BJP सांसदों से बोले राजनाथ- एग्रेसिव हों, पर कांग्रेस की तरह नहीं
शीतकालीन सत्र चल रहा है जिसे देखते हुए सांसदों की हाजिरी को लेकर राजनाथ सिंह ने अहम निर्देश दिए
शीतकालीन सत्र चल रहा है जिसे देखते हुए सांसदों की हाजिरी को लेकर राजनाथ सिंह ने अहम निर्देश दिए(फोटो: Twitter) 

BJP सांसदों से बोले राजनाथ- एग्रेसिव हों, पर कांग्रेस की तरह नहीं

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को संसदीय दल की मीटिंग के दौरान अपनी पार्टी के सांसदों को नसीहत दी है. राजनाथ सिंह ने कहा कि बीजेपी को विपक्ष के खिलाफ आक्रामक होना होगा, लेकिन कांग्रेस जिस हद तक जाती है, उस हद तक जाने की जरूरत नहीं है. उन्‍होंने कहा कि बीजेपी की इमेज दूसरी पार्टियों से अलग है.

बीजेपी ने मंगलवार को संसदीय दल की बैठक संसद परिसर में की है.

Loading...

बता दें कि संसद का शीतकालीन सत्र चल रहा है. राजनाथ सिंह ने सांसदों से कहा कि वे संसद की कार्यवाही के दौरान सदन में मौजूद रहें. सरकार इस सत्र में कई बिल पारित कराना चाहती. इन विधेयक को पूर्ण सहमति से पारित करने के लिए संसद में सांसदों की मौजूदगी जरूरी है.

बयानबाजी को लेकर राजनाथ सिंह ने साफ कर दिया है कि असंसदीय भाषा का इस्तेमाल नहीं होना चाहिए. बीजेपी संसदीय दल की बैठक प्रज्ञा सिंह ठाकुर और अनंत हेगड़े के बयान के मद्देनजर महत्वपूर्ण मानी जा रही थी.

यह भी पढ़ें: काफी रियल:‘दिल से माफी न मिलने’ पर भी प्रज्ञा बोलीं गोडसे‘देशभक्त’

प्रज्ञा ठाकुर, अनंत हेगड़े ने क्या कहा था

बता दें कि भोपाल से बीजेपी सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने 27 नवंबर को लोकसभा में एक बहस के दौरान राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को 'देशभक्त' बताया था. इस मामले में हंगामे होने के बाद उन्होंने माफी भी मांगी ली थी. उन्‍होंने ये सफाई दी कि उनके बयान को गलत तरह से पेश किया गया था.

वहीं पूर्व केंद्रीय मंत्री और बीजेपी सांसद अनंत हेगड़े ने अजीबोगरीब बयान देकर अपनी ही पार्टी की फजीहत करा डाली थी. हेगड़े ने कहा था कि देवेंद्र फडणवीस 40 हजार करोड़ बचाने के लिए 80 घंटे के लिए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री बने थे. हेगड़े के इस बयान के बाद तुरंत देवेंद्र फडणवीस ने ऐसी खबरों को झूठा करार दिया था और हेगड़े के बयान पर कड़ी नाराजगी जताई थी.

यह भी पढ़ें: अनंत हेगड़े पर बिफरे फडणवीस-गलत बयानबाजी करने वाले पर हो एक्शन

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Follow our पॉलिटिक्स section for more stories.

    Loading...