ADVERTISEMENT

Monkeypox: अमेरिका में सामने आए बच्चों में मंकीपॉक्स के पहले मामले- रिपोर्ट

बच्चों में मंकीपॉक्स: यूएस सीडीसी के अनुसार दोनों बच्चे, जो एक दूसरे से असंबंधित हैं, स्वस्थ हैं.

Published
फिट
2 min read
Monkeypox: अमेरिका में सामने आए बच्चों में मंकीपॉक्स के पहले मामले- रिपोर्ट
i

यूएस सेंटर फॉर ड्रग्स कंट्रोल एंड प्रिवेंशन ने शुक्रवार 22 जुलाई को कहा कि अमेरिका में बच्चों में मंकीपॉक्स के दो मामले देखे गए हैं.

सीडीसी (CDC) के अनुसार, रोगियों में कैलिफोर्निया का एक बच्चा और एक शिशु, जो अमेरिकी निवासी नहीं है, शामिल हैं. एक बयान में, उन्होंने यह भी कहा कि दोनों बच्चे ठीक हैं और उनका इलाज किया जा रहा है.

इस वर्ष प्रकोप शुरू होने के बाद से यह पहली बार है जब किसी गैर-स्थानिक देश में बच्चों में मंकीपॉक्स की सूचना मिली है.

ADVERTISEMENT

मंकीपॉक्स: जोखिम में कौन है?

WHO के अनुसार, 2022 की शुरुआत में प्रकोप शुरू होने के बाद से, वैश्विक मामलों की संख्या 14,000 को पार कर गई है.

अब तक, दुनिया भर के स्वास्थ्य अधिकारियों ने नोट किया है कि सभी रोगी वयस्क हैं, मुख्य रूप से पुरुष जो दूसरे पुरुषों के साथ यौन संबंध रखते हैं.

डॉ जेनिफर मैकक्विस्टन, यूएस सीडीसी के डिवीजन ऑफ हाई कॉन्सिक्वेन्स पैथोजन्स एंड पैथोलॉजी के उप निदेशक, ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि अमेरिका में पुष्टि किए गए 99 % मामलों में पुरुषों के साथ यौन संबंध रखने वाले पुरुष शामिल हैं.

हालांकि, यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि कोई भी इस बीमारी से संक्रमित हो सकता है.

फिट से एक अलग कहानी के लिए बात करते हुए, महामारी विशेषज्ञ और सार्वजनिक स्वास्थ्य विशेषज्ञ, डॉ चंद्रकांत लहरिया ने कहा, "यह यौन संचारित रोग नहीं है."

बल्कि उनका कहना है कि यह एक ऐसी बीमारी है जो त्वचा के संपर्क से फैलती है, यानी यौन क्रिया से इसके संक्रमित होने का खतरा बढ़ जाता है.

इसलिए बच्चों का संक्रमित होना असामान्य नहीं है. यूएस सीडीसी ने यह भी कहा है कि दो बच्चों के संक्रमित होने की संभावना घरेलू संचरण का परिणाम है.

लक्षण, रोकथाम और उपचार: हमें क्या पता है

डब्ल्यूएचओ के अनुसार, मंकीपॉक्स के विशिष्ट लक्षणों में शामिल हैं:

  • बुखार

  • ठंड लगना

  • सिरदर्द

  • शरीर दर्द

  • चकत्ते

  • लिम्फ नोड्स में सूजन

  • हाथों, पैरों और चेहरे पर दर्दनाक ब्लिस्टर (चिकनपॉक्स की तरह)

ADVERTISEMENT

मंकीपॉक्स का एक लंबा इन्क्यूबेशन पीरियड है, जो 5 से 21 दिन तक हो सकता है.

डॉ लहरिया ने फिट को यह भी बताया कि यदि रोगी में लक्षण विकसित नहीं होते हैं, तो वे वायरस नहीं फैला सकता है.

भारत में मंकीपॉक्स के दूसरे मामले का पता चलने के बाद, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय (MoHFW) ने सुरक्षा दिशानिर्देश जारी करते हुए कहा कि जिन लोगों को मंकीपॉक्स जैसे लक्षणों का संदेह है, उन्हें एक चिकित्सक से जांच करवानी चाहिए, खासकर अगर:

  • वे लोगों के संपर्क में आए हैं, जिन लोगों को मंकीपॉक्स हुआ हो

  • वे उन क्षेत्रों में रहते हैं, जहां मंकीपॉक्स का पता चला है

दिशानिर्देशों के अनुसार, यात्रियों को भी इन चीजों से बचने की सलाह दी जाती है:

  • बीमार लोगों के साथ निकट संपर्क से, खासकर अगर उन्हें त्वचा पर घाव हैं

  • जंगली जानवरों, विशेष रूप से रोडेन्ट और प्राइमेट, के साथ निकट संपर्क से

  • जंगली जानवरों का मांस खाने से

(यह लेख रॉयटर्स के इनपुट के साथ लिखा गया है)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी पर लेटेस्ट न्यूज और ब्रेकिंग न्यूज़ पढ़ें, fit के लिए ब्राउज़ करें

टॉपिक:  Monkeypox   Monkeypox Virus 

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
×
×