बाइडेन को जीत पर दुनिया दे रही बधाई तो रूस और चीन मौन क्यों?

साथ मिलकर भारत-अमेरिका संबंधों को नए मुकाम पर ले जाएंगे: पीएम मोदी

Updated
भारत
2 min read
जो बाइडेन
i

अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव प्रक्रिया करीब-करीब खत्म हो चुकी है और ये तय हो चुका है कि डेमोक्रेटिक पार्टी के नेता और अमेरिका के पूर्व उपराष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) अब अमेरिका के नए राष्ट्रपति बनने जा रहे हैं. 8 नवंबर की शाम से दुनियाभर के तमाम नेताओं ने जो बाइडेन को बधाईयां देनी शुरू कर दी है. उम्मीद की जा रही है कि जो बाइडेन के राष्ट्रपति बनने के बाद जलवायु परिवर्तन, कोरोना वायरस जैसे तमाम वैश्विक दिक्कतों पर दुनिया भर के देशों में सहयोग बढ़ेगा.

इसके अलावा हर देश चाहता है कि अमेरिका जैसी महाशक्ति के साथ उसके अच्छे संबंध हों, ताकि बुरे वक्त में उसकी मदद के लिए अमेरिका खड़ा रहे.

अमेरिका के मौजूदा राष्ट्रपति और रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवार ट्रंप ने अभी तक अपनी हार नहीं स्वीकारी है, लेकिन दुनिया के कई देशों ने नए चुने गए राष्ट्रपति जो बाइडेन को बधाईयां दी हैं. भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी बाइडेन को उनकी जीत पर बधाई दी है.

साथ मिलकर भारत-अमेरिका संबंधों को नए मुकाम पर ले जाएंगे: पीएम मोदी

पीएम मोदी ने जो बाइडेन के साथ अपनी फोटो शेयर करते हुए बाइडेन को जीत की बधाई दी है. उन्होंने जो बाइडेन के उपराष्टपति रहते हुए संबंधों के बारे में भी जिक्र किया है और अमेरिका-भारत मजबूत संबंधों को याद किया है. साथ ही पीएम मोदी ने आगे भी साथ मिलकर संबंधों को मजबूत बनाने की बात कही है.

एशिया के ज्यादातर बड़े देशों ने दी बाइडेन को बधाई

एशिया महाद्वीप में चीन के अलावा जो अहम शक्तिया हैं उन्होंने नए राष्ट्रपति बाइडेन को बधाई दी है. जापान, दक्षिण कोरिया और ताइवान ने जो को बधाई देते हुए अमेरिका के साथ भविष्य में अच्छे संबंधों की वकालत की है.

जापान के प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा ने ट्विटर पर लिखा कि जो बाइडेन को राष्ट्रपति चुने जाने की बधाई.

हम आपके साथ काम करने के लिए तैयार हैं जिससे हम जापान-अमेरिकी संबंंधों को नई ऊंचाई पर ले जा सकें. ताकि इंडो-पेसिफिक रीजन में शांति, आजादी और सपन्नता ला सकें.
योशिहिदे सुगा, प्रधानमंत्री, जापान

ताइवान के राष्टपति तासी इंगवेन ने भी बाइडेन को बधाई देते हुए आगे दोस्ती बरकरार रखने की आशा बयां की है. अमेरिका के ताईवान के साथ औपचारिक तौर पर संबंध नहीं है लेकिन बाइडेन ने भी तासी इंगवेन के ताईवान का राष्ट्रपति चुने जाने के बाद बधाई दी थी.

चीन और रूस ने साध रखी है चुप्पी

खास बात ये है कि दुनिया की दो शक्तियां रूस और चीन का राष्ट्रपति चुनाव के विजेता जो बाइडेन के लिए कोई बयान नहीं आया है. कई नेता जिन्होंने ट्रंप का समर्थन किया जा था, जैसे कि फिलिपिंस के राष्ट्रपति रोड्रिगो ड्यूट्रेट ने भी बाइडेन को बधाई दे दी है.

कई सारे पश्चिमी देशों ने भी बाइडेन को बधाईयां दी है और अमेरिका के साथ अपने देश के अच्छे संबंधों की आशा जताई है. जर्मनी, फ्रांस, ब्रिटेन के साथ-साथ कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने भी बाइडेन को जीत पर बधाई दे दी है.

मैक्सिको के राष्ट्रपति आंद्रेज मैन्युअल ने कहा कि वो बाइडेन को तब तक बधाई नहीं देंगे जब कि वो इस मामले में कानूनी लड़ाई नहीं जीत जाते.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!