ADVERTISEMENTREMOVE AD

कर्नाटक में कांग्रेस की 5 गारंटी, चालू वित्त वर्ष में लागू करेंगे:CM सिद्धारमैया

Karnataka Congress: मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने कहा कि सरकार धीरे-धीरे सभी गारंटियों को लागू करेगी.

Published
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा

कर्नाटक में सरकार बनाने के कुछ दिन बाद ही कर्नाटक कांग्रेस सरकार ने शुक्रवार को यह ऐलान किया है कि वह अपने घोषणापत्र में की गई सभी पांच गारंटियों को चालू वित्त वर्ष में लागू कर देगी. कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव से पहले राज्य की जनता से पांच वादे किए थे.

ADVERTISEMENTREMOVE AD
स्नैपशॉट
  1. हर घर को 200 यूनिट मुफ्त बिजली (गृह ज्योति योजना)

  2. प्रत्येक परिवार की महिला मुखिया को दो हजार रुपये की मासिक सहायता (गृह लक्ष्मी योजना)

  3. गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले परिवारों के हर सदस्य को प्रत्येक महीने 10 किलो मुफ्त चावल (अन्न भाग्य योजना)

  4. दो साल तक 18 से 25 साल की उम्र वाले प्रत्येक स्नातक बेरोजगार को हर महीने तीन हजार रुपये और डिप्लोमा धारक को 1500 रुपये महीना का भत्ता (युवा निधि योजना)

  5. सार्वजनिक बसों में महिलाओं को मुफ्त यात्रा की सुविधा (शक्ति योजना) शामिल हैं

कैबिनेट की विशेष बैठक के बाद विधानसभा में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस के दौरान मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने कहा कि सरकार धीरे-धीरे सभी गारंटियों को लागू करेगी.इस दौरान उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार भी मौजूद थे. इस दौरान मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने कहा कि...

 "गृह लक्ष्मी योजना के तहत,  प्रत्येक परिवार की महिला मुखिया को 2,000 रुपये मिलेंगे जो सीधे आधार से जुड़े बैंक खातों में भेजे जाएँगे.  इसके लिए  15 जून से 15 जुलाई तक आवेदन जमा किया जा सकता. गारंटी 15 अगस्त से शुरू होगी और उन्हें 2,000 रुपये जारी किए जाएंगे.प्रत्येक परिवार को यह घोषणा करनी चाहिए कि उसका मुखिया कौन होगा.वृद्धावस्था पेंशन, सामाजिक सुरक्षा पेंशन लेने वाली महिलाओं सहित विकलांग महिलाओं को भी योजना में इसमें शामिल किया जाएगा."
सिद्धारमैया, मुख्यमंत्री कर्नाटक

अन्ना भाग्य योजना के बारे में बताते हुए,  उन्होंने कहा ने कहा कि 1 जुलाई से 10 किलो मुफ्त खाद्यान्न वितरित किया जाएगा.

सरकार ने पूरे कर्नाटक में महिलाओं के लिए मुफ्त बस यात्रा की भी घोषणा की है.

छात्राओं सहित सभी महिलाओं को 11 जून से सरकारी बसों में मुफ्त यात्रा करने की अनुमति दी जाएगी. लेकिन यह योजना सिर्फ कर्नाटक के अंदर ही सीमित है. मुफ्त यात्रा एसी बसों, एसी स्लीपर बसों या लग्जरी बसों पर लागू नहीं होगी. जबकि KSRTC (कर्नाटक राज्य सड़क परिवहन निगम) में 50 प्रतिशत सीटें पुरुषों के लिए भी आरक्षित होंगी. BMTC (बेंगलुरु मेट्रोपॉलिटन ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन) की बसों में किसी भी प्रकार कोई आरक्षण नहीं होगा. मुफ्त बस की सवारी ट्रांसजेंडर पर भी लागू होगी
सिद्धारमैया, मुख्यमंत्री कर्नाटक

सिद्धारमैया ने कहा कि युवा निधि योजना के तहत “वे सभी जो अपनी ग्रैजूएशन की पढ़ाई के छह महीने बाद नौकरी पाने में विफल रहे हैं वे इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं और लाभ प्राप्त कर सकते हैं. बेरोजगार स्नातक युवाओं के लिए हर महीने 3,000 रुपये और बेरोजगार डिप्लोमा धारकों के लिए 1,500 रुपये हैं. यह योजना लिंग, जाति, धर्म और भाषा से परे सभी के लिए लागू होगी. ट्रांसजेंडर को भी इसमें शामिल किया जाएगा.

मुफ्त बस यात्रा 94 प्रतिशत सरकारी बसों को कवर करेगी हालांकि यह अभी सभी महिलाओं के लिए मुफ्त है, लेकिन कुछ दिनों के बाद यह योजना केवल कर्नाटक की महिलाओं के लिए लागू होगी.
डी के शिवकुमार, उपमुख्यमंत्री

गृह ज्योति योजना पर सिद्धारमैया ने कहा “जो लोग सालाना औसतन 200 यूनिट से कम खपत करते हैं, उन्हें बिजली के बिलों का भुगतान करने से छूट दी जाएगी. हालाँकि अब तक की बकाया राशि का भुगतान उपभोक्ताओं को करना होगा. यह योजना किरायेदारों के लिए भी लागू है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×