(फोटोः ANI)
| 2 मिनट में पढ़िए

राम मंदिर के लिए आगे आए मुस्लिम कारसेवक, ईंटें लेकर अयोध्या पहुंचे

अयोध्या राम मंदिर निर्माण का मुद्दा एक बार फिर सुर्खियों में है. मंदिर निर्माण को लेकर दोनों पक्ष अपने-अपने तर्कों के साथ अड़े हुए हैं. वहीं सुप्रीम कोर्ट भी बाबरी मस्जिद विध्वंस और राम मंदिर मुद्दे को लेकर गंभीर है. इस बीच मुस्लिम समुदाय के एक धड़े ने भी अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की जोरदार अपील की है.

गुरुवार रात यूपी के मुस्लिम कारसेवक मंच के सदस्य एक ट्रक में ईंट भरकर अयोध्या पहुंचे.

मुस्लिम कारसेवक मंच नाम की यह संस्था राम मंदिर निर्माण का समर्थन कर रही है. न्‍यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, मुस्लिम कारसेवक संस्था के करीब 50 सदस्य रामलला के दर्शन करने पहुंचे. इन कारसेवकों ने ईंटों से भरे ट्रक को पूरे शहर में घुमाकर ‘जय श्री राम’ और ‘मंदिर वहीं बनाएंगे’ के नारे भी लगाए.

मुस्लिम कारसेवकों का कहना है कि राम मंदिर वहीं बनाया जाना चाहिए, इससे देश का निर्माण होगा. हालांकि पुलिस ने कारसेवकों को विवादित परिसर के पास नहीं जाने दिया और उन्हें समझा-बुझाकर वापस भेज दिया गया.

इस दौरान मुस्लिम कारसेवक मंच का नेतृत्व कर रहे मोहम्मद आजम खां ने कहा कि वे चाहते हैं कि राम मंदिर जन्मस्थान पर ही बने.

उन्होंने कहा, ''राम मंदिर निर्माण से देश का निर्माण होगा और सबकी उन्नति होगी. मंदिर निर्माण से हिंदू और मुस्लिमों के बीच की नफरत भी खत्म हो जाएगी. हिंदुस्तान का मुसलमान अब जाग गया है. उसे कौम के दलालों ने अबतक बहुत बेवकूफ बनाया. अब हिंदुस्तान का मुसलमान मंदिर निर्माण के पक्ष में आ गया है और मंदिर वहीं बनेगा, जहां रामलला विराजमान हैं."