मुजफ्फरपुर शेल्टर होम पर फिल्म बना रहे हैं शाहरुख खान?

ये फिल्म अप्रैल साल 2018 में बिहार मुजफ्फरपुर शेल्टर होम में लड़कियों के साथ हुए रेप पर आधारित होगी.

Updated
बॉलीवुड
2 min read
ये फिल्म अप्रैल साल 2018 में बिहार मुजफ्फरपुर शेल्टर होम में लड़कियों के साथ हुए रेप पर आधारित होगी.
i

शाहरुख खान की प्रोडक्शन कंपनी रेड चिलीज एंटरटेनमेंट में बनी फिल्म 'कामयाब' की क्रिटिक्स ने बेहद तारीफें कीं. मुंबई मिरर के मुताबिक शाहरुख अब बतौर प्रोड्यूसर मुजफ्फरपुर शेल्टर होम पर फिल्म बनाने जा रहे हैं. ये फिल्म रियल स्टोरी पर बेस्ड होगी.

ये फिल्म अप्रैल साल 2018 में बिहार मुजफ्फरपुर शेल्टर होम में लड़कियों के साथ हुए रेप पर आधारित होगी. इस फिल्म को पुलकित डायरेक्ट करने जा रहे ,हैं जो कि सुभाष चंद्र बोस और 2017 में आई मरून डायरेक्ट कर चुके हैं. 

सुत्रों के मुताबिक, पुलकित ने फिल्म की स्क्रिप्ट उसी समय काम करना शुरू कर दिया था, जब ये मामला सामने आया था. फिल्म के लिए पुलकित ने काफी रिसर्च की है और ये फिल्म जुलाई तक रिलीज होने की उम्मीद है. फिल्म की कास्ट की बात करें तो जल्द ही एक्टर्स को फाइनल किया जाएगा.

क्या है मुजफ्फरपुर मामला?

मुंबई स्थित टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंसेज (TISS) की ओर से अप्रैल 2018 में बिहार सरकार के समाज कल्याण विभाग को एक रिपोर्ट सौंपी गई थी, जिसमें पहली बार मुजफ्फरपुर के बालिका गृह (शेल्टर होम) में रह रही लड़कियों से कथित रेप की बात सामने आई थी. TISS की टीम ने 26 मई 2018 को उसकी रिपोर्ट बिहार सरकार और मुजफ्फरपुर जिला प्रशासन को भेजी थी. मामले के तूल पकड़ने के बाद पुलिस हरकत में आई थी.

बालिका गृह में 34 नाबालिग लड़कियों के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया था. पुलिस के मुताबिक, मुजफ्फरपुर के बालिका गृह में 40 से अधिक लड़कियां थीं और मेडिकल रिपोर्ट बताती हैं कि उनमें से 34 के साथ रेप हुआ था. सीबीआई के मुताबिक जिस शेल्टर होम में बच्चियों के साथ दुष्कर्म की खबर आई, उसे ब्रजेश ठाकुर चला रहे थे.

इस मामले में 20 आरोपियों में से ब्रजेश ठाकुर समेत 19 लोग दोषी करार दिए गया, जबकि एक आरोपी को मामले में बरी कर दिया गया था. दिल्ली की साकेत कोर्ट ने मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर समेत अन्य लोगों को उम्रकैद की सजा सुनाई गई है.

यह भी पढ़ें: शाहरुख ने 'कामयाब' में अभिनय नहीं किया है : संजय मिश्रा

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!