पुलवामा पर राहुल ने पूछे तीन सवाल, बीजेपी ने कहा- आप जैश समर्थक हो

पुलवामा हमले की पहली बरसी पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने बीजेपी से तीन सवाल पूछा

Published
भारत
2 min read
राहुल गांधी पर बीजेपी की पलटवार
i

पुलवामा हमले की पहली बरसी पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने बीजेपी से तीन सवाल पूछा तो बीजेपी ने भी राहुल पर पलटवार किया है. बीजेपी के तमाम नेता राहुल के ट्वीट की आलोचना कर रहे हैं, यहां तक कि बीजेपी नेता जीवीएल नरसिम्हा ने राहुल को जैश-ए-मोहम्मद से सहानूभूति रखने वाला बता दिया.

‘जब  देश पुलवामा के शहीदों को याद कर रहा है, जैश-ए-मोहम्मद से सहानुभूति के लिए जाने जाने वाले राहुल गांधी ने ने सरकार पर ही नहीं, बल्कि सिक्योरिटी फोर्स  पर भी निशाना साधा है. राहुल कभी भी पाकिस्तान से सवाल नहीं करेंगे. शर्म करो राहुल.

वहीं राहुल गांधी के ट्वीट पर मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा है- ‘जो राष्ट्रीय सुरक्षा, राष्ट्रीय हितों से जुड़े हुए मुद्दे हैं, संवेदनशील मुद्दे हैं, उन पर कांग्रेस राजनीति करने की, देश को गुमराह करने की हिस्ट्रीशीटर पार्टी है.

क्या थे राहुल के 3 सवाल?

राहुल ने पूछा है कि आखिर उस हमले से सबसे ज्यादा फायदा किसको हुआ? हमले की जांच का नतीजा क्या निकला और सरकार में किसकी जवाबदेही तय हुई.

ये भी पढ़ें- पुलवामा हमले की पहली बरसी आज, देश कर रहा है शहीदों को सलाम

बता दें 14 फरवरी को पुलवामा जिले में CRPF के काफिले पर फिदायीन हमला हुआ था, इसमें 40 जवान शहीद हो गए थे. काफिले में 78 व्हीकल्स थे, जिनमें 2,500 जवान मौजूद थे. 14 फरवरी 2019 को पुलवामा में आरडीएक्स से लैस एक गाड़ी CRPF के काफिले से टकरा गई. इस धमाके ने जवानों की जान ले ली.

इस आत्मघाती आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे . शहीदों में महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, हिमाचल, पश्चिम बंगाल, असम, ओडिशा, केरल, कर्नाटक, राजस्थान और तमिलनाडु के जवान शामिल हैं. देश इन शहीदों को याद कर रहा है.

ये भी पढ़ें- पुलवामा अटैक की बरसी पर राहुल के 3 सवाल, हमले से किसको फायदा हुआ?

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!