ADVERTISEMENTREMOVE AD

नए साल का पहला उल्कापात आज,जानिए 2018 की खगोलीय घटनाओं के बारे में

हमारे सौर मंडल और आकाशगंगा में साल 2018 में बहुत सी लाजवाब खगोलीय घटनाएं होने वाली हैं, जिनके गवाह आप बनेंगे.

Updated
साइंस
2 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

इस नए साल में धरती पर कौन-कौन सी घटनाएं होंगी, इसकी भविष्यवाणी करना तो मुश्किल है, लेकिन हमारे सौर मंडल और आकाशगंगा में साल 2018 में बहुत सी लाजवाब खगोलीय घटनाएं होने वाली हैं, जिनके गवाह आप बनेंगे. साल के पहला उल्कापात (meteor shower ) का नजारा 3-4 जनवरी की रात को देखने को मिलेगा. ऐसे में आपको साल भर होने वाली ऐसी ही कुछ अनोखी  घटनाओं से रूबरू करवाते हैं.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

उल्का पिंडों की बौछार

कहते हैं जब कोई तारा टूटता है तो मन की मुराद पूरी होती है. दरअसल वो टूटता हुआ तारा नहीं बल्कि उल्का पिंड होते हैं, जो पृथ्वी की कक्षा में प्रवेश करते ही जलने लगते हैं. इस साल 3 और 4 जनवरी की रात 'क्वाड्रांटिड्स' उल्कापात ( meteor shower ) का नजारा देखने को मिलेगा.

इसी तरह 22 और 23 अप्रैल की रात 'लिरिड्स' मेटियर शावर, 6 और 7 मई की रात 'एटा एक्वेरिड्स' meteor shower, होंगे. 28 और 29 जुलाई 'डेल्टा एक्वेरिड्स' meteor shower, 12 और 13 अगस्त को 'पर्सीड्स' meteor shower, 8 अक्टूबर को 'ड्रेकोनिड्स' मेटियर शावर, 21-22 अक्टूबर को 'ओरियोनिड्स' meteor shower, 5-6 नवंबर को 'टॉरिडस' meteor shower, 17-18 नवंबर को 'लियोनिड्स' meteor shower, 13-14 दिसंबर 'जेमिनिड्स' meteor shower, 21-22 'उरसिड्स' meteor shower होंगे.

हमारे सौर मंडल और आकाशगंगा में साल 2018 में बहुत सी लाजवाब खगोलीय घटनाएं होने वाली हैं, जिनके गवाह आप बनेंगे.
शानदार रोशनी बिखेरता उल्कापिंड
(फोटो: Reuters)
0

सुपरमून

जब पूर्णिमा का चांद धरती से सबसे करीब होता है, तो उसे सुपरमून या ब्लूमून कहते है. इस दौरान चांद काफी बड़ा और चमकीला दिखाई देता है. 31 जनवरी को ऐसा ही सुपरमून दिखाई देगा.

ADVERTISEMENT

पूर्ण चंद्र ग्रहण

31 जनवरी को दुनिया के कई हिस्सों में पूर्ण चंद्र ग्रहण दिखाई देगा, और चूंकि उस वक्त सुपरमून होगा, इसलिए नजारा और भी दिलकश बन जाएगा. 27 जुलाई को दुनिया के अधिकतर हिस्सों में पूर्ण चंद्र ग्रहण नजर आएगा.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

आंशिक सूर्य ग्रहण

15 फरवरी को आंशिक सूर्य ग्रहण होगा. 13 जुलाई को दक्षिण ऑस्ट्रेलिया और अंटार्कटिका में आंशिक सूर्यग्रहण  नजर आएगा. 11 अगस्त को दुनिया के ज्यादातर हिस्सों में आंशिक सूर्य ग्रहण दिखाई देगा

हमारे सौर मंडल और आकाशगंगा में साल 2018 में बहुत सी लाजवाब खगोलीय घटनाएं होने वाली हैं, जिनके गवाह आप बनेंगे.
सूर्य ग्रहण का एक नजारा 
(फोटो: Reuters)
ADVERTISEMENT

ये ग्रह आएंगे धरती के सबसे करीब

15 मार्च को बुध ग्रह यानी मरकरी अपनी कक्षा के सबसे ज्यादा पूर्वी विस्तार पर होगा, जिस वजह से यह धरती के बेहद करीब से गुजरेगा. 9 मई को ज्यूपिटर यानी बृहस्पति ग्रह पृथ्वी के सबसे नजदीक से गुजरेगा. इसी तरह 27 जून को शनि यानी सैटर्न ग्रह हमारे सबसे करीब से गुजरने वाला है. 27 जुलाई को मंगल ग्रह धरती के सबसे नजदीक होगा. नेपच्युन यानी वरुण ग्रह 7 सितंबर और 23 अक्टूबर को यूरेनस यानी अरुण ग्रह हमारे सबसे करीब होगा.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENTREMOVE AD
Published: 
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
×
×