ADVERTISEMENTREMOVE AD

"INDIA गठबंधन के लिए AAP प्रतिबद्ध": पंजाब में कांग्रेस के साथ विवाद के बीच CM केजरीवाल

पंजाब में ड्रग संबंधी आरोप में कांग्रेस विधायक सुखपाल खैरा की गिरफ्तारी के बाद आमने-सामने कांग्रेस और आप

Published
न्यूज
3 min read
छोटा
मध्यम
बड़ा

पंजाब (Punjab) में आम आदमी पार्टी (AAP) और कांग्रेस (Congress) के बीच चल रहे विवाद के बावजूद, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने शुक्रवार, 29 सितंबर को विपक्षी गुट के गठबंधन, INDIA के प्रति AAP की अटूट प्रतिबद्धता की पुष्टि की है.

पंजाब में ड्रग संबंधी आरोप में कांग्रेस विधायक सुखपाल खैरा की गिरफ्तारी पर पत्रकारों को संबोधित करते हुए, अरविंद केजरीवाल ने यह कहकर एक बार फिर तनाव कम करने का प्रयास किया कि AAP इंडिया के प्रति दृढ़ता से समर्पित है, और हम इंडिया गठबंधन से अलग नहीं होंगे.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

उन्होंने इस बात पर भी जोर दिया कि उनकी पार्टी नशीली दवाओं के दुरुपयोग के खिलाफ अपनी लड़ाई में दृढ़ बनी हुई है.

"मुझे पंजाब पुलिस द्वारा कल एक कांग्रेस नेता की गिरफ्तारी के बारे में सूचित किया गया है. हालांकि मेरे पास स्पेसिफिक डिटेल नहीं हैं, आप उन्हें पुलिस से प्राप्त कर सकते हैं. ड्रग्स की लत को खत्म करने के लिए हमारी प्रतिबद्धता दृढ़ है. मैं व्यक्तिगत मामलों पर टिप्पणी नहीं करूंगा, लेकिन हमारा लक्ष्य इस खतरे से निपटना है."
अरविंद केजरीवाल

पंजाब कांग्रेस नेताओं को गिरफ्तार विधायक, सुखपाल खैरा से मिलने की इजाजत नहीं

पंजाब में 2015 के ड्रग तस्करी मामले में कांग्रेस नेता सुखपाल खैरा की गिरफ्तारी के एक दिन बाद शुक्रवार को उनसे मिलने पहुंचे राज्य पार्टी प्रमुख अमरिंदर सिंह राजा वारिंग और विपक्ष के नेता प्रताप सिंह बाजवा को उनसे मिलने से रोक दिया गया.

कांग्रेस ने आप सरकार पर ''प्रतिशोध की राजनीति'' करने का आरोप लगाया है. बाजवा ने मीडिया से कहा, ''हम आज पंजाब कांग्रेस के वरिष्ठ नेतृत्व के साथ फाजिल्का में अपने विधायक सुखपाल खैरा से मिलने गए. पुलिस ने हमें उनसे मिलने से रोक दिया. हम आप पार्टी के इस प्रतिशोध से कानूनी तौर पर और सड़कों पर लड़ेंगे. हम इस तरह की दबाव रणनीति से डरेंगे नहीं.''

बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ताओं के जुटने से कानून-व्यवस्था की समस्या को भांपते हुए स्थानीय प्रशासन ने भारी सुरक्षा बल तैनात कर दिया है. जलालाबाद की एक अदालत ने गुरुवार को खैरा को दो दिन की पुलिस रिमांड दी और उन्‍हें फाजिल्का में सीआईए स्टाफ कार्यालय में रखा गया है. पुलिस सात दिन की रिमांड मांग रही थी.

0

उनकी गिरफ्तारी के तुरंत बाद, वारिंग और बाजवा सहित कांग्रेस के एक प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित से मुलाकात की और उन्हें आप के बागी विधायक खैरा के खिलाफ आप सरकार की प्रतिशोधात्मक कार्रवाई के बारे में अवगत कराया और उनसे हस्तक्षेप की मांग की.

कांग्रेस नेता की गिरफ्तारी पर प्रतिक्रिया देते हुए आप सांसद सुशील गुप्ता ने कहा कि खैरा राजनीतिक संरक्षण के लिए कांग्रेस में शामिल हुए हैं ताकि उनकी गिरफ्तारी न हो. उन्होंने कहा, “किसी ऐसे व्यक्ति के लिए, जो ड्रग्स में शामिल है, स्थानीय इकाइयों के कहने के बावजूद कांग्रेस गठबंधन के बारे में ऐसी किसी बात के बारे में क्यों सोचेगी? राहुल गांधी खुद नशे के खिलाफ हैं. अगर वह नशे के खिलाफ हैं तो गठबंधन के बारे में ऐसा क्यों सोचेंगे."

इस मुद्दे में शामिल होते हुए बीजेपी नेता तरुण चुघ ने कहा कि पंजाब में बदलाव के नाम पर सत्ता में आई आप सरकार सत्ता का दुरुपयोग कर रही है और प्रतिशोध की राजनीति कर रही है. हालांकि, आप ने दावा किया कि नई विशेष जांच टीम (एसआईटी) की जांच के दौरान उसे यह साबित करने के लिए पर्याप्त सबूत मिले हैं कि खैरा कथित तौर पर नशीली दवाओं की तस्करी में शामिल हैं.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×