहीं दिए पैसे तो मोदी के खिलाफ बोलने लगे अनुराग: BJP
बीजेपी प्रवक्ता प्रेम शुक्ला ने कहा कि अनुराग कश्यप के ‘मोदी द्वेष’ की वजह का अब पर्दाफाश हो गया है. अनुराग ऐसे ही पैसे इकट्ठा करते रहे हैं. इसके सर्मथन मे बीजेपी ने तीन पत्र जारी किए हैं जो सदस्य सचिव, सूचना और संपर्क विभाग, उतरप्रदेश के हैं.  

क्या लिखा है लेटर में?

पहले लेटर में साफ-साफ लिखा है कि अनुराग कश्यप के 11 दिसंबर 2014 के पत्र के जवाब में सूचना संपर्क विभाग, यूपी ने 1 मार्च 2015 को 2 करोड़ की राशि जारी कराने की सिफारिश करती है. पत्र में लिखा गया है कि मसान फिल्म के निर्माण पर कुल लागत 8 करोड़ आया और फिल्म की 97 फीसदी शूटिंग यूपी में हुई है. इसलिए सूचना विभाग यूपी सरकार की फिल्म नीति के तहत लागत का 25 फीसदी जारी राशि जारी करता है.

योगी सरकार ने खारिज की सब्सिडी की मांग

'सांड़ की आंख' फिल्म के संदर्भ में अनुराग कश्यप के अनुदान वाले खत का जवाब देते हुए सूचना और संपर्क विभाग, यूपी ने 28 सितंबर 2018 को साफ साफ लिखा कि आपके अनुरोध को फिल्म नीति के तहत नहीं पाया गया है. ठीक ऐसा ही एक और पत्र सूचना विभाग ने फिल्म 'मुक्काबाज' के संदर्भ में 13 दिसंबर 2019 को अनुराग कश्यप को लिखा और सब्सिडी देने में असमर्थता जताई.

योगी सरकार ने नहीं दिए पैसे तो मोदी के खिलाफ बोलने लगे अनुराग: BJP
जाहिर है इन खतों के जरिए बीजेपी ने फिल्मकार अनुराग कश्यप पर पलटवार किया है.  

फिल्ममेकर्स को कैसे मिलती है सरकारी सब्सिडी?

उत्तर प्रदेश सरकार ने हिंदी फिल्मों के प्रमोशन के लिए फिल्म बंधु निगम बनाया है जो उत्तर प्रदेश में फिल्माए गए फिल्मों या उत्तर प्रदेश से जुड़े हुए विषय पर बनाई गई फिल्मों पर दो करोड़ तक की सब्सिडी देता है. इसी नियम के तहत 2016 में अनुराग कश्यप को फिल्म "मसान" के लिए अनुदान मिल चुका है. लेकिन योगी सरकार में दो फिल्मों के लिए मांगे गए सब्सिडी में उन्हें कोई पैसा नहीं मिला.

बता दें कि नागरिकता कानून और एनआरसी के मुद्दे पर अनुराग कश्यप मोदी सरकार के खिलाफ लगातार मुखर रहे हैं, और सरकार की नीतियों की आलोचना करते आए हैं.

ये भी पढ़ें- ये सरकार जब भी बोलती है झूठ ही बोलती है: अनुराग कश्यप

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!