ADVERTISEMENTREMOVE AD

Kedarnath हादसे की बताकर बीजेपी, कांग्रेस नेताओं ने पुरानी फोटो शेयर की

फोटो साल 2015 से इंटरनेट पर मौजूद है. कई वेबसाइट्स ने इसके पहले इसका इस्तेमाल प्रतीकात्मक तस्वीर के रूप में किया है

छोटा
मध्यम
बड़ा

उत्तराखंड (Uttarakhand) में 18 अक्टूबर को श्रद्धालुओं को लेकर जा रहा एक हेलीकॉप्टर क्रैश हो गया. इस हादसे में पायलट सहित 7 लोगों की मौत हो गई. ऐसे में इसी हादसे से जोड़कर सोशल मीडिया पर एक तस्वीर शेयर की जा रही है. तस्वीर में एक हेलीकॉप्टर हवा में क्रैश होते दिख रहा है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

फोटो को कई BJP और कांग्रेस (Congress) नेताओं के वेरिफाइड ट्विटर हैंडल से केदारनाथ में हुए क्रैश से जोड़कर शेयर किया गया है. हालांकि, पड़ताल में हमने पाया कि फोटो का उत्तराखंड में हुए हादसे से कोई संबंध नहीं है. फोटो मार्च 2015 से ही इंटरनेट पर मौजूद है.

0

दावा

BJP के ओबीसी मोर्चा के सोशल मीडिया इंचार्ज राहुल गुर्जर ने फोटो शेयर किया. कैप्शन में उन्होंने हादसे में मारे गए लोगों को लेकर अपनी संवेदनाएं जताते हुए इसी फोटो को शेयर किया है.

फोटो साल 2015 से इंटरनेट पर मौजूद है. कई वेबसाइट्स ने इसके पहले इसका इस्तेमाल प्रतीकात्मक तस्वीर के रूप में किया है

पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/ट्विटर)

इसके अलावा, फोटो के राजस्थान के विराटनगर से विधायक और कांग्रेस नेता इंद्राज गुर्जर, कुशीनगर से बीजेपी विधायक पी एन पाठक, कांग्रेस के जितेंद्र बघेल सहित कई दूसरे सोशल मीडिया यूजर्स ने भी शेयर किया है.

इनमें से कुछ के आर्काइव आप यहां, यहां और यहां देख सकते हैं.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

पड़ताल में हमने क्या पाया

फोटो को हमने गूगल पर रिवर्स इमेज सर्च किया. इससे हमें Deccan Herald की 20 मई 2020 की रूस में हुए एक हेलीकॉप्टर क्रैश से जुड़ी एक रिपोर्ट मिली, जिसमें इसी फोटो का इस्तेमाल किया गया था. हालांकि, फोटो में स्टॉक फोटो वेबसाइट iStock को क्रेडिट दिया गया था. साथ ही ये भी लिखा गया था कि ये फोटो प्रतीकात्मक है.

फोटो साल 2015 से इंटरनेट पर मौजूद है. कई वेबसाइट्स ने इसके पहले इसका इस्तेमाल प्रतीकात्मक तस्वीर के रूप में किया है

Deccan Herald ने इसे प्रतीकात्मक फोटो बताया था.

(फोटो: स्क्रीनशॉट/Deccan Heral/Altered by the Quint)

यहां से क्लू लेकर हमने फोटो को iStock में खोजा. हमें हूबहू यही फोटो मिली, जिसे 24 मार्च 2015 को वेबसाइट पर अपलोड किया गया था. फोटो के लिए किसी Giocalde नाम के फोटोग्राफर को क्रेडिट दिया गया था.

फोटो साल 2015 से इंटरनेट पर मौजूद है. कई वेबसाइट्स ने इसके पहले इसका इस्तेमाल प्रतीकात्मक तस्वीर के रूप में किया है

ये फोटो 2015 में अपलोड की गई थी.

