ADVERTISEMENT

क्लाइमेट चेंज: दिग्गज तेल कंपनी Exxon पर कसा शेयरहोल्डरों का घेरा

एक्टिविस्ट फर्म इंजन नंबर 1 ने एक्सॉन मोबिल कॉर्प में कम से कम 2 बोर्ड सीटें जीतीं

सांकेतिक तस्वीर
i

एक्टिविस्ट फर्म इंजन नंबर 1 ने बुधवार को एक्सॉन मोबिल कॉर्प में कम से कम 2 बोर्ड सीट जीतकर तेल की इस दिग्गज कंपनी को बड़ा झटका दिया. इंजन नंबर 1, जिसकी एक्सॉन में 0.02% हिस्सेदारी है, दिसंबर से कंपनी को टारगेट कर रही है और उसे जीरो-कार्बन वर्ल्ड में उसकी भूमिका पर फिर से विचार करने के लिए धकेल रही है.

बुधवार की वोटिंग एक्सॉन की सालाना शेयर होल्डर मीटिंग के दौरान, इंजन नंबर 1 और एक्सॉन के बीच महीनों की खींचातानी के बाद शुरू हुई. एक्टिविस्ट फर्म ने चार स्वतंत्र निदेशक उम्मीदवारों को नामांकित किया और बड़े पेंशन फंडों से समर्थन हासिल किया, जिसमें CalPERS, calSTRS और न्यूयॉर्क स्टेट कॉमन रिटायरमेंट फंड javascript:void(0)शामिल हैं.

एक्सॉन ने बताया कि सीईओ डेरेन वुड्स सहित कंपनी के आठ नामितों को इसके 12 सदस्यीय निदेशक मंडल के लिए फिर से चुना गया, साथ ही इसमें इंजन नंबर 1 के दो नामांकित व्यक्ति भी शामिल हैं. इस दौरान वोटिंग खत्म नहीं हुई थी, ऐसे में इस बात की भी संभावना बनी हुई थी कि इंजन नंबर 1 तीन बोर्ड सीट जीत ले.

वोटिंग के नतीजे वुड्स पर दबाव बढ़ाएंगे, जिन्होंने बोर्ड की चुनौती को खत्म करने के लिए शेयर होल्डर्स को मनाने के लिए अभियान चलाया था और तर्क दिया था कि कंपनी पहले से ही कम कार्बन वाले प्रोजेक्ट्स का विस्तार कर रही है और मुनाफे में सुधार कर रही है.

सोमवार को, एक्सॉन ने एक फाइलिंग में कहा था कि अगले 12 महीनों में वो दो नए निदेशकों को जोड़ने की कोशिश करेगी, "एक एनर्जी इंडस्ट्री के अनुभव के साथ और दूसरा जलवायु के अनुभव के साथ."

हालांकि इंजन नंबर 1 ने कहा था कि बोर्ड को सफल और लाभदायक ऊर्जा उद्योग बदलावों में अनुभव वाले निदेशकों की जरूरत है, जो जलवायु परिवर्तन के जोखिमों को दूर करने की आकांक्षाओं को दीर्घकालिक कारोबार योजना में बदलने में मदद कर सकते हैं.

(CNBC के इनपुट्स समेत)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
Published: 
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT