ADVERTISEMENTREMOVE AD

संजय राउत का बयान- ED के 3 अधिकारियों पर वसूली की शिकायत दर्ज, जांच करेगी पुलिस

संजय राउत ने सवाल करते हुए कहा कि ये करोड़ों का पैसा क्या PM रिलीफ फंड में जा रहा है, या किसी के घर में जा रहा है.

Published
न्यूज
3 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

मंबई में शिवसेना (Shivsena) नेताओं पर हो रही इनकम टैक्स विभाग (IT Department) की ताबड़तोड़ कार्रवाई के बीच संजय राउत ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जमकर हमला बोला. राउत ने कहा कि जब तक BMC के चुनाव नहीं होते तब तक हर वार्ड और शिवसेना कि शाखा में रेड पड़ती रहेगी. उन्होंने सवाल उठाते हुए कहा कि सिर्फ शिवसेना और टीएमसी के लोगों पर ही रेड क्यों हो रही है?

राउत ने कहा कि इनकम टैक्स और ED को हमने 50 नाम भेजे है, लेकिन उनपर कोई कार्रवाई क्यों नहीं हो रही है. उन्होंने कहा कि केंद्रीय मंत्री किरीट सोमैया और नागपुर के धवंगाले नाम के शख्स की 75 बोगस कंपनियों की लिस्ट मैंने एजेंसियों को दी हैं, लेकिन इनपर अभी तक कोई कार्रवाई नहीं है. लेकिन महाराष्ट्र के एमवीए के 14 प्रमुख और टीएमसी के 7 लोगों पर कार्रवाई हुई है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

संजय राउत ने कहा कि सुनील कुमार नरवर नाम का एक दूध बेचनेवाले शख्स की प्रॉपर्टी हजारों करोड़ से कैसे बढ़ गई. पहले वो नोयडा में रहता था, अब मुंबई के मलबार हिल में बड़ा घर है. उन्होंने कहा कि बीजेपी के कौन से नेता की बेनामी प्रॉपर्टी उसके पास है, उसकी जानकारी मैं जल्द दूंगा.

राउत ने कहा कि मैंने ED के वसूली एजेंट्स के बारे में बताया था. कुल 3 अधिकारी हैं. अभी तो ED के अधिकारी चुनाव भी लड़ने लगे हैं. मेरी जानकारी है कि एक ED के अधिकारी ने यूपी चुनाव में 50 उम्मीदवारों का खर्चा उठाया है. ED बीजेपी का एटीएम मशीन बन गई हैं. मैंने प्रधानमंत्री को इस बारे में पत्र लिखा हैं. ये सिर्फ एक पार्ट हैं. ऐसे 10 पार्ट में इस सिंडिकेट का खुलासा करूंगा.

0

राउत ने कहा कि ED की ओर से कॉरपोरेट्स और कुछ दलालों के साथ मिलकर ये गोरखधंधा शुरू किया गया है. उन्होंने कहा कि जितेंद्र चंद्रलाल नवलानी इस रैकेट को चलाता हैं. 7 कंपनियों के जरिये ये रैकेट चलता है. 100 से ज्यादा बिल्डरों से वसूली की है. जिसमें कैश और चेक पेमेंट भी हैं. ये ED के डायरेक्टर और जॉइंट डायरेक्टर्स के साथ मिलकर काम करता है.

संजय राउत ने कहा कि जब अविनाश भोसले के मामलों की जांच शुरू हुई तो भोसले से नवलानी के अकॉउंट में करोड़ों रुपये ट्रांसफर हो गए. गे लार्ड, यूनाइटेड फोसफरस, यूहान, HDIL जैसी कंपनियों से नवलानी की कंपनी में करोड़ो रूपये ट्रांसफर हुए है. किरीट सोमैया और नवलानी का क्या संबंध है ये स्पष्ट होना चाहिए. मुंबई और दिल्ली में बैठकर देश का सबसे बड़ा भ्रष्टाचार चल रहा हैं. मुंबई पुलिस कमिश्नर को हमारे शिवसैनिक अरविंद भोसले ने लिखित रूप में शिकायत की हैं. मुंबई पुलिस इस क्रिमिनल सिंडिकेट की आज से जांच शुरू कर रही है.

ADVERTISEMENT

संजय राउत ने सवाल करते हुए कहा कि ये करोड़ों का पैसा क्या PM रिलीफ फंड में जा रहा है, या किसी के घर में जा रहा है, या विदेश में जा रहा है. इसमें कौन बीजेपी से जुड़े लोग हैं ये भी सामने आएगा. किरीट सोमैया का राकेश वाधवानी के साथ संबंध क्या है जो PMC घोटाले का आरोपी है. मेरी अगली प्रेस कॉन्फ्रेंस में मैं ED के उन अधिकारियों का नाम लेकर बताऊंगा की वो कौन अधिकारी है जो महाविकास आघाडी पर भाजपा के इशारों पर कारवाई कर रहे है. मैं एक बार फिर यह बात स्पष्ट करना चाहता हूं कि महाविकास आघाडी इस तरह की बेबुनियाद कारवाई से नहीं डरेगी. महाविकास आघाड़ी मजबूत है और हमें जो टारगेट कर रहे है उनपर यह बूमरैंग होगा देखते रहिएगा.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

बता दें, मुंबई में शिवसेना नेताओं के घर इनकम टैक्स विभाग की छापेमारी शुरू है. जिसमें मंत्री आदित्य ठाकरे के करीबी और युवा सेना के पदाधिकारी राहुल कनाल निशाने पर हैं. राहुल कनाल के बांद्रा स्थित घर में आज सुबह से IT वीभाग के अधिकारी मौजूद है.

बताया जा रहा है कि कुछ दिनों पहले BMC के स्टैंडिंग कमिटी चेयरमैन यशवंत जाधव के घर हुई छापेमारी के तार कनाल से जुड़े हुए है. राहुल कनाल और यशवंत जाधव के बीच के कॉल्स और चैट्स के आधार पर IT ने कनाल के घर पूछताछ और छानबीन के लिए रेड मारी है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
×
×