ADVERTISEMENTREMOVE AD

राहुल गांधी ने अमेरिका में फोन लेकर मजाक में कहा- हैलो मिस्टर मोदी...

राहुल गांधी ने कहा, उनकी भारत जोड़ो यात्रा के दौरान भारत सरकार ने उसे बाधित करने का पूरा प्रयास किया

Published
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) आजकल अमेरिका के दौरे पर हैं, बुधवार को सिलिकॉन वैली में में उन्होंने एक बैठक के दौरान पेगासस का मुद्दा उठाया. राहुल ने कहा कि उनको पता था कि उनका फोन टैप किया जा रहा है, लेकिन वो इससे परेशान नहीं हुए. यही नहीं बात करते हुए राहुल ने अचानक अपना फोन निकाला और मजाक में कहा-हैलो मिस्टर मोदी..

ADVERTISEMENTREMOVE AD
"मुझे लगता है कि मेरा आईफोन टैप किया जा रहा है, आपको एक राष्ट्र के रूप में और एक व्यक्ति के रूप में भी डेटा जानकारी की गोपनीयता के संबंध में नियम स्थापित करने की आवश्यकता है, अगर कोई राष्ट्र, राज्य यह तय करता है कि वे आपका फोन टैप करना चाहते हैं, तो कोई भी आपको रोक नहीं सकता है. यह मेरी समझ है.

मानहानि केस पर बात करते हुए राहुल गांधी ने कहा-उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि मानहानि के मामले में उन्हें अधिकतम सजा मिलेगी और सांसद के रूप में अयोग्य घोषित कर दिए जाएंगे. राहुल गांधी ने कहा, मानहानि पर अधिकतम सजा पाने वाला पहला व्यक्ति होने की उन्होंने कभी कल्पना भी नहीं की थी कि ऐसा कुछ संभव है.

बुधवार को कैलिफोर्निया स्थित विश्वविद्यालय में एक सभा को संबोधित करते समय राहुल गांधी से अंतर्राष्ट्रीय समर्थन मांगने पर उनकी राय के बारे में पूछा गया था. इस पर राहुल ने कहा, मैं किसी से समर्थन नहीं मांग रहा हूं. मैं बहुत स्पष्ट हूं कि हमारी लड़ाई हमारी है. राहुल ने कहा, मुझे लगता है कि ऐसा करना मेरा अधिकार है और मुझे समझ नहीं आता कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यहां आकर ऐसा क्यों नहीं करते. प्रधानमंत्री को कुछ कठिन सवालों के जवाब देने चाहिए.

राहुल गांधी ने कहा, उनकी भारत जोड़ो यात्रा के दौरान भारत सरकार ने उसे बाधित करने का पूरा प्रयास किया, लेकिन वह उतना ही अधिक बढ़ता गया. उन्होंने कहा कि उनके पास बल है, लेकिन हमारे पास शक्ति है और यह शक्ति तब आती है, जब आप सत्य हैं और आपका रास्ता सत्य की ओर जाता है. इसलिए वे हमें हमारे लक्ष्य से भटका नहीं सके.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

0
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×