प्रदूषण की वजह पराली नहीं, पाक से आई जहरीली हवा है: BJP नेता

दिल्ली-एनसीआर समेत देश के कई राज्यों में प्रदूषण के चलते लोगों का सांस लेना मुश्किल हो गया है

Published
दिल्ली-एनसीआर समेत देश के कई राज्यों में प्रदूषण के चलते लोगों का सांस लेना मुश्किल हो गया है 
i

दिल्ली-एनसीआर समेत देश के कई राज्यों में प्रदूषण के चलते लोगों का सांस लेना मुश्किल हो गया है. इसी बीच दिल्ली में बढ़ रहे प्रदूषण पर बीजेपी नेता विनीत अग्रवाल का बयान सामने आया है. उन्होंने कहा कि दिल्ली में बढ़ रहे प्रदूषण की वजह पंजाब और हरियाणा में जल रही पराली नहीं, बल्कि बगल के मुल्क पाकिस्तान से छोड़ी गई जहरीली हवा है.

बीजेपी नेता विनीत अग्रवाल शारदा ने बुधवार को कहा कि किसान और उद्योग हमारे देश की रीढ़ की हड्डी है. उन्होंने कहा:

‘‘किसान और व्यापारी को इतना प्रभावित मत कीजिए. अगर ये दोनों प्रभावित हुए, तो मेरा देश चल नहीं पाएगा. पराली जलाने से वायु प्रदूषण नहीं होता. हो सकता है कि यह जहरीली हवा पड़ोसी पाकिस्तान की ओर से छोड़ी जा रही हो, जो हमसे घबराया हुआ है. हर बार युद्ध में पड़ोसी देश को मुंह की खानी पड़ी है.’’

विनीत अग्रवाल शारदा मेरठ में अटपटे बयान देने के लिए जाने जाते हैं. वे बीजेपी के व्यापार प्रकोष्ठ के संयोजक हैं.

वैसे हर साल तकरीबन इसी वक्‍त दिल्ली परेशान रहती है और इस पर सियासत भी होती रहती है. चारों तरफ फैले हुए प्रदूषण की इस चादर की तीन बड़ी वजह चर्चा में है- पहली, दिवाली की रात दिल्ली और उसके आसपास के इलाकों में हुई आतिशबाजी. दूसरी, पंजाब-हरियाणा जैसे राज्यों में किसानों का लगातार पराली जलाना. तीसरी, गाड़ियों से निकलने वाला धुंआ.

आपको बता दें कि दिल्ली-एनसीआर में हवा 'खतरनाक' स्थिति में पहुंच गया है. दिवाली के दूसरे दिन दिल्ली का एयर क्वॉलिटी इंडेक्स (AQI) 600 के साथ गंभीर स्थिति में पहुंच गया था.

यह भी पढ़ें: पॉडकास्ट। प्रदूषण और सियासत से बेहाल क्या दिल्ली रहने लायक भी है?

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!