अमेठी में ‘जूतों’ को लेकर भिड़ीं प्रियंका गांधी और स्मृति ईरानी
स्मृति ईरानी पर हमलावर हुईं प्रियंका गांधी
स्मृति ईरानी पर हमलावर हुईं प्रियंका गांधी(फोटो: Altered by Quint Hindi)

अमेठी में ‘जूतों’ को लेकर भिड़ीं प्रियंका गांधी और स्मृति ईरानी

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के तेवर सोमवार को बदले-बदले नजर आए. अमेठी में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के जूते बंटवाने को लेकर प्रियंका, ईरानी पर जमकर बरसीं. प्रियंका गांधी ने कहा कि ऐसा कर उन्होंने राहुल गांधी का नहीं, बल्कि अमेठी की जनता का अपमान किया है.

मां सोनिया गांधी के साथ अमेठी के लोगों से रूबरू होते हुए प्रियंका ने कहा,

‘ये स्मृति ईरानी जी यहां आई हैं और उन्होंने जूते बांटे, ये कहने के लिए की इनके पास जूते भी नहीं हैं पहनने के लिए. ये सोच रही हैं कि राहुल जी का अपमान कर रही हैं, ये कर रही हैं अमेठी की जनता का अपमान.’

कांग्रेस महासचिव ने कहा कि अमेठी और रायबरेली की जनता ने कभी किसी से भीख नहीं मांगी है.

गांधी के हमले पर ईरानी ने दिया जवाब

गांधी के इस हमले पर स्मृति ईरानी ने कहा ने कहा कि प्रियंका नाटक न करें तो बेहतर हैं.

‘एक्टर मैं रह चुकी हूं तो नाटक प्रियंका जी ना ही करें तो बेहतर है, जहां तक बात उन गरीब नागरिकों की है जिनके पास पहनने को जूता नहीं था, तो कृपया करके अगर उनमें थोड़ी भी शर्म है तो खुद जा के देख लें कि सच क्या है.’
स्मृति ईरानी, केंद्रीय मंत्री

ईरानी ने हमलावर अंदाज में कहा कि देश और इटली में जितने रिश्तेदार हैं, सभी को ले आओ, देश की जनता इसमें न्याय करेगी. वहीं प्रियंका गांधी ने ईरानी पर झूठ फैलाने के आरोप लगाए. प्रियंका ने कहा कि अमेठी की जनता बेवकूफ नहीं है.

प्रियंका गांधी ने कहा, 'ये लोग सिर्फ अमेठी की जनता को ही नहीं, बल्कि हर किसी को बेवकूफ बना रहे हैं. उन्होंन 50 लाख नौकरियां बर्बाद कर दीं. किसान रो रहे हैं. मैं जहां जा रही हूं वहीं देख रही हूं.'

29 अप्रैल को अमेठी में वोटिंग

अमेठी लोकसभा सीट पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी टक्कर दे रही हैं. 2014 चुनावों में राहुल गांधी भारी मतों से इस सीट से जीते थे. चौथे चरण, 29 अप्रैल को अमेठी में वोट डाले जाएंगे.

ये भी पढ़ें : ‘चौकीदार चोर है’ विवाद : SC का हवाला देने पर राहुल ने जताया खेद

(सबसे तेज अपडेट्स के लिए जुड़िए क्विंट हिंदी के Telegram चैनल से)

Follow our भारत section for more stories.

    वीडियो