ADVERTISEMENTREMOVE AD

Wrestler Protest: आरोपों की जांच के लिए बनी कमेटी की अध्यक्षता करेंगी मैरी कॉम

ओवरसाइट कमेटी पहलवानों द्वारा लगाए गए सभी आरोपों की जांच करके एक महीने में रिपोर्ट सौंपेगी.

Published
छोटा
मध्यम
बड़ा
ADVERTISEMENTREMOVE AD

पिछले दिनों देश के टॉप पहलवानों (Indian Wrestlers Protest) द्वारा WFI पर लगाए गए आरोपों पर पांच सदस्यीय ओवरसाइट कमेटी का गठन किया गया है, जिसकी अध्यक्षता मैरी कॉम करेंगी. केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने बताया कि पहलवानों द्वारा लगाए गए आरोपों पर अगले एक महीने सभी पक्षों को सुनकर कमेटी जांच करेगी और अपनी रिपोर्ट सौंपेगी. साथ ही जांच होने और रिपोर्ट सौंपने तक WFI से जुड़े सभी फैसले यह ओवरसाइट कमेटी लेगी.

0
ओवरसाइट कमेटी पहलवानों द्वारा लगाए गए सभी आरोपों की जांच करके एक महीने में रिपोर्ट सौंपेगी.
"देश के टॉप पहलवानों द्वारा विरोध प्रदर्शन करने और आरोप लगाने के बाद निगरानी समिति का आज गठन किया गया है. मैरी कॉम निगरानी समिति का नेतृत्व करेंगी. आने वाले महीने में समिति पहलवानों द्वारा लगाए गए आरोपों की जांच करेगी."
अनुराग ठाकुर, केंद्रीय खेलमंत्री

खेलमंत्री ने आगे कहा कि WFI के अध्यक्ष अपने पद पर काम नहीं करेंगे. हम विश्व चैंपियन मैरी कॉम की अध्यक्षता में ओवरसाइट कमेटी बना रहे हैं, जिसमें ओलंपिक पदक विजेता योगेश्वर दत्त, द्रोणाचार्य पुरस्कृत तृप्ति मुरगुंडे, TOPS CEO राजगोपालन, राधा श्रीमन इसके सदस्य होंगे.

क्या है पूरा मामला?

पिछले दिनों दिल्ली के जंतर मंतर पर विनेश फोगाट, बजरंग पूनिया और साक्षी मलिक सहित देश के टॉप पहलवानों ने WFI (भारतीय कुश्ती संघ) के अध्यक्ष बृजभूषण शरण मिश्रा के खिलाफ यौन शोषण के आरोप लगाए थे.

इसके अलावा कोच पर गलत बर्ताव करने, मेडल जीत चुके पहलवानों पर नेशनल खेलने का दबाव बनाने और सेलेक्शन की प्रक्रिया में भेदभाव जैसे गंभीर आरोप लगाए गए थे.

इन सभी आरोपों पर जांच करने के लिए अब खेल मंत्रालय ने ओवरसाइट कमेटी का गठन किया है.

ADVERTISEMENT

कमेटी क्या करेगी?

  • ओवरसाइट कमेटी WFI पर लगे सभी आरोपों की जांच करेगी और चार हफ्तों के अंदर रिपोर्ट सौंपेगी.

  • जांच होने और रिपोर्ट सौंपने तक WFI से जुड़े सभी फैसले ओवरसाइट कमेटी लेगी.

पांच सदस्यीय कमेटी में कौन-कौन है?

कमेटी की अध्यक्षता कर रही मैरी कॉम के अलावा इसमें ओलंपिक पदक विजेता योगेश्वर दत्त, ध्यानचंद पुरस्कार विजेता तृप्ति मुर्गुंडे, SAI सदस्य राधिका श्रीमन और पूर्व CEO TOPS Cdr राजेश राजगोपालन (रिटायर्ड) को शामिल किया गया है.

इससे पहले, भारतीय ओलंपिक संघ (IOA) ने बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ पहलवानों के यौन उत्पीड़न के आरोपों की जांच के लिए सात सदस्यीय समिति का गठन किया था. मैरी कॉम उस पैनल की अध्यक्ष भी हैं. भारतीय भारोत्तोलन महासंघ (IWLF) के अध्यक्ष सहदेव यादव, तीरंदाज डोला बनर्जी, ओलंपिक पदक विजेता पहलवान योगेश्वर दत्त अन्य भी इस पैनल का हिस्सा हैं.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENTREMOVE AD
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
×
×