टोंक की जनता का PM मोदी से सवाल, नाली की गैस से चाय कैसे बनती है?

टोंक की जनता का PM मोदी से सवाल, नाली की गैस से चाय कैसे बनती है?

वीडियो

वीडियो प्रोड्यूसर- फबेहा सैयद

वीडियो एडिटर- मोहम्मद इरशाद आलम

“विकास जैसी चिड़िया टोंक में कभी नजर नहीं आई. चाहे कांग्रेस राज हो, चाहे बीजेपी राज हो. इस वक्त यहां की जनता विकास देख रही है, बहुत से मुद्दे हैं, चाहे वो पानी का हो, बिजली का हो, रेल का हो.” जब पीएम मोदी के विकास के नारे के दावों के बारे में हमने टोंक के जनता से पूछा तो एक शख्स ने यही जवाब दिया. लेकिन अगले ही पल बीजेपी को सपोर्ट करने वाले हसन मोहम्मद खान ने कहा,जबसे कांग्रेस राज आया है, क्या उन्होंने एक गार्डन तक बनाया? मेरे हिसाब से बीजेपी ने यहां बहुत काम किया है. यहां जो कांग्रेस के ठेकेदार हैं, भ्रष्टाचारी जिनकी जेब में विकास का पैसा जाता था. जो अब नहीं पहुंचा है, वही लोग ऐसे हैं. जो ये कह रहे हैं कि काम नहीं हुआ है.

दरअसल राजस्थान चुनाव के मौके पर क्विंट की टीम पहुंची टोंक. इस चुनाव में टोंक हॉट सीट बना हुआ है. क्योंकि यहां से कांग्रेस ने अपने प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट को मैदान में उतारा है. वहीं बीजेपी ने वसुंधरा राजे सरकार में मंत्री रहे यूनुस खान को उनकी सीट डिडोना से टिकट न देकर सचिन पायलट के सामने खड़ा किया है.

ये भी देखें- राजस्थान चुनाव:‘न गैस,न शौचालय न ही सिलेंडर,किस बात पर वोट दें हम’

“गार्डन नहीं जॉब चाहिए”

बता दें कि टोंक की सीट पर पिछली बार बीजेपी ने जीत दर्ज की थी. लेकिन इस बार बीजेपी ने अपने मौजूदा विधायक अजित सिंह मेहता का टिकट काट दिया है. यहां पिछले कइ सालों से एक बार कांग्रेस एक बार बीजेपी जीतती आई है. अजित सिंह ने शहर के एक पार्क का सौंदर्यीकरण करवाया है. जिसे बीजेपी के समर्थक विकास का नमूना बताने में पीछे नहीं हट रहे हैं. बीजेपी के एक समर्थक के मुताबिक 56 साल में कांग्रेस ने एक गार्डन तक नहीं बनवाया, लेकिन बीजेपी से कर दिखाया. इसी के जवाब में पास खड़े शख्स ने तूरंत कहा,

ये सौन्दर्यीकरण में आता है और सौंदर्यीकरण से युवाओं को रोजगार नहीं मिलता. देखिए विकास के नाम पर आप सिर्फ एक पार्क बनाकर ये नहीं कह सकते कि हमने टोंक शहर में बहुत विकास किया. आपने कहा कि हमने सड़कें बनाई, पिछले 5 साल से काम लगातार चल रहा हैऔर आज भी उन सड़कों का काम चल रहा है. बात आती है सीवेज की तो इनकी हालत ये है कि अब तक 30 परसेंट तक काम भी पूरा नहीं हो पाया है. सर हमें गार्डन डेवलपमेंट नहीं चाहिए. मैं इंजीनियरिंग करता हूं, इंडिया में आज हर साल 30 लाख युवा ग्रेजुएट होकर निकल रहे हैं, रोजगार बिलकुल नहीं है.

“PM मोदी ने कहा नाली की गैस से चाय बना सकते हैं, लेकिन कैसे?”

इस तरह के बेवकूफाना बयान दे रहे हैं. हमारे प्रधानमंत्री माननीय नरेंद्र मोदी जी कि ‘पकौड़ा तलना रोजगार है’. आप नाली की गैस से चाय बना सकते हैं क्या? एक प्रधानमंत्री को ये शोभा देता है?
कामरान सैयद, स्थानिय निवासी टोंक

बता दें कि 7 दिसंबर को राजस्थान में चुनाव होने हैं और 11 दिसंबर को चुनाव के नतीजे आ जाएंगे.

ये भी पढ़ें- राजस्थान चुनाव: BJP के इकलौते मुस्लिम प्रत्याशी यूनुस खान से मिलिए

(यहां क्लिक कीजिए और बन जाइए क्विंट की WhatsApp फैमिली का हिस्सा. हमारा वादा है कि हम आपके WhatsApp पर सिर्फ काम की खबरें ही भेजेंगे.)

Follow our वीडियो section for more stories.

वीडियो

    वीडियो