UP सरकार को निशाना बनाने के लिए ओडिशा का वीडियो हो रहा सर्कुलेट
ओडिशा के एक वीडियो को ट्विटर और फेसबुक पर इस दावे के साथ शेयर किया जा रहा है कि यह उत्तर प्रदेश का है. 
ओडिशा के एक वीडियो को ट्विटर और फेसबुक पर इस दावे के साथ शेयर किया जा रहा है कि यह उत्तर प्रदेश का है. (फोटो सोर्स : फेसबुक / altered by Quint Hindi)

UP सरकार को निशाना बनाने के लिए ओडिशा का वीडियो हो रहा सर्कुलेट

दावा

अतिक्रमण के खिलाफ अभियान का एक वीडियो को फेसबुक और ट्विटर पर इस दावे के साथ शेयर किया जा रहा है कि उत्तर प्रदेश सरकार ने भारत को "गरीब मुक्त" बनाने की दिशा में पहला कदम उठाया है. वीडियो के साथ कैप्शन में लिखा है, "गरीबी मुक्त भारत बनाने की तैयारी, उत्तर प्रदेश से शुरू.”

इस वीडियो को एक 10 लाख से ज्यादा बार देखा गया है और 52,000 से ज्यादा बार शेयर किया गया है.

(फोटो : स्क्रीनशॉट)

वीडियो को ट्विटर पर भी बड़े पैमाने पर शेयर किया गया है.

(फोटो : स्क्रीनशॉट)

ये भी पढ़ें : क्या AAP विधायक अमानतुल्लाह ने कहा था-‘हम शरीया बनेंगे’? सच जानिए

Loading...

दावा सही या गलत?

वीडियो को उत्तर प्रदेश सरकार को निशाना बनाने के लिए गलत तरीके से इस्तेमाल किया गया है. सच्चाई ये है कि ये वीडियो ओडिशा के भुवनेश्वर का है.
ओडिशा टेलीविजन पर प्रसारित एक रिपोर्ट के मुताबिक, यह घटना जनवरी 2020 में हुई थी और इसमें दिख रहा है कि सड़क पर अतिक्रमण की जगह खाली कराने के एक अभियान के दौरान BMC द्वारा फलों की रेहड़ियों को बुलडोजर से हटाया जा रहा है.

पड़ताल में क्या मिला

वीडियो पर आए एक कमेंट में सुझाव दिया गया कि वीडियो उत्तर प्रदेश का नहीं बल्कि भुवनेश्वर का है.

(फोटो : स्क्रीनशॉट)

यहां से एक संकेत लेते हुए हमने ‘Odisha Bhubaneswar eviction drive street vendor’ कीवर्ड के साथ यूट्यूब पर सर्च किया और OTV द्वारा अपलोड किए गए एक वीडियो तक पहुंचे. यह वीडियो 24 जनवरी, 2020 को अपलोड किया गया था, जिसमें कहा गया था कि BMC ने अतिक्रमण के खिलाफ अभियान के दौरान इन रेहड़ियों को नष्ट कर दिया था.

हालांकि यह वीडियो एक अलग एंगल से लिया गया था, लेकिन हमने वायरल वीडियो के फ्रेम को OTV द्वारा अपलोड किए गए वीडियो के साथ मिलान किया.

(फोटो : स्क्रीनशॉट)

हम एक और फ्रेम से मेल कर सकते हैं जिसमें एक आदमी को बीएमसी क्रेन की ओर रेहड़ी को धकेलते हुए देखा जा सकता है.

(फोटो : स्क्रीनशॉट)

जाहिर है, उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ सरकार को निशाना बनाने के लिए भुवनेश्वर के एक वीडियो को सर्कुलेट किया जा रहा है.

(क्या आपको ऑनलाइन पोस्ट की गई किसी जानकारी के बारे में यकीन नहीं हैं और इसे सत्यापित करना चाहते हैं? 9643651818 पर हमें वॉट्सऐप पर विवरण भेजें, या इसे हमें webqoof@thequint.com पर ई-मेल करें और हम आपके लिए इसकी पड़ताल करेंगे.)

ये भी पढ़ें- केजरीवाल के रोड शो में एक शख्स की मॉब लिंचिंग हुई? सच जानिए

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Follow our वेबकूफ section for more stories.

    Loading...