किसको कितनी सीटें? EXIT POLL, सट्टा बाजार और ज्योतिषियों के नंबर
किसको कितनी सीटें? EXIT POLL, सट्टा बाजार और ज्योतिषियों के नंबर
किसको कितनी सीटें? EXIT POLL, सट्टा बाजार और ज्योतिषियों के नंबर(फोटो: द क्विंट)

किसको कितनी सीटें? EXIT POLL, सट्टा बाजार और ज्योतिषियों के नंबर

नतीजे आने में कुछ ही घंटे रह गए हैं. नेता से लेकर जनता तक सबकी धड़कने तेज हैं. एग्जिट पोल, सट्टा बाजार और ज्योतिष शास्त्र के नंबर इस रोमांच को और बढ़ा रहे हैं. लेकिन आम तौर पर एक दूसरे से रजामंदी रखने वाले ये तीनों इस बार अलग-अलग राय दे रहे हैं. एग्जिट पोल के मुताबिक, एनडीए को बहुमत मिलता दिख रहा है.


यहां देखिए Poll of Polls

 Poll of Polls
Poll of Polls

ज्योतिष शास्त्र

शनि, राहु और गुरु की तिकड़ी एग्जिट पोल के आंकड़ों को बिगाड़ सकती है और इससे केंद्र में नई सरकार बनाने में कुछ परेशानी आ सकती है. वाराणसी के ज्योतिषियों के मुताबिक, ग्रहों की यह स्थिति भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को लोकसभा में सबसे बड़ी पार्टी तो बना सकती है, लेकिन हो सकता है बीजेपी बहुमत तक न पहुंच सके.पंडित ऋषि द्विवेदी के मुताबिक, ग्रहों की स्थित के कारण लोकतंत्र में अस्थिरता है और यह चुनाव के परिणामों में दिखेगा.

‘’ग्रहों की इस स्थिति के कारण कोई भी सरकार अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर पाएगी.’’
‘’ग्रहों की इस स्थिति के कारण कोई भी सरकार अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर पाएगी.’’
(फोटो: IANS)

उन्होंने कहा, "ग्रहों की इस स्थिति के कारण कोई भी सरकार अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर पाएगी. राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) को 220-240 सीटें मिल सकती हैं, वहीं बीजेपी 140-160 सीटों तक रह सकती है. संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) को 110-140 सीटें मिल सकती हैं."

एक दूसरे ज्योतिषी पंडित दीपक मालवीय ने भी कहा कि सरकार गठन में काफी परेशानी आ सकती है और नरेंद्र मोदी का व्यक्तिगत भविष्य भी संकेत देता है कि सरकार गठन के लिए उन्हें समझौते करने पड़ सकते हैं.

मालवीय ने कहा, "पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, मेघालय, मिजोरम, आंध्र प्रदेश और केरल की पार्टियां सरकार गठन के लिए महत्वपूर्ण साबित होंगी."

कांग्रेस के बारे में उन्होंने कहा कि पार्टी अपना स्थिति मजबूत करेगी और उसका वोट प्रतिशत भी बढ़ेगा, लेकिन दिल्ली की कुर्सी से दूर रहेगी.

ज्योतिषी गणेश प्रसाद मिश्र भी अन्य दोनों ज्योतिषियों के अनुमान से सहमत हैं, बल्कि वह यह भी कहते हैं कि ग्रहों की स्थित के कारण 16वीं लोकसभा के कई चेहरे 17वीं लोकसभा में नहीं दिखाई देंगे.

सट्टा बाजार

Exit Pol से थोड़े अलग और हटके हैं सट्टा बाजार के आंकड़े
Exit Pol से थोड़े अलग और हटके हैं सट्टा बाजार के आंकड़े
(फोटो: क्विंट हिंदी)

एग्जिट पोल के ज्यादातर नतीजों की तरह सट्टा बाजार में भी 2019 लोकसभा चुनाव में एनडीए की जीत बताई जा रही है, लेकिन वो एग्जिट पोल की तुलना में कुछ कम सीटें दे रहे हैं. ज्यादातर न्यूज चैनल्स और एजेंसियों के एग्जिट पोल में एनडीए को बहुमत से ज्यादा सीटों का अनुमान है. लेकिन सट्टा बाजार बीजेपी को 238 से 245 सीटें दे रहा है. मतलब कि बहुमत से कम.

  • राजस्थान में सट्टेबाज बीजेपी को 242-245 सीटें दे रहे हैं.
  • दिल्ली के सट्टा बाजार में ये संख्या 238-241 है.
  • करीब-करीब यही आंकड़ा मुंबई का भी है.

साल 2014 के चुनाव में बीजेपी ने 282 सीटें जीती थी, जबकि बीजेपी के दूसरे सहयोगी दलों के साथ NDA की कुल 336 सीटें थीं.

(इनपुट: IANS)

ये भी पढ़ें : VVPAT: आयोग ने विपक्ष की किस मांग को किया खारिज, मतगणना कैसे होगी?

(सबसे तेज अपडेट्स के लिए जुड़िए क्विंट हिंदी के Telegram चैनल से)

Follow our भारत section for more stories.

    वीडियो