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/iStock)

हमें Dreamstime नाम की एक और फोटो वेबसाइट पर यही तस्वीर मिली और उस पर भी Giocalde को ही क्रेडिट दिया गया था.

इस नाम पर क्लिक करने से हमें IStock पर एक प्रोफाइल मिली. यहां Helicopter कीवर्ड सर्च करने से हमें कुछ तस्वीरें मिलीं. इनमें से एक तस्वीर वायरल फोटो से पूरी तरह मेल खा रही थी. इसमें हेलीकॉप्टर की पोजीशन हुबूहू वायरल फोटो जैसी है, बस उसमें कोई धमाका नहीं दिख रहा.

फोटो साल 2015 से इंटरनेट पर मौजूद है. कई वेबसाइट्स ने इसके पहले इसका इस्तेमाल प्रतीकात्मक तस्वीर के रूप में किया है

दोनों तस्वीरों की तुलना

(सोर्स : Twitter/iStock/Altered by The Quint)


इस फोटो के कैप्शन में तारीख 9 सितंबर 2012 बताई गई है. और बताया गया है कि ये इटली के वलडागनो (Valdagno) की है. फोटो का क्रेडिट जिस Giocalde को दिया गया है, हमने उनसे भी संपर्क किया. जवाब आते ही इस स्टोरी को अपडेट किया जाएगा.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

इस फोटो का इस्तेमाल Economic Timesऔर The Statesman जैसी कई वेबसाइट्स ने प्रतीकात्मक फोटो की तरह ही किया है.

हमने फोटोग्राफर Giocalde की प्रोफाइल सर्च करने की कोशिश की, लेकिन हमें उनकी प्रोफाइल नहीं मिली. लेकिन ये साफ है कि ये फोटो उत्तराखंड हेलीकॉप्टर क्रैश की नहीं है.

क्या हुआ है केदारनाथ में?

उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग जिले के गरुड़चट्टी में मंगलवार 18 अक्टूबर को सुबह करीब 11:40 पर एक हेलीकॉप्टर क्रैश हो गया. जिसमें 7 लोगों की जान चली गई.

फोटो साल 2015 से इंटरनेट पर मौजूद है. कई वेबसाइट्स ने इसके पहले इसका इस्तेमाल प्रतीकात्मक तस्वीर के रूप में किया है

केदारनाथ के पास हेलीकॉप्टर क्रैश

(फोटो: PTI)

एक डीजीसीए अधिकारी ने कहा, आर्यन एविएशन बेल-407 हेलीकॉप्टर वीटी-आरपीएन यात्रियों के साथ केदारनाथजी धाम से गुप्तकाशी के लिए रवाना हुआ था. और गरुड़ चट्टी के पास हेलीकॉप्टर में आग लग गई.

Indian Express की रिपोर्ट के मुताबिक, खराब मौसम की वजह से हेलीकॉप्टर एक पहाड़ी से टकरा गया था.

उत्तराखंड सीएम पुष्कर सिंह धामी ने ट्वीटर कर दुर्घटना पर दुख व्यक्त किया है और कहा कि इसकी ''विस्तृत जांच'' के आदेश दे दिए गए हैं.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

मतलब साफ है कि बीच हवा में क्रैश होते एक हेलीकॉप्टर की पुरानी फोटो को केदारनाथ में हुए हेलीकॉप्टर क्रैश से जोड़कर शेयर किया गया है.

(अगर आपके पास भी ऐसी कोई जानकारी आती है, जिसके सच होने पर आपको शक है, तो पड़ताल के लिए हमारे वॉट्सऐप नंबर 9643651818 या फिर मेल आइडी webqoof@thequint.com पर भेजें. सच हम आपको बताएंगे. हमारी बाकी फैक्ट चेक स्टोरीज आप यहां पढ़ सकते हैं)

(ये बताने के लिए स्टोरी को अपडेट किया गया है कि, वायरल हो रही फोटो एडिटेड हो सकती है)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×