ADVERTISEMENTREMOVE AD

Chhattisgarh: अर्जुनी में कॉलेज खोलने की घोषणा, लाल बहादुर नगर बनेगा नगर पंचायत

Bhupesh Baghel: हायर सेकंडरी स्कूल और किसान सुविधा केंद्र को कार्यक्रम के दौरान मिली मंजूरी

Published
राज्य
4 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा
Hindi Female

छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल(Bhupesh Baghel) लाल बहादुर नगर में आयोजित भेंट मुलाकात कार्यक्रम में शामिल हुए. उन्होंने भेंट-मुलाकात कार्यक्रम में लोगों से शासकीय कार्यक्रमों की क्रियान्वयन से मिल रहे लाभ के बारे में जानकारी ली. उन्होंने आज राजनांदगांव जिले के ग्राम लाल बहादुर नगर में भेंट-मुलाकात कार्यक्रम की शुरूआत वहां के हनुमान मंदिर और सांई मंदिर में पूजा-अर्चना और छत्तीसगढ़ महतारी के चित्र पर दीप प्रज्वलित कर की. मुख्यमंत्री के कार्यक्रम में पहुंचने पर लोगों ने खुमरी पहनाकर उन्हें सम्मानित किया.

Bhupesh Baghel: हायर सेकंडरी स्कूल और किसान सुविधा केंद्र को कार्यक्रम के दौरान मिली मंजूरी

कार्यक्रम से पहले हनुमान मंदिर और सांई मंदिर में पूजा-अर्चना करते हुए मुख्यमंत्री

(फोटो : क्विन्ट हिन्दी)

ADVERTISEMENTREMOVE AD

लाल बहादुर नगर बनेगा नगर पंचायत

बघेल ने भेंट-मुलाकात कार्यक्रम में ग्रामीणों से चर्चा के दौरान लोगों की मांग पर लाल बहादुर नगर को नगर पंचायत बनाने, स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल शुरू करने, आलिवारा में हाईस्कूल का हायर सेकंडरी स्कूल में उन्नयन व किसान सुविधा केंद्र, मांगीखुटा जलाशय निर्माण, जमारी डायवर्सन क्रमांक 2 के प्रशासकीय स्वीकृति और ग्राम माटेकसा से पिनकापार वृहद पुल निर्माण की घोषणा की. इस मौके पर उन्होंने विभिन्न विभागीय योजनाओं के 77 हितग्राहियों को मोटराइज्ड सायकल, ट्राय सायकल, पोषण कीट, सिलाई मशीन, गैस सिलेण्डर, बीज कीट आदि वितरण किया.

मुख्यमंत्री ने ग्रामीणों से चर्चा करते हुए कहा कि विधानसभा में बैठकर हम योजना बनाते हैं. सचिवालय में इस पर बारीकी से कार्य होता है फिर जिला प्रशासन इसे कार्यान्वित करता है. इन योजनाओं का ठीक से क्रियान्वयन हो रहा है या नहीं, यह जानने के लिए यहां आया हूं. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार किसानों के हित में कार्य कर रही है. हमने सबसे पहले किसानों को भारी भरकम खेती-किसानी के कर्ज से मुक्त करने का फैसला किया. इसके लिए हमने अल्पकालिन कृषि ऋण माफी योजना के माध्यम से किसानों को कर्ज से मुक्ति दिलाई.

0

हमने किसानों के हित में निर्णय लिए, किसानों का आत्मविश्वास बढ़ा - बघेल

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने किसानों के हित में अनेक निर्णय लिए, जिससे किसानों का आत्मविश्वास बढ़ा है. युवा वर्ग भी खेती-किसानी के प्रति भी रूचि ले रहे है. पंजीकृत किसानों की संख्या और खेती का रकबा भी बढ़ा है. उन्होंने कहा कि किसानों को उनकी उत्पाद का सही मूल्य दिलाने के लिए राजीव गांधी किसान न्याय योजना शुरू की है. धान के अलावा कोदो, कुटकी का भी समर्थन मूल्य तय किया है, जिसका लाभ सभी किसानों को मिल रहा है. गन्ना उत्पादन करने वाले किसानों को भी अच्छी कीमत मिल रही है.

उन्होंने बताया कि भूमिहीन श्रमिकों के लिए भी योजना बनाकर राशि देने का काम किया है. राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना से भूमिहीन श्रमिकों को साल में 7 हजार रूपए दी जा रही है. उन्होंने कहा कि सार्वभौम पीडीएस से लोगों को आसानी से राशन मिल रहा है. लोगों को खाद्यान्न सुरक्षा देने के लिए चलाई जा रही इस योजना में पात्र लोगों को अब राशन कार्ड बनाना आसान हो गया है.

