ट्यूशन जाती बच्ची के साथ गैंगरेप के आरोपी को UP पुलिस ने मारी गोली

मेरठ में 10वीं क्लास की लड़की से 4 लोगों पर गैंगरेप का आरोप

Updated
राज्य
2 min read
क्राइम सीन का प्रतीकात्मक फोटो 
i

यूपी के मेरठ में गैंगरेप के एक आरोपी को पुलिस के साथ एनकाउंटर में गोली लग गई. इस मामले में पुलिस दो आरोपियों को कोर्ट लेकर आई थी, जहां दोनों आरोपियों ने पुलिस हिरासत से भागने की कोशिश की. इसके बाद पुलिस के साथ हुई मुठभेड़ में एक आरोपी को गोली लग गई.

पुलिस से पिस्टल छीनकर भागा गैंगरेप का आरोपी

पुलिस ने बताया कि मेरठ में 10वीं क्लास की छात्रा से गैंगरेप के 2 आरोपियों लखन और विकास को शनिवार को गिरफ्तार किया गया था. इसके बाद उन्हें कोर्ट लाया गया. आरोपी पुलिस इंस्पेक्टर की पिस्टल छीनकर भाग गए.

मेरठ ग्रामीण के एसपी केशव कुमार ने कहा कि, कोर्ट से आरोपियों के फरार होने के बाद मेरठ पुलिस के सर्विलांस डिपार्टमेंट और सरधाना पुलिस स्टेशन के जवानों ने ऑपरेशन लॉन्च किया और आरोपियों को कापसाड गांव के पास घेर लिया. इस दौरान आरोपी लखन ने फायरिंग की और जवाबी फायरिंग में उसके पैर मे गोली लग गई. दोनों आरोपियों को पकड़ लिया गया और आरोपी लखन को इलाज के लिए स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया.

क्या है मामला?

मेरठ में एक युवती के साथ कथित रूप से 4 लोगों ने बलात्कार किया (जिनमें से दो अभी भी फरार हैं), लड़की के रिश्तेदारों का आरोप है कि उसे जबरन जहरीला पदार्थ खाने को भी मजबूर किया गया, जिससे उसकी मौत हो गई.

इस मामले में परिजनों ने एफआईआर दर्ज कराई है. जिसमें कहा गया कि, लड़की दोपहर 3.30 बजे घर से निकली थी और शाम 5.15 बजे घर लौटी. इसके बाद उसने परिवार वालों को अपने साथ हुए बलात्कार और उत्पीड़न की बात बताई.

FIR में यह भी कहा गया है कि लड़की को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया, लेकिन इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.

मेरठ ग्रामीण के एसपी केशव कुमार ने कहा कि, जैसे ही हमें इस मामले की शिकायत मिली. हमने केस दर्ज करके जांच पड़ता शुरू की. लड़की के घर से सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है. जिसमें लखन और अन्य लोगों के नाम शामिल हैं. इस मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है. मुख्य आरोपी लखन, लड़की के साथ ट्यूशन पढ़ने जाता था.

मेरठ में हुई बलात्कार की इस घटना के बाद विपक्ष ने कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर योगी सरकार पर हमला बोला है.

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अन्य राज्यों में बीजेपी का प्रचार करने के बजाय, उत्तर प्रदेश पर ध्यान दें और राज्य में होने वाले अपराधों पर लगाम लगाएं.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!