ADVERTISEMENTREMOVE AD

UP: चरणों की चरणवंदना से मोहब्बत, तीखे सवालों से दिक्कत?

Sambhal में पत्रकार संजय राणा की गिरफ्तारी पर समाजवादी पार्टी ने बीजेपी सरकार पर निशाना साधा है.

Updated
न्यूज
3 min read
छोटा
मध्यम
बड़ा
ADVERTISEMENTREMOVE AD

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के संभल में एक पत्रकार को योगी सरकार में मंत्री गुलाब देवी से सवाल करना भारी पड़ गया. बीजेपी नेता की शिकायत पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर पत्रकार संजय राणा को गिरफ्तार कर लिया. पत्रकार की गिरफ्तारी पर समाजवादी पार्टी ने बीजेपी सरकार पर निशाना साधा है.

0

पत्रकार को क्यों किया गया गिरफ्तार?

पत्रकार संजय राणा पर पुलिस ने मंत्री गुलाब देवी के सरकारी कार्यक्रम में व्यवधान डालने और बीजेपी नेता से मारपीट करने व जान से मारने की धमकी देने के आरोप में चंदौसी कोतवाली केस दर्ज किया है.

सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल

इस बीच, पत्रकार और मंत्री के बीच हुए सवाल-जवाब का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है. बताया जा रहा है कि बीजेपी युवा मोर्चा के जिला मंत्री शुभम राघव की शिकायत पर संजय राणा पर मुकदमा दर्ज किया गया है.

संजय राणा का कहना है,

मैंने कोई गलत काम नहीं किया है. मंत्री ने पुलिस से कहा है कि इस लड़के ने मुझसे क्यों सवाल-जवाब किया? मैंने कोई गाली-गलौज नहीं की, मेरे पास पूरा वीडियो है. मेरे ऊपर लगे सारे आरोप गलत हैं.
संजय राणा, पत्रकार

समाजवादी पार्टी ने उठाए सवाल

संजय राणा की गिरफ्तारी पर समाजवादी पार्टी ने कहा है कि BJP सिर्फ चाटुकार पत्रकारिता चाहती है. समाजवादी पार्टी मीडिया सेल की तरफ से किए गए ट्वीट में कहा गया, "संभल में ग्राउंड रिपोर्टर संजय राणा ने BJP सरकार में मंत्री गुलाब देवी से विकास के मुद्दे पर सवाल पूछे तो मंत्री महोदया ने पत्रकार को जेल में डलवा दिया. ये BJP सरकार में अघोषित इमरजेंसी और तानाशाही नहीं तो और क्या है? BJP सिर्फ चाटुकार पत्रकारिता चाहती है, सवाल पूछना मना है?"

ADVERTISEMENTREMOVE AD

क्या है मामला?

संभल के बुद्धनगर खंडवा गांव में 11 मार्च को माध्यमिक शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) गुलाब देवी चेक डैम के शिलान्यास कार्यक्रम में शामिल होने पहुंची थी. इस दौरान पत्रकार ने मंत्री द्वारा चुनाव पूर्व किए गए वादे की याद दिलाई और पूछा कि आपने जो कहा वो अब तक नहीं हुआ है. गांव में तमाम मूलभूत सुविधाओं की कमी है, वो सब कब पूरा होगा?

वायरल वीडियो में संजय राणा को ये कहते हुए सुना जा सकता है,

"बुद्धनगर में एक भी बारातघर नहीं है, ना ही यहां पर सरकारी शौचालय है, आपने कहा था कि मंदिर से लेकर इस रोड को पक्का कराऊंगी, अभी तक ये रास्ता कच्चा है, बाइक से क्या पैदल चलने वाले लोग परेशान हो जाते हैं. आपने देवी मां के मंदिर की बाउंड्री का वादा भी किया था, आपने अभी तक उस पर भी कार्रवाई नहीं की, आपके दफ्तर पर गांव के लोग गए, वहां भी सुनवाई नहीं हुई."

इसी दौरान वीडियो में एक दूसरी महिला की आवाज आती है जो संजय राणा से कहती है कि "आप समस्या रख रहे हो या अपना प्रचार कर रहे हो?"

वहीं वीडियो में आगे उत्तर प्रदेश सरकार में माध्यमिक शिक्षा विभाग की स्वतंत्र प्रभार मंत्री गुलाब देबी संजय राणा से कहती हैं,

"तेरी निगाहें मैं बहुत देर से पहचान रही थी, जब तू वहां खड़ा था तब भी मैं तेरी निगाहें पहचान रही थी, जो बातें तूने कहीं हैं, ये सारी बातें ठीक हैं, अभी समय नहीं निकला है, गांव कुंदनपुर तू भूल गया, कुंदनपुर भी मेरा, बुद्धनगर भी मेरा है, ये दोनों ही गांव मेरे हैं, मैंने जो भी वादे किए हैं, मैं उन्हें पूरा करूँगी. जो काम तुमने बताए हैं, सभी काम होंगे."

बता दें कि बीजेपी कार्यकर्ता शुभम राघव नाम की शिकायत पर संजय राणा के खिलाफ आईपीसी की धारा 323, 504 और 506 के तहत FIR दर्ज की गई है और उसे गिरफ्तार कर लिया गया है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENTREMOVE AD
Published: 
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×