ADVERTISEMENT

'सिखों को सेना से हटाने' के लिए नहीं हुई कोई कैबिनेट मीटिंग, एडिटेड वीडियो वायरल

ये वीडियो एयर क्रैश में CDS रावत के निधन के बाद, 8 दिसंबर को पीएम मोदी की ओर से बुलाई गई मीटिंग की है.

Published
'सिखों को सेना से हटाने' के लिए नहीं हुई कोई कैबिनेट मीटिंग, एडिटेड वीडियो वायरल
i

सोशल मीडिया पर एक 30 सेकंड का एडिटेड वीडियो शेयर किया जा रहा है. वीडियो में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण, विदेशमंत्री एस जयशंकर और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के साथ बैठक की अध्यक्षता करते दिख रहे हैं. वीडियो शेयर कर दावा किया जा रहा है कि ''सिखों को सेना से हटाने'' के लिए ये मीटिंग की गई है.

इस वीडियो में मंत्री बैठे दिख रहे हैं और किसी को ये कहते सुना जा सकता है कि, ''सभी पंजाबी सैनिकों, जनरलों को ऊपर से नीचे तक हटा दो और मैं कह रहा हूं कि इससे चीजें बेहतर होंगी.''

ADVERTISEMENT
पीएम मोदी का काफिला 5 जनवरी को पंजाब के हुसैनीवाला में राष्ट्रीय शहीद स्मारक के रास्ते में फंस गया था. ऐसे समय ये दावा सोशल मीडिया पर वायरल किया जा रहा है.

हालांकि, हमने पाया कि वीडियो के साथ छेड़छाड़ कर इसमें अलग से ऑडियो जोड़ा गया है.

  • ये वीडियो 8 दिसंबर का है, जब भारत के पहले चीफ ऑफ डिफेंस (CDS) बिपिन रावत और उनकी पत्नी की हेलीकॉप्टर दुर्घटना में हुई मौत के बाद पीएम मोदी ने दिल्ली में कैबिनेट कमेटी ऑन सिक्योरिटी (CCS) मीटिंग बुलाई थी.

  • सुनाई दे रहे ऑडियो में तारीख के बारे में कुछ नहीं बताया गया है, जो कथित तौर पर राइट विंग क्लबहाउस रूम का है. इसका ऑडियो अब वायरल हुआ है.

इसके अलावा, दिल्ली पुलिस ने धारा 153 ए (धर्म के आधार पर विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देना) के तहत मामला दर्ज किया है और जांच जारी है

ADVERTISEMENT

दावा

'Eshal Kaur नाम के एक अकाउंट से शेयर किए गए वीडियो के साथ दावा किया गया है कि टॉप के मंत्रियों ने "सिखों को सेना से हटाने" पर चर्चा की.

स्टोरी लिखे जाने तक वीडियो को 47,000 से ज्यादा बार देखा जा चुका था.

पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/ट्विटर)

वीडियो कई सोशल मीडिया यूजर्स ने शेयर किया है. इनके आर्काइव आप यहां, यहां, यहां, यहां, यहां और यहां देख सकते हैं.

दिलचस्प बात ये है कि ये सभी अकाउंट सिख महिलाओं के नाम हैं, जिन्हें अक्टूबर-नवंबर 2021 के बीच बनाया गया था और इनके फॉलोअर्स काफी कम हैं.
ADVERTISEMENT

पड़ताल में हमने क्या पाया

हमने पाया कि ऑडियो को दिल्ली में सुरक्षा पर कैबिनेट कमेटी (CCS) की मीटिंग की अध्यक्षता करते प्रधानमंत्री के वीडियो में जोड़ा गया है. आइए एक-एक करके वीडियो और ऑडियो पर एक नजर डालते हैं.

कहां का है वीडियो?

हमने गूगल पर 'PM Modi chairs meeting defence minister' कीवर्ड का इस्तेमाल कर सर्च किया और हमें Times of India पर 8 दिसंबर को पब्लिश एक वीडियो मिला.

इस रिपोर्ट के मुताबिक, ये CDS बिपिन रावत और उनकी पत्नी मधुलिका रावत सहित 12 अन्य जवानों के हेलीकॉप्टर के दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद पीएम मोदी की अध्यक्षता में हुई बैठक का वीडियो है.

बाएं 8 दिसंबर का वीडियो,दाएं वायरल वीडियो

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/Times of India/Viral Video)

इस बैठक में गृहमंत्री शाह, विदेश मंत्री जयशंकर, एनएसए डोभाल, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण उपस्थित थे.

वीडियो में न्यूज एजेंसी ANI को क्रेडिट दिया गया था, इसलिए हमने ANI की वेबसाइट पर भी वीडियो को सर्च किया और पाया कि ये वीडियो उसी तारीख को उनकी वेबसाइट पर भी अपलोड किया गया था.

कई दूसरे न्यूज चैनलों ने भी इस वीडियो को चलाया था, लेकिन ऐसा कोई ऑडियो उनमें नहीं सुना जा सकता है जो वायरल वीडियो में सुनाई दे रहा है.

ADVERTISEMENT

ऑडियो कहां का है?

जिस ऑडियो में एक शख्स को भारतीय सेना में सिखों के खिलाफ बोलते सुना जा सकता है, वो कथित तौर पर क्लबहाउस में हुई एक बातचीत का है.

ट्विटर पर कई लोगों ने इस बातचीत की स्क्रीन रिकॉर्डिंग ट्विटर पर शेयर की थी. इसे सबसे पहले 5 जनवरी को एक ट्विटर यूजर ने अपलोड किया था. (नोट: हमने स्टोरी में ऑडियो नहीं एंबेड किया है, लेकिन आप ट्वीट का एक आर्काइव यहां देख सकते हैं.)

OpIndia की नूपुर शर्मा इस क्लब हाउसे के स्क्रीनशॉट में भी देखा जा सकता है. उन्होंने दावा किया कि ये बातचीत महीनों पहले हुई थी.

हम ऑडियो क्लिप को स्वतंत्र रूप से वेरिफाई नहीं कर पाए, लेकिन ये साफ है पीएम की अध्यक्षता में हुई मीटिंग के वीडियो में अलग से एक ऑडियो जोड़कर उसे गलत दावे से शेयर किया जा रहा है.

(स्टोरी में SM Hoax Slayer से मिले इनपुट शामिल हैं)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
Speaking truth to power requires allies like you.
Q-इनसाइडर बनें
450

500 10% off

1500

1800 16% off

4000

5000 20% off

प्रीमियम

3 माह
12 माह
12 माह
Check Insider Benefits
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
और खबरें
×
×