ADVERTISEMENTREMOVE AD

CP जोशी संभालेंगे राजस्थान BJP की कमान, वसुंधरा विरोधी होना पूनिया को भारी पड़ा?

Satish Poonia का Rajasthan BJP प्रदेशाध्यक्ष के रूप में तीन साल का कार्यकाल पूरा हो चुका था.

Published
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

राजस्थान में विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी ने प्रदेश अध्यक्ष की कुर्सी से सतीश पूनिया को हटाकर चित्तौड़गढ़ से बीजेपी सांसद सीपी जोशी की ताजपोशी की है. पूनिया इस पद को 3 साल से सम्भाल रहे थे. हालांकि, सीतीश पूनिया को संघ की लॉबी के बेहद करीबी और वसुंधरा विरोधी नेताओं में से एक माना जाता है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

दरअसल, सीतश पूनिया का बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष के रूप में तीन साल का कार्यकाल पूरा हो चुका था. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के कार्यकाल बढ़ाने के बाद यह उम्मीद की जा रही थी कि पूनिया का कार्यकाल भी बढ़ाया जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. फिलहाल बीजेपी के केंद्रीय नेतृत्व को संभालने के लिए राजस्थान में बीजेपी के नेता सीपी जोशी होंगे.

सांसद जोशी का बीजेपी के केंद्रीय नेताओं के साथ अच्छा तालमेल माना जाता है. वह लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला के भी करीबियों की सूची में शुमार हैं. लेकिन, सीपी जोशी के अध्यक्ष बनने से अब नई बीजेपी की प्रदेश कार्यकारिणी का गठन करना भी एक चनौती होगा.

बीजेपी ने आखिर क्यों किया बदलाव?

राजस्थान में इस साल विधानसभा चुनाव होने हैं. इसलिए, यह बदलाव महत्वपूर्ण माना जा रहा है. सीपी जोशी ने बीते दिनों जयपुर में ब्राह्मण महापंचायत में भी शिरकत की थी. माना जा रहा है कि राजस्थान में बीजेपी ने ब्राह्मण वोटरों को साधने लिए यह फैसला लिया है.

दूसरी तरफ यह भी माना जा रहा है कि हाल ही में पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की केंद्रीय नेताओं के साथ नजदीकी के चलते भी पार्टी आलाकमान ने यह कदम उठाया है. पार्टी आलाकमान ये नहीं चाहता कि चुनावी वर्ष में बीजेपी राजस्थान में किसी तरह की कोई गुटबाजी हो जिसका असर चुनाव परिणाम में देखने को मिले.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

0
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
×
×