चीनी सेना ने भारतीय ड्रोन की ‘एंट्री’ पर जताया कड़ा विरोध


भारत-चीन के बीच सिक्किम सेक्टर के डोकलाम में शुरू हुए विवाद के 2 महीने पूरे हो चुके हैं.
भारत-चीन के बीच सिक्किम सेक्टर के डोकलाम में शुरू हुए विवाद के 2 महीने पूरे हो चुके हैं. (फोटो: द क्विंट)

चीनी सेना ने भारतीय ड्रोन की ‘एंट्री’ पर जताया कड़ा विरोध

चीन की सेना ने अपने एयर एरिया में भारत के मानवरहित विमान (ड्रोन) के अनधिकृत रुप से प्रवेश करने पर गुरुवार नाराजगी और विरोध जताया है. खबरों के मुताबिक, चीन सेना ने कहा है कि ड्रोन दुर्घटनाग्रस्त हो गया है और चीन के सुरक्षाबलों ने ड्रोन की पहचान और पुष्टि की है.

चीनी सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी झांग शुइली ने कहा है कि हाल ही में भारतीय ड्रोन चीन के वायु क्षेत्र में अनधिकृत रुप से घुसा और दुर्घटनाग्रस्त हो गया. झांग शुइली ने दुर्घटनास्थल की सटीक जानकारी नहीं दी है. पीपुल्स लिबरेशन आर्मी की पश्चिमी थिएटर कमान के अधिकार क्षेत्र में भारत के साथ लगता तिब्बत का सीमा क्षेत्र भी आता है.

चीन की सरकारी संवाद समिति शिन्हुआ ने झांग के हवाले से कहा, भारत का ये कदम चीन की क्षेत्रीय संप्रभुत्ता का उल्लंघन है और हम इस पर कड़ अंसतोष और विरोध जताते हैं. उन्होंने कहा, हम अपना अभियान और अपनी जिम्मेदारी निभाएंगे और चीन की राष्ट्रीय संप्रभुता की रक्षा करेंगे. वहीं भारत के रक्षा मंत्रालय की ओर से अभी इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली है.

डोकलाम गतिरोध हाल ही में खत्म हुआ है

हाल ही में भारत-चीन के बीच सिक्किम सेक्टर के डोकलाम को लेकर चल रहा विवाद खत्म हुआ है. ये विवाद 16 जून को उस वक्त शुरू हुआ था, जब भारतीय सेना ने चीनी जवानों को भूटान के डोकलाम में सड़क बनाने से रोक दिया था. भारत के चिकन नेक कॉरिडोर के पास चीनी सेना के इस निर्माण को रोकने के बाद 73 दिन तक गतिरोध चला था. ये विवाद 28 अगस्त को खत्म हुआ.

(यहां क्लिक कीजिए और बन जाइए क्विंट की WhatsApp फैमिली का हिस्सा. हमारा वादा है कि हम आपके WhatsApp पर सिर्फ काम की खबरें ही भेजेंगे.)

Follow our भारत section for more stories.