ADVERTISEMENT

''कांग्रेस शिविर से पहले मुझे उदयपुर से निकाला'',BJP MP-पुलिस की भिड़त का वीडियो

Video में मीणा होटल के अंदर पुलिसे से Udaipur से बाहर जाने से पहले आदेश की कॉपी मांगते दिखे

Updated

राजस्थान के उदयपुर में कांग्रेस के चिंतन शिविर से पहले गुरुवार को उदयपुर पुलिस ने बीजेपी सांसद किरोड़ी लाल मीणा ने आरोप लगाया कि उन्हें उदयपुर के एक होटल में नजरबंद कर लिया गया. सांसद ने ये आरोप भी लगाया है कि उन्हें जबरन जिले से निकाल दिया गया. एमपी का आरोप है कि उदयपुर में कांग्रेस चिंतन शिविर (Congress Chintan Shivir) के कारण उन्हें जिले से निकाला गया है. मीणा का पुलिस से बहस करते एक वीडियो भी सामने आया है.

ADVERTISEMENT
उदयपुर से रवाना होते हुए सांसद किरोड़ी लाल मीणा ने कहा कि पुलिस उन्हें आतंकित कर रही है. उन्हें पुष्कर भी नहीं जाने दिया जा रहा है. किरोड़ी ने कहा कि अगर उन्हें पुष्कर जाने से रोका गया तो वह अजमेर में धरना देंगे. बाद में किरोड़ी लाल ने बताया कि उदयपुर में कांग्रेस चिंतन शिविर कर रही है,इससे मुझे कोई आपत्ति नहीं है. लेकिन मैं निजी कार्यक्रम में शरीक होने के लिए उदयपुर आया था.
मैं प्रेस वार्ता में उदयपुर संभाग में भुखमरी, देह व्यापार, धर्मांतरण, मानव तस्करी और रोजगार जैसे मुद्दे उठाना चाह रहा था. मैं कांग्रेस के केंद्रीय नेतृत्व को कहना चाहता हूं कि वह चिंतन शिविर के साथ-साथ यहां की मुख्य समस्याओं पर चिंतन करे. मेवाड़ के लोगों ने वोट देकर कांग्रेस की सरकार बनाई है.
ADVERTISEMENT

उन्होंने कहा कि कांग्रेस को उनकी समस्याओं पर गौर करना चाहिए. दुर्भाग्य है कि पुलिस ने मेरे लोकतांत्रिक अधिकारों का दमन किया है.उदयपुर से निकलने के बाद मीणा के साथ भारी पुलिस बल तैनात रहा. अजमेर में भी मीणा और पुलिस के बीच नोकझोंक चलती रही.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
×
×