ADVERTISEMENT

Khelo India Games 2022: ‘भारत के ओलंपिक’ की पंचकुला में शुरुआत,कहां-कैसे देखें?

Khelo India Games 2022 में गतका, थांग-ता, कलारीपयट्टू, कलारीपयट्टू और योगासन जैसे भारतीय खेलों को शामिल किया गया है.

Published
Khelo India Games 2022: ‘भारत के ओलंपिक’ की पंचकुला में शुरुआत,कहां-कैसे देखें?
i

खेलो इंडिया यूथ गेम्स (Khelo India Youth Games 2022) शुरू हो चुके हैं जो भारत में देश का ओलंपिक कहलाते हैं. खेलो इंडिया यूथ गेम्स की मेजबानी इस बार हरियाणा (Haryana) कर रहा है. 4 जून से ये गेम्स पंचकुला में शुरू हुए हैं, जो 13 जून तक चलेंगे. पंचकुला के ताऊ देवी लाल स्टेडियम के अलावा चंडीगढ़, दिल्ली, शाहबाद और अंबाला में सारे मुकाबले खेले जाएंगे, जिनमें करीब 8500 खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं.

2018 में पहली बार भारत में खेलो इंडिया गेम्स का आयोजन हुआ था. जिसके बाद ये चौथी बार गेम्स का आयोजन हो रहा है, क्योंकि पिछले साल कोरोना की वजह से खेल नहीं हो पाए थे.
ADVERTISEMENT

खेलो इंडिया यूथ गेम्स की खास बात ये है कि इसमें कुछ भारतीय खेलों को भी शामिल किया गया है और इसे भविष्य में ओलंपिक की तैयारी का सबसे बड़ा प्लेटफॉर्म बनाने की कोशिश खेल विभाग कर रहा है. इसीलिए इसमें ज्यादार वही खेल शामिल हैं जो ओलंपिक में खेले जाते हैं. इस बार इन खेलों में 5 नए खेलों को जोड़ा गया है जो भारत के ही रीजनल खेल हैं.

ADVERTISEMENT

खेलो इंडिया में नए खेल

1. गतका-

इस खेल को भी खेलो इंडिया गेम्स का हिस्सा बनाया है. जो पंजाब का मार्शल आर्ट भी कहलाता है. दरअसल ये सिक्खों की एक पारंपरिक युद्ध कला का हिस्सा है. जिसमें वो तलवार और बाकी हथियारों के साथ अपनी युद्ध कला को प्रदर्शित करते हैं.

2. थांग ता-

ये भी एक तरह की युद्ध कला है, जिसे भारत के मणिपुर में खेला जाता है. इसकी शुरुआत 1891 से मणिपुर में हुई थी. ये तलवार, भाले और एक ढाल के साथ खेला जाता है. ये आत्म रक्षा औऱ युद्ध कला के साथ-साथ मणिपुर में पारंपरिक लोक नृत्य के रूप में भी माना जाता है.

3. कलारीपयट्टू-

इसे दक्षिण का मार्शल आर्ट भी कहा जाता है. केरल राज्य से जन्मे इस खेल में भी युद्ध कला का प्रदर्शन होता है. इसमें दो लोग आपस में लड़ते हैं और एक दूसरे पर वार करते हैं. बॉलीवुड में अपने एक्शन के लिए पहचान रखने वाले विद्युत जामवाल भी कलारीपयट्टू करते हैं.

4. मल्लखम्भ-

ये मध्य प्रदेश का पारंपरिक खेल है. जिसमें एक लकड़ी के खंभे के सहारे खिलाड़ी करतब दिखाते हैं. 2013 में राज्य सरकार ने इसे राज्य खेल भी घोषित किया था. और अब ये खेल खेलो इंडिया यूथ गेम्स का हिस्सा है.

5. योगासन-

बाबा रामदेव को आपने योग करते देखा होगा, जी हां ये वही योग है, जिसे खोले इंडिया यूथ गेम्स में शामिल किया गया है. ये व्यायाम की एक प्रणाली है, जिसमें सांस पर नियंत्रण और खिंचाव शामिल होता है. जो शरीर और दिमाग को आराम देने में मदद करता है.

ADVERTISEMENT

खेलो इंडिया यूथ गेम्स में चयन कैसे होता है?

जो खेल एक खिलाड़ी खेलते हैं यानी व्यक्तिगत खेलों में स्कूल फेडरेशन ऑफ इंडिया द्वारा आयोजित नेशनल स्कूल गेम्स के टॉप 8 खिलाड़ी इसमें भाग लेते हैं. इसके अलावा महासंघ से 4 नामांकित खिलाड़ी होते हैं. साथ ही केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड से एक, मेजबान राज्य से एक और दो वाइल्ड कार्ड एंट्री के रूप में खिलाड़ी इसमें भाग लेते हैं.

टीम खेलों में नेशनल स्कूल गेम्स से टॉप चार, महासंघ द्वारा नामांकित दो, मेजबान राज्य से एक और आयोजन समिति से एक का चयन होता है.

खेलो इंडिया यूथ गेम्स में अंडर-17 और अंडर-21 दो कैटेगरी में खिलाड़ियों का सेलेक्शन होता है. इसके अलावा यूनिवर्सिटी गेम्स में देश भर की यूनिवर्सिटी के एथलीट हिस्सा ले सकते हैं.
ADVERTISEMENT

खेलो इंडिया यूथ गेम्स खेलने से खिलाड़ियों का क्या फायदा?

