यौन, प्रजनन स्वास्थ्य एवं अधिकारों पर वार्ता में जुटे 17 राज्यों के युवा
यौन, प्रजनन स्वास्थ्य एवं अधिकारों पर वार्ता में जुटे 17 राज्यों के युवा
यौन, प्रजनन स्वास्थ्य एवं अधिकारों पर वार्ता में जुटे 17 राज्यों के युवा

यौन, प्रजनन स्वास्थ्य एवं अधिकारों पर वार्ता में जुटे 17 राज्यों के युवा

नई दिल्ली, 31 अगस्त (आईएएनएस)| वाईपी फाउंडेशन ने युवा स्वास्थ्य, लिंग और बेहतरी के मुद्दों पर नीति निर्माताओं और अन्य संबद्घ हितधारकों के साथ बातचीत के लिए 17 राज्यों के 170 युवाओं के लिए दो-दिवसीय सम्मेलन आयोजित किया। इसमें नीति निर्माताओं एवं युवाओं ने मिलकर गहन चर्चा की। वाईपी फाउंडेशन के कार्यकारी निदेशक मानक मतियानी ने कहा कि इस तरह के सम्मेलन महत्वपूर्ण हैं क्योंकि वे इस विचार को तोड़ते हैं कि युवाओं के पास विशेषज्ञता नहीं है, या नीतियों को समझ नहीं सकते हैं।

केवाईबीकेवाईआर वाईपी फाउंडेशन की कार्यक्रम प्रबंधक मनसा प्रिया वासुदेवन ने कहा, 17 राज्यों के युवाओं को एक साथ लाने और अपनी स्वास्थ्य प्राथमिकताओं को निर्धारित करने के लिए हम उत्साहित थे। उन्हें नीति निर्माताओं और इस क्षेत्र के अन्य हितधारकों के साथ अपने अधिकारों और कल्याण के लिए सीधे संवाद के लिए आगे लाना चाहते हैं। युवाओं के स्वास्थ्य पर युवाओं के नेतृत्व वाली नीति कार्य समूह का शुभारंभ निश्चित रूप से हम सभी के लिए सबसे महत्वपूर्ण था।

टीवाईपीएफ एक युवा नेतृत्व वाली युवा संगठन है जो मानव अधिकारों की मजबूत समझ बनाने के लिए देश भर के युवा लोगों को एक साथ लाने की आशा के साथ गठित किया गया था। टीवाईपीएफ सामाजिक मुद्दों पर युवा लोगों की नारीवादी और मानवाधिकार दृष्टिकोण बनाता है। पिछले 16 वर्षो में, टीवाईपीएफ भारत के 18 राज्यों में 300 से अधिक परियोजनाओं की स्थापना के लिए 500,000 किशोरों और युवाओं तक पहुंचा है।

(ये खबर सिंडिकेट फीड से ऑटो-पब्लिश की गई है. हेडलाइन को छोड़कर क्विंट हिंदी ने इस खबर में कोई बदलाव नहीं किया है.)

(सबसे तेज अपडेट्स के लिए जुड़िए क्विंट हिंदी के WhatsApp या Telegram चैनल से)

Follow our अभी - अभी section for more stories.

    वीडियो