ADVERTISEMENT

4 से ज्यादा ATM ट्रांजैक्शन पर लगेगा 173 रुपए चार्ज? सच जानिए

RBI के मुताबिक फ्री ट्रांजैक्शन की तय संख्या से ज्यादा बार ट्रांजैक्शन करने पर 20 रु से ज्यादा फीस नहीं ली जा सकती.

<div class="paragraphs"><p>150 रुपये चार्ज वाला ये मैसेज गलत है</p></div>
i

WhatsApp सहित दूसरे सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म्स पर ATM से तय सीमा से ज्यादा निकासी को लेकर एक दावा काफी शेयर हो रहा है. दावे में केंद्र सरकार को सवालों के घेरे में लेते हुए बताया गया है कि 1 जून से अगर आप बैंक की ओर से तय सीमा से ज्यादा बार ATM से कैश निकालते हैं तो 150 रुपये टैक्स के साथ 23 रुपये सर्विस चार्ज मिलाकर कुल 173 रुपये चार्ज के तौर पर वसूले जाएंगे.

हालांकि, पड़ताल में ये दावा गलत निकला, क्योंकि RBI की गाइडलाइन के मुताबिक सीमा से ज्यादा बार ATM से निकासी पर 20 रुपये से ज्यादा शुल्क नहीं वसूला जा सकता है. हमने कई बैंकों की वेबसाइट पर भी चेक किया और हमें इस तरह की कोई जानकारी नहीं मिली जो वायरल मैसेज में बताई जा रही है.

दावा

WhatsApp पर काफी शेयर हो रहे इस मैसेज में लिखा है कि: 'हो गई अच्छे दिन की शुरआत. ATM से 4 बार से अधिक पैसा निकलने पर 150 रु टैक्स और 23 रुपये सर्विस चार्ज मिलाकर कुल 173 कटेंगे .. एक और तोहफा। 1 जून से बैंक में 4 ट्रांसेक्शन के बाद हर ट्रांसेक्शन पर 150 रुपये चार्ज लगेगा। जनता के गले पर एक बार में छुरा क्यों नहीं फेर देते??कमाओ तो टैक्स , बचाओ तो टैक्स और तो और बैंक में जमा कराओ तो टैक्स फिर वापस निकालो तो टैक्स ( आप सभी से आग्रह इसे आगे फ़ॉरवर्ड करें ) चुप बैठ कर न सहें ।'

<div class="paragraphs"><p>ये मैसेज WhatsApp पर काफी शेयर किया जा रहा है</p></div>

ये मैसेज WhatsApp पर काफी शेयर किया जा रहा है

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/WhatsApp)

ये दावा फेसबुक और ट्विटर पर भी शेयर किया जा रहा है. इनके आर्काइव आप यहां, यहां, यहां और यहां देख सकते हैं.

ADVERTISEMENT

पड़ताल में हमने क्या पाया

ATM ट्रांजैक्शन से जुड़ी फीस और चार्ज की जानकारी के लिए हमने सबसे पहले RBI का साइट पर देखा. हमें जनवरी 2020 की एक गाइलाइन मिली जिसके मुताबिक, मुफ्त ट्रांजैक्शन की निर्धारित संख्या से ज्यादा बार ट्रांजैक्शन करने पर, ट्रांजैक्शन से संबंधित फीस ली जा सकती है. लेकिन बैंक की ओर से ये फीस 20 रुपये (और सेवाकर, अगर कोई हो) से ज्यादा नहीं वसूली जा सकती.

<div class="paragraphs"><p>RBI की गाइडलाइन के मुताबिक 20 रुपये वसूले जा सकते हैं</p></div>

RBI की गाइडलाइन के मुताबिक 20 रुपये वसूले जा सकते हैं

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/RBI)

इसके अलावा, हमने गूगल पर दावे से संबंधित कीवर्ड सर्च करके देखा. हमें 2017 की कुछ न्यूज रिपोर्ट मिलीं. जिसमें इस बारे में जानकारी दी गई थी कि कुछ बैंक्स जैसे कि HDFC, AXIS और ICICI तय कैश ट्रांजैक्शन लिमिट से ऊपर कैश ट्रांजैक्शन करने पर 150 रुपये प्रति लेने-देन वसूलेंगे. लेकिन ये नियम एटीएम से जुड़े ट्रांजैक्शन पर नहीं बल्कि कैश ट्रांजैक्शन के लिए थे.

हमने जब HDFC बैंक की ऑफिशियल साइट पर जाकर देखा, तो हमें एटीएम चार्ज को लेकर जो जानकारी मिली उसके मुताबिक, निर्धारित संख्या के ऊपर ट्रांजैक्शन करने पर 20 रुपये और लागू टैक्स जोड़कर शुल्क वसूला जाएगा.

