आधार कार्ड में ऐसे करें मोबाइल नंबर अपडेट, जानें क्यों है जरूरी
आधार कार्ड में कैसे अपडेट करें मोबाइल नंबर, जानें प्रोसेस
आधार कार्ड में कैसे अपडेट करें मोबाइल नंबर, जानें प्रोसेस(फोटो: द क्विंट)

आधार कार्ड में ऐसे करें मोबाइल नंबर अपडेट, जानें क्यों है जरूरी

सभी जानते हैं कि आधार कार्ड आज के समय में कितना जरूरी है. अगर आपके पास आधार कार्ड नहीं है तो आपको कई सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं मिल पाएगा.

Unique Identification Authority of India (UIDAI) की ऑफिशियल वेबसाइट पर आपको आधार से जुड़ी सभी जानकारी मिल जाएगी. इसके साथ ही आप uidai.gov.in वेबसाइट से अपना आधार कार्ड डाउनलोड भी कर सकते हैं.

Loading...

UIDAI की वेबसाइट के अनुसार, आधार कार्ड के साथ आपका एक मोबाइल नंबर रजिस्टर होना जरूरी है. इसके जरिए आप आधार से जुड़ी कई जानकारियां जैसे आधार नंबर का सत्यापन, साथ ही जो ईमेल रजिस्टर के उसके बारे में जानकारी का आसानी से पता लगा सकते हैं.

इन सबके अलावा आप अपना 12 अंकों वाला डिजिटल आधार कार्ड रजिस्टर मोबाइल नंबर से भी डाउनलोड कर सकते हैं.

मोबाइल नंबर से ऐसे पाएं डिजिटल आधार कार्ड

  • सबसे पहले UIDAI की ऑफिशियल वेबसाइट uidai.gov.in पर जाएं.
  • यहां आपको 'My Aadhaar' के अंदर डाउनलोड आधार का एक लिंक दिखाई देगा, उस पर क्लिक करें.
  • इसमें आपसे कुछ जरूरी जानकारी पूछी जाएग, उसे भरें.
  • ये सब भरने के बाद अब आपके रजिस्टर्ड मोबाइल पर ओटीपी आएगा.
  • पूछे जाने पर ओटीपी दर्ज करें और Verify and Download के ऑप्शन पर क्लिक करें.

ये भी पढ़ें : अगर आधार कार्ड खो जाए तो न हों परेशान, ऐसे हासिल करें दोबारा 

ये सारे स्टेप फॉलो करने के बाद आपका डिजिटल आधार कार्ड आपकी डिवाइस पर आ जाएगा. आप चाहें तो इसका प्रिंट आउट भी निकलवा कर सकते हैं.

रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर को कैसे करें अपडेट

UIDAI के अनुसार, अगर आपको आधार कार्ड के साथ रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर अपडेट करना है तो अपने पास के आधार केंद्र जाना होगा.

अनऑथराइज्ड एजेंसियों को न बताएं ये बातें

UIDAI के अधिकारियों ने लोगों को चेतावनी दी है कि वो अपने आधार कार्ड को लेमिनेट कराने या प्लास्टिक कार्ड पर इसे प्रिंट कराने के लिए आधार नंबर या निजी जानकारियां अनऑथराइज्ड एजेंसियों के साथ शेयर न करें.

आधार कार्ड को प्रिंट करने के लिए UIDAI के ऑथराइज्ड सेंटर होने के बाद भी अवैध सेंटरों से ज्यादा पैसे वसूलने की शिकायतें सामने आ रही थीं. UIDAI ने कहा था कि आधार या ई-आधार का डाउनलोडेड वर्जन एक वैध दस्तावेज है. इसके बावजूद UIDAI के पास ओरिजनल आधार कार्ड की भारी मांग थी.

हालांकि बीच में इस तरह की शिकायतें भी आई थीं कि कुछ यूटिलिटी ई-आधार के प्रिंटआउट को स्वीकारने में हिचकिचा रही थीं. UIDAI ने कहा था कि प्लास्टिक या लेमिनेटेड फॉर्म में होने से ही आधार कार्ड को ओरिजनल नहीं कहा जा सकता.

ये भी पढ़ें : फेसबुक के जरिए घर बैठे ही लीजिए सैर-सपाटे का पूरा मजा

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Follow our बिजनेस section for more stories.

    Loading...