ADVERTISEMENT

देश में पहली बार चिटफंड कंपनियों के निवेशकों की वापस हुई राशि

मुख्यमंत्री बघेल ने चिटफण्ड कंपनियों के बारे में चर्चा करते हुए कहा कि इन कम्पनियों ने निवेशकों को आर्थिक क्षति पहुंचाई है. उनको झूठे वादे किए और लोगों को नुकसान पहुंचाया है. राज्य सरकार इन पर लगातार कार्रवाई कर रही है. देश में पहली बार निवेशकों की राशि वापस हुई. छत्तीसगढ़ में ऐसी कार्रवाई यह पहली बार हुई है, लेकिन यह राहत की शुरुआत है. हम इस पर लगातार काम कर रहे हैं. इन कम्पनियों के कई डाइरेक्टर्स गिरफ्तार हुए हैं. इन कंपनियों की संपत्ति भी खंगाली है. राजनांदगांव जिले में 19 हजार लोगों के 15 करोड़ रुपये वापस भी हुए.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

हीमोफीलिया रोग से पीड़ित बच्चों का होगा इलाज

मुख्यमंत्री ने भेंट-मुलाकात के दौरान संवेदनशील पहल करते हुए दुर्लभ बीमारी हीमोफीलिया से ग्रसित दो बच्चों के इलाज के लिए शासन से राशि स्वीकृति करने की सहमति दी. उन्होंने इन बच्चो के पिता माखनलाल से कहा कि बच्चों के इलाज की चिंता हमारी भी है. मुख्यमंत्री ने कलेक्टर को तुरंत इलाज आरम्भ कराने और हर संभव सहायता के निर्देश दिए. ग्राम छुरिया निवासी माखनलाल निर्मलकर ने मुख्यमंत्री को बताया कि उनके दोनों बच्चे हीमोफीलिया बीमारी से ग्रसित है. थोड़ी भी चोट लगती है तो, खून बह जाता है. इन्हें 16-16 हजार रूपए के इंजेक्शन लगते हैं. दो साल पहले बेंगलुरु में इन बच्चों का ऑपरेशन हुआ था. काफी इलाज कराने के बाद भी ठीक नहीं हो रहा है. राजनांदगांव जिले में इस बीमारी के केवल दो ही मरीज है. वह गरीब है और आगे का इलाज कराने में समर्थ नहीं है.

Bhupesh Baghel: हायर सेकंडरी स्कूल और किसान सुविधा केंद्र को कार्यक्रम के दौरान मिली मंजूरी

ग्राम छुरिया निवासी माखनलाल निर्मलकर

(फोटो : क्विन्ट हिन्दी)

ADVERTISEMENT

ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री के साथ चर्चा कर उनके प्रति आभार व्यक्त किया

मुख्यमंत्री से चर्चा करते हुए निरूपमा माली ने सार्वभौम पीडीएस योजना की प्रशंसा करते हुए बताया कि उनका राशन कार्ड बन गया है. उनके परिवार में कुल 09 सदस्य हैं. प्रति व्यक्ति 7 किलो की दर से 63 किलो चावल मिलता है. चावल के अलावा नमक, शक्कर भी समय पर मिल जाता है.

नारायणगढ़ निवासी प्रकाश गंधर्व ने मुख्यमंत्री के प्रति आभार व्यक्त करते हुए कहा कि पहली बार भूमिहीन कृषि मजदूरों के लिए अलग से योजना बनी है, जिसका लाभ मिल रहा है. उन्होंने बताया कि पिछले वर्ष राजीव गांधी भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के तहत आवेदन जमा किया था. इस वर्ष योजना के तहत चारों किस्त मिल गया है.

ग्राम बोरतालाब के कार्तिक नंदेश्वर ने किसान हितकारी योजनाओं के लिए मुख्यमंत्री के प्रति आभार व्यक्त करते हुए बताया कि हम सब आपकी योजनाओं से बहुत खुश हैं. किसानों की ऋण माफी हुई. खेती-किसानी के प्रति लोगों का उत्साह बढ़ा है.

मुख्यमंत्री से चर्चा करते हुए दुबे लाल ने मुख्यमंत्री हाट बाजार योजना को जरूरतमंदों के लिए सुविधाजनक बताते हुए कहा कि उन्हें इस योजना से निःशुल्क इलाज की सुविधा मिल रही है. भेंट-मुलाकात के दौरान अनेक जिला, जनपद और नगर पंचायत प्रतिनिधि, अधिकारी और बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENTREMOVE AD
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
×
×