हमसे जुड़ें
ADVERTISEMENTREMOVE AD

"ED ने केजरीवाल को किया गिरफ्तार, तो जेल से चलेगी सरकार", आतिशी बोलीं-विधायकों की यही मांग

Arvind Kejriwal के साथ विधायक दल की बैठक के बाद सौरभ भारद्वाज और आतिशी मीडिया के सामने आए और बताया कि मीटिंग में क्या-क्या हुआ.

Published
"ED ने केजरीवाल को किया गिरफ्तार, तो जेल से चलेगी सरकार", आतिशी बोलीं-विधायकों की यही मांग
i
Hindi Female
listen

रोज का डोज

निडर, सच्ची, और असरदार खबरों के लिए

By subscribing you agree to our Privacy Policy

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) को ED का समन मिलने के बाद से आम आदमी पार्टी न सिर्फ केंद्र सरकार पर आक्रामक है, बल्कि इस बात को लेकर भी स्पष्ट नजर आ रही है कि यदि वे गिरफ्तार हो जाते हैं तो पार्टी का स्टैंड क्या होगा.

6 नवंबर को दिल्ली में विधायक दल के साथ अरविंद केजरीवाल की बैठक हुई. इसमें विधायकों ने केजरीवाल से कहा कि यदि उन्हें जेल जाना पड़ता है तो भी वे इस्तीफा न दें और जेल से ही दिल्ली की सरकार चलाएं.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

बैठक खत्म होने के बाद AAP नेता सौरभ भारद्वाज और आतिशी मीडिया के सामने आए और बताया कि मीटिंग में क्या-क्या हुआ.

सौरभ भारद्वाज ने मीडिया से कहा, "एक-एक विधायक ने अरविंद केजरीवाल को हाथ जोड़ कर कहा है कि चाहे कुछ भी हो जाए, चाहे जमीन से चले या आसमान से चले, चाहे पाताल से चले या जेल से, चाहे पुलिस कस्टडी से चले या ज्यूडिशियल कस्टडी से, अरविंद केजरीवाल ही दिल्ली की सरकार चलाएंगे."

"जेल से ही लोगों के मुख्यमंत्री रहेंगे"

आतिशी ने कहा कि विधायक दल की मीटिंग में एक-एक विधायक ने अरविंद केजरीवाल को दिल्ली की जनता की राय बताई है. हम सबने उन्हें बताया कि हम जिस गली,पार्क, कॉलोनी, RWA में जाते हैं, सब लोग कह रहे हैं कि मोदी सरकार ने आम आदमी पार्टी के साथ अति कर दी है.

"सब कह रहे हैं कि बार-बार कोई अरेस्ट होता है, तो आम आदमी पार्टी का ही होता है. पहले विधायकों को, फिर मंत्रियों को, फिर हमारे सांसदों को गिरफ्तार किया और अब मुख्यमंत्री को अरेस्ट करने की धमकी दे रहे हैं."
आतिशी, शिक्षा मंत्री, दिल्ली सरकार
ADVERTISEMENTREMOVE AD

आतिशी ने कहा कि चाहे मोदी सरकार षड़यंत्र करके उन्हें जेल में डाल दे, लेकिन सभी विधायकों ने उन्हें इस्तीफा न देने के लिए कहा है. लोगों ने अपना वोट किसी विधायक या पार्टी को नहीं दिया, बल्कि दिल्ली के लोगों ने अपना जनादेश अरविंद केजरीवाल को दिया है. किसी झूठे षड़यंत्र से हम दिल्ली का ये भरोसा नहीं टूटने देंगे, चाहे कितने दिन भी मोदी सरकार उन्हें जेल में रखने की कोशिश करे, दिल्ली के लोगों ने उन्हें मुख्यमंत्री चुना है वो जेल से ही लोगों के मुख्यमंत्री रहेंगे.

सौरभ भारद्वाज ने कहा कि संविधान में कोई ऐसा प्रवधान नहीं है जो उन्हें जेल से सरकार चलाने से रोक सके.

"जेल से ही कैबिनेट की बैठक होगी"

आतिशी ने कहा कि हम कोर्ट जाएंगे और कोर्ट से इजाजत मांगेंगे कि कैबिनेट की मीटिंग्स जेल के अंदर हो सके. जरूरत पड़ी तो अफसर भी वहां जाएंगे. उन्होंने कहा कि जेल से भी दिल्ली की जनता के कामों को रुकने नहीं देंगे.

आतिशी के अनुसार, अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि वो दिल्ली के विधायकों से चर्चा के बाद, पार्षदों से चर्चा करेंगे. पंजाब के मुख्यमंत्री और वहां के विधायकों से भी चर्चा करेंगे. देश भर में आम आदमी पार्टी के संगठन से चर्चा करेंगे और इस प्रस्ताव पर विचार करेंगे जो दिल्ली के विधायकों ने दिया है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
और खबरें
×
×