ADVERTISEMENT

BJP की तारीफ करती जिस मुस्लिम महिला वोटर का वीडियो संबित ने किया शेयर, उसका सच

वीडियो में BJP की तारीफ करती महिला का नाम अलीशा हुसैन सिद्दीकी है

BJP की तारीफ करती जिस मुस्लिम महिला वोटर का वीडियो संबित ने किया शेयर, उसका सच
i

रोज का डोज

निडर, सच्ची, और असरदार खबरों के लिए

By subscribing you agree to our Privacy Policy

भारतीय जनता पार्टी (BJP) के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा (Sambit Patra) ने एक वीडियो शेयर किया है. वीडियो में दिख रही महिला का नाम नूरपुर की मुस्लिम वोटर अलीशा सिद्दीकी बताया गया है, जो योगी शासन में यूपी मे महिलाओं की स्थिति के बारे में बोलती नजर आ रही हैं. अलीशा कह रही हैं कि योगी शासन में महिलाएं ज्यादा सुरक्षित हैं. इसलिए, इस बार योगी आदित्यनाथ फिर से सरकार बनाएंगे.

वीडियो में अलीशा को बिजनौर के नूरपुर की एक मुस्लिम वोटर बताया गया है. हालांकि, हमने पड़ताल मे पाया कि अलीशा बीजेपी कार्यकर्ता हैं.

ADVERTISEMENT

दावा

संबित पात्रा ने इस वीडियो को ट्वीट कर कैप्शन में लिखा है, ''सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास.. इसीलिए उत्तर प्रदेश का जन-जन कहे एक बार फिर योगी सरकार।''

पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/ट्विटर)

स्टोरी लिखे जाने तक इस ट्वीट को 4,000 से ज्यादा रिट्वीट और 1,50000 से ज्यादा व्यू मिल चुके हैं. पात्रा ने ये वीडियो फेसबुक पर भी शेयर किया है, जिसे स्टोरी लिखते समय तक 1,88000 व्यू मिल चुके थे और 1,700 से ज्यादा बार शेयर किया जा चुका है.

ये वीडियो कई दूसरे यूजर्स ने भी शेयर किया है, जिनके आर्काइव आप यहां और यहां देख सकते हैं.

ADVERTISEMENT

पड़ताल में हमने क्या पाया

वीडियो में महिला का नाम अलीशा सिद्दीकी बताया गया है. इसलिए, हमने गूगल पर 'अलीशा सिद्दीकी नूरपुर बिजनौर' कीवर्ड सर्च किया. सर्च रिजल्ट में हमें Alisha Hussain Siddiqui नाम से एक फेसबुक आईडी मिली.

अलीशा की फेसबुक आईडी

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/फेसबुक)

फेसबुक प्रोफाइल को चेक करने पर पता चलता है कि अलीशा एक बीजेपी सपोर्टर होने के साथ-साथ बीजेपी कार्यकर्ता भी हैं. बायो में अलीशी ने खुद को एक पॉलिटिशियन बताया है. BJP के लिए जनसंपर्क कर रही अलीशा की कुछ फोटो आप नीचे दाईं ओर स्लाइड कर देख सकते हैं.

  • <div class="paragraphs"><p>अलीशा की फेसबुक प्रोफाइल से तस्वीर</p></div>

    अलीशा की फेसबुक प्रोफाइल से तस्वीर

    (सोर्स: स्क्रीनशॉट/फेसबुक)

  • <div class="paragraphs"><p>अलीशा की फेसबुक प्रोफाइल से तस्वीर</p></div>

    अलीशा की फेसबुक प्रोफाइल से तस्वीर

    (सोर्स: स्क्रीनशॉट/फेसबुक)

  • <div class="paragraphs"><p>अलीशा की फेसबुक प्रोफाइल से तस्वीर</p></div>

    अलीशा की फेसबुक प्रोफाइल से तस्वीर

    (सोर्स: स्क्रीनशॉट/फेसबुक)

हमें अलीशा की इंस्टाग्राम आईडी भी मिली जिसमें उनके वही वीडियो मिला जो उनकी फेसबुक आईडी पर भी पोस्ट किया गया था.

इसके अलावा, हमें अलीशा की प्रोफाइल शेयरचैट पर भी मिली, जिसमें कुछ न्यूजपेपर की फोटो पोस्ट की गई थीं, जिनके मुताबिक अलीशा बिजनौर के नूरपुर से बीजेपी नेता हैं.

अलीशा बिजनौर से बीजेपी नेता हैं

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/शेयर चैट)

ADVERTISEMENT

एक न्यूज पोर्टल Delta Plus News पर पब्लिश एक न्यूज आर्टिकल में भी अलीशा की पहचान बीजेपी नेता के तौर पर की गई है. साथ ही, उनकी तस्वीरें भी इस स्टोरी में इस्तेमाल की गई हैं. जिन तस्वीरों का इस्तेमाल इस स्टोरी में किया गया था, उन्हीं तस्वीरों के साथ एक वीडियो हमें अलीशा के यूट्यूब चैनल पर भी मिला. स्टोरी और चैनल दोनों के मुताबिक ये तस्वीरें एक स्थानीय फैशन शो की थीं.

हमने संबित पात्रा के वायरल ट्वीट में इस्तेमाल किए गए वीडियो और अलीशा की फेसबुक आईडी से मिली तस्वीर का मिलान करके भी देखा. दोनों एक ही हैं. आप ये तुलना नीचे देख सकते हैं.

बाएं वायरल वीडियो, दाएं अलीशा की फेसबुक प्रोफाइल से मिली तस्वीर

(फोटो: Altered by The Quint)

मतलब साफ है, संबित पात्रा ने जो वीडियो शेयर किया है वो एक बीजेपी कार्यकर्ता हैं, न कि आम वोटर महिला. जाहिर है वो नागरिक होने के नाते वोटर भी हैं लेकिन ये बात छिपा ली गई कि वो पार्टी की नेता हैं.

ADVERTISEMENT

यूपी में महिलाएं कितनी हैं सुरक्षित?

वीडियो में अलीशा को ये बोलते हुए सुना जा सकता है कि योगी जी के शासनकाल में यूपी में महिलाएं सुरक्षित हैं. ऐसा ही एक दावा अमित शाह ने भी 1 अगस्त 2021 को मिर्जापुर में एक कार्यक्रम के दौरान किया था. उन्होंने कहा था कि बीजेपी के सत्ता में आने के बाद से ही उत्तर प्रदेश महिलाओं के लिए ज्यादा सुरक्षित हो गया है. क्विंट ने इस दावे का तब फैक्ट चेक किया था.

NCRB की रिपोर्ट के मुताबिक उत्तर प्रदेश में महिलाओं के विरुद्ध हुए अपराधों के 59,853 मामले साल 2019 में दर्ज हुए. 2017 के बाद से ही लगातार इन मामलों की संख्या बढ़ी है.

(अगर आपके पास भी ऐसी कोई जानकारी आती है, जिसके सच होने पर आपको शक है, तो पड़ताल के लिए हमारे वॉट्सऐप नंबर 9643651818 या फिर मेल आइडी WEBQOOF@THEQUINT.COM पर भेजें. सच हम आपको बताएंगे. हमारी बाकी फैक्ट चेक स्टोरीज आप यहां पढ़ सकते हैं )

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
Published: 
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
500
1800
5000

or more

प्रीमियम

3 माह
12 माह
12 माह
मेंबर बनने के फायदे
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
और खबरें
×
×