ADVERTISEMENT

बिहार: 11 साल के सोनू की सीएम नीतीश कुमार से गुहार, 'हमको शिक्षा दे दो सरकार'

सोनू ने कहा कि वह पढ़ना चाहता है. इसलिए उसकी मदद की जाए.

Updated
राज्य
2 min read
ADVERTISEMENT

बिहार (Bihar) के नालंदा में 11 साल के एक बच्चे ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) से बेहतर शिक्षा की गुहार लगाई है. सोनू ने एक तरफ मुख्यमंत्री को अपनी फरियाद सुनाई तो दूसरी तरफ बातों-बातों में उसने सीएम के गृह जिले नालंदा की पोल भी खोल दी. सोनू ने कहा कि वह पढ़ना चाहता है. इसलिए उसकी मदद की जाए. इसके साथ ही सोनू ने शराबबंदी और सरकारी स्कूलों की गुणवत्ता पर भी सवाल खड़े किए.

दरअसल, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार शनिवार को अपनी पत्नी स्वर्गीय मंजू सिन्हा की 16वीं पुण्यतिथि के मौके पर कल्याण बिगहा गांव पहुंचे थे. इस दौरान उन्होंने कल्याण बिगहा मध्य विद्यालय में लोगों की समस्याएं भी सुनीं. इस दौरान 11 साल का छात्र सोनू कुमार भी सीएम के पास अपनी फरियाद लेकर पहुंच गया. सोनू ने सीएम से बेहतर शिक्षा मुहैया करवाने की गुहार लगाई है.

सोनू ने खोली शिक्षा व्यवस्था की पोल

छात्र सोनू कुमार ने बताया कि वह मध्य विद्यालय नीमा कौल के सरकारी स्कूल में पढ़ता है. जहां उसे अच्छी शिक्षा नहीं मिल पा रही है. मीडिया से बातचीत में सोनू ने कहा कि,

"मुझे शिक्षा चाहिए. सरकारी स्कूलों में अच्छी शिक्षा नहीं मिलती है." इसके साथ ही सोनू ने कहा कि "सरकारी स्कूलों में पढ़ाई नहीं होती है. शिक्षकों को भी नहीं आता है."

इसके साथ ही एक शिक्षक का नाम लेते हुए सोनू ने कहा कि उन्हें इंग्लिश पढ़ने में भी दिक्कत होती है.

पिता पर शराब पीने का आरोप

बच्चे ने अपने पिता पर शराब पीने का भी आरोप लगाया है. सोनू ने कहा कि "मेरे पिता शराब पीते हैं, उसमें हमारा सारा पैसा खत्म हो जाता है. और हम जो पढ़ाकर लाते हैं वो पैसा भी ले लेते हैं." आपको बता दें कि बिहार में शराब बंदी है.

सीएम ने अधिकारियों को दिये निर्देश

सीएम नीतीश कुमार ने सोनू की फरियाद सुनने के बाद अधिकारियों को बच्चे की अच्छी शिक्षा की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं. सीएम ने कहा कि ये पढ़ना चाहता है. लेकिन अभिभावक नहीं पढ़ा पा रहे. इसकी पढ़ाई का इंतजाम कीजिए. सोनू ने बताया कि वो पढ़ाई करके IAS-IPS बनना चाहता है.

इनपुट- तनवीर

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
×
×