पहली प्राइवेट ट्रेन तेजस एक्सप्रेस आज से बंद, कम यात्री बनी वजह

तेजस एक्सप्रेस, राजधानी, शताब्दी, वंदे भारत एक्सप्रेस जैसी देश की सबसे तेज ट्रेनों में शुमार है.

Published
भारत
2 min read
पहली प्राइवेट ट्रेन तेजस एक्सप्रेस आज से बंद, कम यात्री बनी वजह

देश की प्रीमियम ट्रेनों में शुमार तेजस एक्सप्रेस का संचालन आज से बंद किया जा रहा है. इंडियन रेलवे केटरिंग एंड टूरिज्म कॉर्पोरेशन लिमिटेड (IRCTC) ने ये फैसला लिया है. कोरोना वायरस के कारण निलंबन के बाद अक्टूबर में तेजस एक्सप्रेस का परिचालन फिर से शुरू किया था. लगभग तीन साल पहले तेजस ट्रेनों को बड़ी धूमधाम के साथ शुरू किया गया था.

पहली तेजस ट्रेन मई 2017 में छत्रपति शिवाजी टर्मिनस से मुंबई और गोवा के बीच चली थी. तब रेल मंत्री रहे सुरेश प्रभु ने इसे हरी झंडी दिखाई थी. इसके बाद देश के दूसरे हिस्सों में तेजस ट्रेन शुरू हुई थीं.

ट्रेन के उद्घाटन को प्रभु ने भारत के लिए एक नया युग बताया था.

देश की सबसे तेज ट्रेनों में शुमार

तेजस एक्सप्रेस, राजधानी, शताब्दी, वंदे भारत एक्सप्रेस जैसी देश की सबसे तेज ट्रेनों में शुमार है. ये ट्रेन 200 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चल सकती है.

तेजस ट्रेनों में यात्रियों को वाई-फाई के साथ-साथ कई तरह की सुविधाएं मिलती हैं. ट्रेन में लेदर सीट, एलसीडी स्क्रीन लगी हैं. सुरक्षा के मद्देनजर भी ये ट्रेन, दूसरी ट्रेनों के मुकाबले काफी एडवांस्ड है. इसमें स्मोक और फायर डिटेक्शन सिस्टम लगा है. शताब्दी ट्रेनों की तरह इसमें दो तरह के कोच हैं- एग्जीक्यूटिव चेयर कार (EC) और एसी चेयर कार (CC). एग्जीक्यूटिव का किराया नॉर्मल CC से ज्यादा है.

इसलिए बंद की गई तेजस ट्रेनें

पूरी दुनिया की अर्थव्यवस्था इस समय कोरोना वायरस महामारी की मार झेल रही है और इससे भारतीय रेलवे भी अछूता नहीं है. महामारी के कारण लगाए गए लॉकडाउन के साथ ही भारत में रेलवे को भी बंद कर दिया गया. हालांकि धीरे-धीरे ट्रेनें चलनी शुरू हुईं. त्योहारों के सीजन को देखते हुए अक्टूबर में दो तेजस ट्रेनों- लखनऊ-दिल्ली और मुंबई-अहमदाबाद तेजस एक्सप्रेस को फिर से शुरू करने का फैसला लिया था.

त्योहारों में तो दोनों ट्रेनों को यात्री नसीब हो गए, लेकिन दीवाली-छठ का त्योहार खत्म होते ही अब वापस यात्रियों की कमी हो रही है. इसलिए ट्रेनों के संचालन को बंद किया जा रहा है.

IRCTC ने एक बयान में कहा, “प्रबंधन ने कोविड-19 महामारी के परिणामस्वरूप कम यात्रियों के कारण IRCTC तेजस ट्रेनों के सभी प्रस्थानों को रद्द करने का फैसला किया है. कंपनी इन दोनों मार्गों में परिचालन करने वाली भारतीय रेलवे की अन्य ट्रेनों की ऑक्युपेन्सी लेवल को देखने के बाद अपने निर्णय की समीक्षा करेगी.”

शुरू हुई थीं दो तेजस ट्रेनें

त्योहारों के मद्दनेजर भीड़ को देखते हुए लखनऊ-नई दिल्ली और अहमदाबाद-मुंबई के बीच दो तेजस ट्रेनों को 17 अक्टूबर से फिर से शुरू किया गया था. IRCTC ने लखनऊ-नई दिल्ली (82501/82502) तेजस एक्सप्रेस को 23 नवंबर से जबकि अहमदाबाद-मुंबई (82901/82902) तेजस एक्सप्रेस को 24 नवंबर से रद्द कर दिया है.

IRCTC ने लखनऊ-दिल्ली-लखनऊ तेजस एक्सप्रेस को 4 अक्टूबर, 2019 को शुरू की थी. जबकि अहमदाबाद-मुंबई-अहमदाबाद इस साल 19 जनवरी को अपनी यात्रा शुरू की थी.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!