15 जुलाई तक आएगा CBSE-ISCE का रिजल्ट, बोर्ड ने SC में बताया

सीबीएसई की परीक्षाएं 1 जुलाई से 15 जुलाई के बीच आयोजित होने वाली थीं

Updated26 Jun 2020, 07:15 AM IST
शिक्षा
1 min read

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) और ICSE ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि बोर्ड परीक्षाओं का रिजल्ट 15 जुलाई तक जारी कर दिया जाएगा. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि ड्राफ्ट नोटिफिकेशन देखने के बाद, CBSE को नोटिफिकेशन जारी करने की अनुमति देते हैं.

CBSE एग्जाम कंट्रोलर संयम भारद्वाज ने कहा कि नंबर इंप्रूव करने के लिए 12वीं कक्षा के छात्रों को ऑप्शनल एग्जाम में बैठने का मौका दिया जाएगा.

CICSE ने कोर्ट को बताया कि उनकी एसेसमेंट स्कीम, CBSE से थोड़ी अलग होगी. CICSE ने कोर्ट को बताया कि वो 10वीं और 12वीं को बाद में परीक्षा में बैठने का ऑप्शन दे सकता है.

CBSE, ICSE ने रद्द की परीक्षाएं

इससे पहले, 25 जून को सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कोर्ट को बताया था कि सीबीएसई ने लंबित परीक्षाएं रद्द करने का फैसला लिया है. सीबीएसई की 10वीं और 12वीं की लंबित बोर्ड परीक्षाएं 1 जुलाई से 15 जुलाई के बीच आयोजित होने वाली थीं. हालांकि, सीबीएसई ने छात्रों को बाद में परीक्षा में बैठने का विकल्प दिया था.

वहीं, सीबीएसई के बाद, आईसीएसई ने भी परीक्षा रद्द करने का फैसला किया था.

अभिभावकों ने दाखिल की थी याचिका

छात्रों के अभिभावकों ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर लंबित परीक्षाओं को रद्द करने की मांग की थी. अभिभावकों का कहना था कि छात्रों को लंबित परीक्षाओं के इंटरनल एसेसमेंट के आधार पर मार्क किया जाए.

याचिका में कहा गया था कि जुलाई में परीक्षाएं आयोजित होने से हजारों छात्रों की जान खतरे में पड़ सकती है, क्योंकि उस दौरान कोरोना वायरस के मामले पीक पर होने की संभावना है.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 26 Jun 2020, 05:47 AM IST

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!