ADVERTISEMENT

Moradabad: नाबालिग लड़की से गैंगरेप के आरोप में केस, घरवाले बोले-कुछ नहीं हुआ

Moradabad में लड़की का मेडिकल जांच कराया, जिसमें यौन शोषण की पुष्टि नहीं हुई

Published
न्यूज
2 min read
Moradabad: नाबालिग लड़की से गैंगरेप के आरोप में केस, घरवाले बोले-कुछ नहीं हुआ
i

यूपी के मुरादाबाद (Moradabad) जिले में एक नाबालिग लड़की के साथ कथित तौर पर सामूहिक बलात्कार (Moradabad Gangrape) का मामला सामने आया. लड़की के रिश्तेदार ने पुलिस को इस घटना की सूचना दी है और एफआईआर भी दर्ज कराई, लेकिन बाद में पुलिस ने दावा किया कि लड़की के माता-पिता ने साफ इनकार कर दिया है कि लड़की के साथ रेप की घटना हुई है.

बताया जा रहा है कि यह घटना इस महीने की शुरुआत यानी 1 सितंबर को हुई है. हालांकि करीब 2 हफ्ते बाद एक सीसीटीवी फुटेज सामने आया, जिसमें नाबालिग लड़की नग्न अवस्था में सड़कों पर चल रही है और फिर वो अपने घर पहुंची.

ADVERTISEMENT

पूरा मामला मुरादाबाद जिले के भोजपुर थाना क्षेत्र का है, लड़की गांव में लगे मेले में शामिल होकर अपने घर लौट रही थी तभी यह घटना हुई है, जिसके बाद उसे नग्न अवस्था में अपने घर लौटना पड़ा. लड़की के रिश्तेदार ने पुलिस को इस घटना की सूचना दी है और एफआईआर दर्ज कराई है.

लिखित शिकायत में दावा गया किया कि उसकी नाबालिग भतीजी मेले से घर लौट रही थी, तभी दो बाइक पर आए पांच लोगों ने उसका अपहरण कर लिया और उसे पास के एक जंगल में ले गए और उसके साथ बलात्कार किया. मदद के लिए रोने की आवाज सुनकर खेत की सिंचाई कर रहे एक व्यक्ति ने लड़की को बचाने का प्रयास किया. बाद में नाबालिग पीड़िता नग्न अवस्था में पैदल घर वापस लौटी.

इस घटना से जुड़ी सीसीटीवी फुटेज सामने आने के बाद वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने संज्ञान लिया और स्थानीय पुलिस को घटना के एक हफ्ते बाद 7 सितंबर को प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया. नाबालिग पीड़िता के चाचा की शिकायत के आधार पर भोजपुर थाने में आईपीसी की धारा 376DA, 504, 506 और पॉक्सो अधिनियम की संबंधित धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई थी.

मुरादाबाद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक हेमंत कुटियाल ने कहा है-

ADVERTISEMENT
FIR दर्ज करके मजिस्ट्रेट के सामने जो बयान दर्ज हुआ उसमें लड़की के माता-पिता ने बताया कि उसके साथ कोई घटना नहीं हुई और लड़की को बचपन से ही मानसिक रूप से कुछ दिक्कतें रही हैं. इसके बाद हमने लड़की का मेडिकल जांच कराया, जिसमें यौन शोषण की पुष्टि नहीं हुई

SSP ने आगे बताया कि एक गवाह ने एक अभियुक्त को मौके पर देखा है, उसे जेल भेजा गया. गांववालों और लड़की के घरवाले ने हलफनामा देकर बताया कि गांव में प्रचलित राजनीति के कारण लड़की के फूफा ने एक व्यक्ति के साथ मिलकर 5 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
और देखें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
और खबरें
×
×