खेलो इंडिया यूथ गेम्स 2021-22 के लिए केंद्र सरकार ने 657.71 करोड़ रुपये का बजट रखा था. इन खेलों के जरिए हर खेल से दो सबसे अच्छे खिलाड़ियों का चयन किया जाता है. इन खिलाड़ियों को चुनने के लिए हर खेल की एक स्पेशल टीम बनी होती है जो पूरे टाइम उस खेल को देखती रहती है. उसके बाद जो खिलाड़ी इन खेलों से चुने जाते हैं उन्हें 8 साल तक 5 लाख रुपये सालाना दिये जाते हैं. जिससे वो बेहतर ट्रेनिंग ले सकें.

खेलो इंडिया यूथ गेम्स में अब तक कौन-कौन से खेल खेले जाते थे?

  • एथलेटिक्स

  • बैडमिंटन

  • बास्केटबॉल

  • मुक्केबाजी

  • फुटबॉल

  • जिमनास्टिक्स

  • हॉकी

  • जूडो

  • कबड्डी

  • खो-खो

  • निशानेबाजी

  • तैराकी

  • वॉलीबॉल

  • भारोत्तोलन

  • कुश्ती

ADVERTISEMENT

खेलो इंडिया में अब तक किसका दबदबा?

खेलो इंडिया यूथ गेम्स 2018

नई दिल्ली में आयोजित खेलो इंडिया गेम्स के पहले संस्करण में 38 स्वर्ण, 26 रजत और 38 कांस्य पदक के साथ हरियाणा पदक तालिका में पहले स्थान पर रहा. महाराष्ट्र 36 स्वर्ण, 32 रजत और 43 कांस्य पदक के साथ दूसरे स्थान पर जबकि दिल्ली 25 स्वर्ण, 29 रजत और 40 कांस्य के साथ तीसरे स्थान पर रही.

खेलो इंडिया यूथ गेम्स 2019

2019 में खेलो इंडिया का आयोजन पुणे में हुआ था. इस बार महाराष्ट्र 228 पदक के साथ शीर्ष पर रहा था, जिसमें 85 स्वर्ण, 62 रजत और 81 कांस्य पदक शामिल थे. हरियाणा और दिल्ली 178 और 136 पदक के साथ दूसरे और तीसरे स्थान पर रहे.

खेलो इंडिया यूथ गेम्स 2020

गुवाहाटी में आयोजित खेलों के तीसरे संस्करण में भी महाराष्ट्र ने अपना दबदबा कायम रखा. उन्होंने अपने ही रिकॉर्ड को तोड़ते हुए 256 पदक जीते, जिसमें 78 स्वर्ण, 77 रजत और 101 कांस्य पदक शामिल थे. हरियाणा और दिल्ली क्रमशः 200 और 122 पदक के साथ दूसरे और तीसरे स्थान पर रहे.

ADVERTISEMENT

खेलो इंडिया यूथ गेम्स को आप कहां देख सकते हैं?

स्टार स्पोर्ट्स नेटवर्क और डिज्नी प्लस हॉटस्टार पर ये खेल लाइव दिखाए जाएंगे. जिन्हें आप Star Sports 2, Star Sports 2 HD, Star Sports First and Star Sports 1 Tamil TV पर देख सकते हैं.

किस स्टेडिम में कौन सा खेल खेला जाएगा?

  • पंजाब यूनिवर्सिटी ग्राउंड, चंडीगढ़- आर्चरी और फुटबॉल

  • डॉ, कर्नी सिंह शूटिंग रेंज, दिल्ली- शूटिंग

  • साइकिलिंग वेलोड्रोम, दिल्ली- साइकिलिंग

  • ताऊ देवी लाल कॉम्पलेक्स, पंचकूला- एथलेटिक्स, फुटबॉल, बैडमिंटन, बास्केटबॉल, टेबल टेनिस, कबड्डी, हैंडब़ॉल, कुश्ती, वॉलीबॉल, बॉक्सिंग और हॉकी.

  • क्रिकेट स्टेडियम, पंचकूला- खो-खो, मल्लखंभ, गतका, कलारीपयट्टू, थांग-ता, और योगासन

  • गर्ल्स गवर्नमेंट कॉलेज ऑडिटोरियम, पंचकूला- वेटलिफ्टिंग

  • रेड बिशप हॉल, पंचकूला- जूडो

  • जिमखाना क्लब, पंचकूला- टेनिस

  • पंचकूला, हरियाणा- साइकिलिंग (रोड इवेंट्स)

  • ह़की स्टेडियाम, शाहबाद, हरियाणा- हॉकी

  • मुकेश आनंद स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स, अंबाला- जिमनास्टिक

  • वॉर हीरोज स्विमिंग कॉम्प्लेक्स, अंबाला- स्विमिंग

खेलो इंडिया यूथ गेम्स हर दिन सुबह 8 बजे से शुरू होंगे और शाम को 6 बजे तक चलेंगे. जिसमें अलग-अलग वक्त में अलग-अलग खेलों का आयोजन किया जाएगा.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी पर लेटेस्ट न्यूज और ब्रेकिंग न्यूज़ पढ़ें, sports और all-sports के लिए ब्राउज़ करें

टॉपिक:  Khelo India 

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
×
×