PUBG समेत 118 चीनी ऐप्स पर बैन और पर्सनल डेटा- समझिए पूरा गणित

PUBG में चीनी कंपनी का कितना निवेश, सिक्योरिटी का कितना खतरा? इसके बारे में जानिए बिग स्टोरी पॉडकास्ट में 

Updated
पॉडकास्ट
1 min read
क्या PUBG गेमिंग ऐप को बैन कर हमने चीन को कड़ा जवाब दिया है?
i

भारत सरकार ने एक बार फिर 118 चीनी ऐप्स को बैन करने का ऐलान किया है. लेकिन इन सभी ऐप्स में सबसे ज्यादा चर्चा पब्जी मोबाइल गेम की हो रही है. जैसे टिक टॉक भारत में वीडियो के लिए काफी ज्यादा फेमस था, वैसे ही पब्जी गेम को लेकर भी भारत में करोड़ों लोग दीवाने थे. भारत में PUBG मोबाइल गेमिंग एप के करीब 5 करोड़ डाउनलोड और करीब 3.3 करोड़ यूजर्स हैं. इस गेमिंग ऐप को लेकर भारत ही नहीं दुनियाभर में काफी ज्यादा चर्चा है. इन सभी 118 चीनी ऐप्स को बैन करने के पीछे भारत सरकार ने फिर लोगों के निजी डेटा को शेयर करने और राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा बताया है.

अब सवाल ये है कि क्या वाकई में इंडियन यूजर्स के लिए टिक टॉक की तरह पब्जी मोबाइल गेम के भी कई बेहतर विकल्प सामने आएंगे? एक सवाल उठ रहा है क्या पब्जी चीनी कंपनी का मोबाइल गेम है और अगर ऐसा है तो क्या हमने इससे चीन को एक कड़ा जवाब दिया है? इन्ही पर आज बात करेंगे इस पॉडकास्ट में.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!