ADVERTISEMENTREMOVE AD

'साजिश के सबूत नहीं': ईरानी राष्ट्रपति का हमास ने किया धन्यवाद, इजरायल बोला 'हमारा हाथ नहीं'

अभी ऐसे कोई सबूत नहीं हैं, जिसके आधार पर साजिश की बात कही जा सके: अमेरिका के सीनेटर चक शूमर

Published
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा

ईरान (Iran) के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी (Ebrahim Raisi) और विदेश मंत्री हुसैन अमीर-अब्दुल्लाहियन की हेलिकॉप्टर क्रैश में रविवार, 19 मई को मौत हो गई. हालांकि, खबर की पुष्टि 20 मई को ईरान की सरकारी टीवी ने की. मध्य पूर्व में इजरायल और गाजा (Israel gaza War) के बीच जारी जंग के दौरान ये घटना काफी महत्वपूर्ण है. आइए जानते हैं दुनियाभर के दिग्गज नेताओं का इस पर क्या कहना है?

ADVERTISEMENTREMOVE AD

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घटना पर दुख जताया और कहा, भारत-ईरान के रिश्तों को मजबूत करने के लिए उनके योगदान को हमेशा याद रखा जाएगा. उन्होंने कहा कि भारत ईरान के साथ खड़ा है.

वहीं विदेश मंत्री डॉ एस जयशंकर ने कहा कि हेलीकॉप्टर दुर्घटना में ईरान के राष्ट्रपति डॉ इब्राहिम रईसी और विदेश मंत्री हुसैन अमीर-अब्दुल्लाहियन की मौत की खबर सुनकर मुझे गहरा सदमा लगा. मुझे उनके साथ अपनी कई मुलाकातें याद हैं. आखिरी बार हम जनवरी 2024 में मिले. हम उनके परिवारों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करते हैं. इस दुखद घटना में हम ईरानी लोगों के साथ हैं.

अमेरिका के सीनेटर चक शूमर ने कहा है कि अमेरिकी खुफिया एजेंसियों के अधिकारियों से हुई बातचीत ये बताती है कि अभी ऐसे कोई सबूत नहीं हैं, जिसके आधार पर साजिश की बात कही जा सके. शूमर ने कहा कि हालात पर नजर बनाए हुए हैं.

तुर्की के राष्ट्रपति रेचेप तैय्यप अर्दोआन ने कहा कि तुर्की इस कठिन समय में ईरान के साथ खड़ा है. उन्होंने कहा, "एक सहयोगी के रूप में जो सत्ता में रहने के दौरान ईरानी लोगों और हमारे क्षेत्र की शांति के लिए उनके प्रयासों को व्यक्तिगत रूप से देखा, मैं रईसी को सम्मान और कृतज्ञता के साथ याद करता हूं."

चीन के विदेश मंत्रालय ने कहा कि राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने अपनी संवेदना व्यक्त की है.

टास की रिपोर्ट के अनुसार, रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने ईरान को एक संदेश भेजा जिसमें कहा गया: कृपया इस्लामी गणतंत्र ईरान के लोगों के साथ हुई भारी त्रासदी के संबंध में हमारी गहरी संवेदना स्वीकार करें - विमान दुर्घटना जिसने राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी के साथ-साथ आपके देश के कई अन्य प्रमुख राजनेताओं की जान ले ली है.

रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने कहा कि रईसी रूस के "सच्चे, विश्वसनीय मित्र" रहे हैं. रूसी-ईरानी सहयोग और भरोसेमंद साझेदारी को मजबूत करने में उनकी भूमिका अमूल्य है.

इजरायल और हमास ने क्या कहा?

समाचार एजेंसी रॉयटर्स की रिपोर्ट में कहा गया कि एक इजरायली अधिकारी ने बताया है कि इजरायल उस हेलीकॉप्टर दुर्घटना में शामिल नहीं था जिसमें ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी की मौत हो गई.

हमास ने एक बयान जारी कर ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रायसी और विदेश मंत्री हुसैन अमीर-अब्दुल्लाहियन को उनकी मौत के बाद इजरायल के खिलाफ युद्ध में समर्थन के लिए धन्यवाद दिया है. रॉयटर्स की रिपोर्ट में समूह ने कहा:

इन नेताओं ने जायनी इकाई के खिलाफ हमारे लोगों के वैध संघर्ष का समर्थन किया, फिलिस्तीनी प्रतिरोध को मूल्यवान समर्थन दिया है और गाजा पट्टी में हमारे लोगों के लिए सभी मंचों और क्षेत्रों में एकजुटता और समर्थन में अथक प्रयास किए. उन्होंने हमारे फिलिस्तीनी लोगों के खिलाफ जायनी आक्रमण को रोकने के लिए महत्वपूर्ण राजनीतिक और कूटनीतिक प्रयास भी किए.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×