<div class="paragraphs"><p>HDFC की साइट से मिली जानकारी</p></div>

HDFC की साइट से मिली जानकारी

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/HDFC)

ADVERTISEMENT

हमने ICICI बैंक के एटीएम से जुड़े चार्ज भी देखे. हमें ICICI का एक नोटिफिकेशन मिला जिसके मुताबिक निर्धारित संख्या से ज्यादा एटीएम ट्रांजैक्शन पर 20 रुपये और टैक्स वसूला जाएगा.

<div class="paragraphs"><p>ICICI वेबसाइट से मिली जानकारी</p></div>

ICICI वेबसाइट से मिली जानकारी

(सोर्स: वेबसाइट/ICICI)

इसके बाद हमने AXIS बैंक की वेबसाइट पर भी जाकर चेक किया. AXIS बैंक में दी गई जानकारी के मुताबिक तय सीमा से ज्यादा बार ट्रांजैक्शन करने पर 20 रुपये शुल्क वसूला जाएगा. वहीं नॉन फाइनैंशियल ट्रांजैक्शन जैसे कि बैलेंस इंक्वायरी करने पर 10 रुपये वसूल जाएंगे.

<div class="paragraphs"><p>AXIS बैंक वेबसाइट से मिली जानकारी</p></div>

AXIS बैंक वेबसाइट से मिली जानकारी

(सोर्स: वेबसाइट/AXIS बैंक)

हमने SBI की साइट पर भी जाकर देखा. SBI की साइट पर मिली जानकारी के मुताबिक 150 रुपये नहीं, बल्कि 20 रुपये और टैक्स मिलाकर प्रति ट्रांजैक्शन काटे जाएंगे, वो भी तब जब आप तय सीमा से ज्यादा ट्रांजैक्शन करेंगे और दूसरे बैंक के एटीएम से करेंगे. अगर आप SBI के ही एटीएम से तय सीमा से ज्यादा निकासी करते हैं, तो ये चार्ज 10 रुपये और टैक्स जोड़कर लिया जाएगा. वहीं नॉन फाइनैंशियल ट्रांजैक्शन के चार्ज भी आप नीचे देख सकते हैं.

<div class="paragraphs"><p>SBI साइट से मिली जानकारी</p></div>

SBI साइट से मिली जानकारी

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/SBI)

हमने PNB बैंक की साइट पर भी जाकर देखा, लेकिन हमें 150 रुपये शुल्क से संबंधित ऐसी कोई जानकारी नहीं मिली.

ADVERTISEMENT

हालांकि, हमारे पास तय सीमा से ज्यादा एटीएम ट्रांजैक्शन पर, सभी बैंकों की ओर से लिए जाने वाले शुल्क की जानकारी नहीं है. लेकिन, RBI की जनवरी 2020 की गाइडलाइन के मुताबिक कोई भी बैंक 20 रुपये से ज्यादा शुल्क नहीं ले सकता. और यहां पर ध्यान देने वाली बात ये है कि अलग-अलग बैंक्स अपने ग्राहकों को अलग-अलग तरह के सेविंग अकाउंट और दूसरे तरह के अकाउंट खोलने की भी सुविधा देते हैं. साथ ही, एटीएम से जुड़ी सेवाओं में भी भिन्नता होती है.

क्या हैं एटीेएम ट्रांजैक्शन से जुड़े RBI के नियम

  • ग्राहक अपने बैंक के एटीएम से महीने में कम से कम 5 बार निःशुल्क पैसे निकाल सकता है. चाहे वो एटीएम किसी भी जगह लगा हो.
  • ग्राहक मेट्रो सिटी (मुंबई, नई दिल्ली, चेन्नई, कोलकाता, बेंगलुरु और हैदराबाद) में स्थित किसी और बैंक के एटीएम से पैसे निकाल रहा है, तो वो महीने में कम से कम 3 बार निःशुल्क लेनदेन कर सकता है.
  • वहीं, अन्य शहरों में किसी और बैंक के एटीएम से पैसे निकालने पर यह छूट पांच ट्रांजैक्शन तक है.

क्या कोई बैंक एटीएम में और अधिक संख्या में मुफ्त लेनदेन की पेशकश कर सकता है?

RBI के गाइडलाइन के मुताबिक, RBI ने बैंकों के लिए न्यूनतम जरूरी मुफ्त ट्राजैंक्शन की संख्या तय की है, जिसे बैंक अपने विवेक से बढ़ा सकते हैं. गाइडलाइन में लिखा है..

RBI ने एटीएम में मुफ्त ट्रांजैक्शन की न्यूनतम संख्या अनिवार्य की है. बैंक अपने ग्राहकों को और अधिक संख्या में नि: शुल्क लेनदेन प्रदान कर सकते हैं
ADVERTISEMENT

मतलब साफ है कि ये दावा गलत है कि 1 जून से तय सीमा से ऊपर एटीएम ट्रांजैक्शन करने पर 173 रुपये काटे जाएंगे. इस बारे में न तो RBI ने कोई गाइडलाइन जारी की है और न ही सरकार ने.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
Published: 
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT