ADVERTISEMENT

ज्योतिरादित्य और मेरे पिता के बीच मतभेद की खबर 100% फेक: जयवर्धन

27 साल की उम्र में पहली बार विधायक बने जयवर्धन सिंह, कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह के बेटे हैं.

Published
ADVERTISEMENT

मध्य प्रदेश की चुनावी यात्रा में गुना के राघोगढ़ सीट पर क्विंट पहुंच चुका है. यहां से कांग्रेस के जयवर्धन सिंह विधायक हैं. 27 साल की उम्र में पहली बार विधायक बने जयवर्धन सिंह, कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह के बेटे हैं. जयवर्धन सिंह कहते हैं कि फिलहाल उनका पूरा ध्यान अपने क्षेत्र पर है. वो गोशाला को बीजेपी का मुद्दा नहीं मानते. जयवर्धन का कहना है कि कांग्रेस पार्टी की नई नीति है कि अगर सरकार बनती है तो हर पंचायत में गोशाला खुलवाए जाएंगे. ज्योतिरादित्य सिंधिया और दिग्विजय सिंह के बीच मतभेद के सवाल पर जयवर्धन ने कहा कि ये 100% फेक न्यूज है.

'किसानों के हित को ध्यान में रखकर बनेंगी योजनाएं'

घोषणापत्र में किए गए कांग्रेस के वादों के सवाल पर जयवर्धन कहते हैं कि अगर कांग्रेस सत्ता में आई तो किसानों के हित को ध्यान में रखकर योजनाएं बनाई जांएगी. मंडियों में किसान को नकद भुगतान किया जाएगा.

जब दिल्ली में यूपीए की सरकार थी उस वक्त किसान को उसकी उपज का सही दाम मिल रहा था. मोदी सरकार के आने के बाद किसान की आय दोगुनी नहीं हुई, बल्कि आधी हो गई. आम जनता परेशान है, महंगाई बढ़ी हुई है. जब से सरकार मोदीजी की बनी है, पेट्रोल लगभग शतक तक पहुंचने वाला है. कांग्रेस पार्टी का वादा है, अगर सरकार बनेगी तो किसान के हित की नीतियां बनाई जाएगी.
जयवर्धन सिंह, विधायक, राघोगढ़

'गोशाला बीजेपी का मुद्दा नहीं'

जयवर्धन कहते हैं कि ऐसा नहीं है कि गोशाला बीजेपी का मुद्दा है. 15 साल से राज्य में एक भी गोशाला नहीं बना. अब जयवर्धन कहते हैं कि वो वचन देते हैं कि उनकी सरकार आने के बाद हर पंचायत में गोशाला खुलवाई जाएगी. घोषणापत्र में आरएसएस के खिलाफ ऐलान करने के सवाल पर वो कहते हैं कि ये किसी संगठन की बात नहीं है.सिर्फ इतनी सी बात है कि सरकारी पद का दुरुपयोग नहीं होना चाहिए.

ज्योतिरादित्य सिंधिया और दिग्विजय सिंह के बीच मतभेद?

ज्योतिरादित्य सिंधिया और दिग्विजय सिंह के बीच मतभेद की खबरों पर जयवर्धन कहते हैं कि दोनों ही परिवार का संबंध काफी पुराना और खास है. ऐसे में मतभेद की खबरें झूठी हैं. पार्टी में चल रहे आंतरिक मतभेद के सवाल पर वो कहते है,

थोड़ा बहुत मतभेद हर दल में होता है. ये हिस्सा है राजनीति का, लेकिन बीजेपी में ये मतभेद और ज्यादा है.
जयवर्धन सिंह, विधायक, राघोगढ़

जयवर्धन का मानना है कि कांग्रेस को इन चुनावों में कम से कम 150 सीटें मिलेंगी.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT