ADVERTISEMENTREMOVE AD

वाराणसी में PM मोदी की भतीजी बनकर लड़की ने रिटायर कर्नल को लगाया 21 लाख का चूना

आरोपी महिला के प्रधानमंत्री से किसी भी तरह के संबंध को पीएमओ ने नकारा है.

Published
न्यूज
2 min read
story-hero-img
i
छोटा
मध्यम
बड़ा

वाराणसी में ठगी का मामला सामने आया है, जहां रिटायर कर्नल से जयपुर की महिला ने पीएम की भतीजी बनकर 21 लाख रुपय ठग लिए. फिलहाल कैंट थाने में महिला समेत दो पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. वहीं आरोपी महिला के प्रधानमंत्री से किसी भी तरह के संबंध को पीएमओ ने नकारा है. दरअसल शेयर में निवेश के नाम पर की गई है ठगी.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

क्या है पूरा मामला?

वाराणसी के पटेल नगर कॉलोनी (नदेसर) निवासी रिटायर कर्नल उपेंद्र राघव ने 21 लाख रुपये की ठगी में वेरोनिका मोदी और वरुणापुल इलाके के रमेश शर्मा पर कैंट थाने में रविवार को केस दर्ज कराया है. उन्होंने अपनी गाढ़ी कमाई वापस दिलाने की मांग की है. आरोप है कि स्टॉक मार्केट में अच्छा मुनाफा दिलाने के नाम पर उनसे ठगी हुई.

शेयर मार्केट में निवेश के नाम पर हुई ठगी

पीड़ित रिटायर्ड कर्नल उपेंद्र राघव के मुताबिक वह जम्मू में तैनात थे. वहीं के एक बैंक में उनका खाता भी है. उनकी बलिया की कोमल पांडेय के जरिये वेरोनिका मोदी से पहचान हुई थी. बता दें, वेरोनिका जयपुर में रहती है और वेरोनिका मोदी ने व्हाट्सएप पर चैटिंग के दौरान शेयर मार्केट में निवेश की बात की और कर्नल को बताया कि इसमें अच्छा मुनाफा मिलेगा. उसके बाद रमेश शर्मा के खाते में कर्नल से 21 लाख रुपये मंगाए, जो राजस्थान के ही एक बैंक में था. लेकिन फिर रुपये कर्नल को नहीं लौटाए. हालांकि, एक बार वेरोनिका ने व्हाट्सएप पर 18 लाख रुपये के चेक की तस्वीर भेजी थी, जो फर्जी था. उपेंद्र राघव ने बताया कि जब भी उससे रुपये मांगे उसने बहाने बनाकर देने से मना कर दिया. साथ ही वो खुद को पीएम नरेंद्र मोदी की भतीजी बता रही थी. कैंट पुलिस ने युवती वेरोनिका और रमेश शर्मा के विरुद्ध धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

पुलिस ने दर्ज किया केस

कर्नल ने बताया कि वेरोनिका के संबंध में जब पीएमओ से जानकारी मांगी तो वहां से बताया गया कि प्रधानमंत्री से वेरोनिका का कोई संबंध नहीं है. इस मामले में इंस्पेक्टर कैंट प्रभुकांत ने बताया कि तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है. बता दें, रिटायर्ड कर्नल उपेंद्र राघव ने पुलिस को बताया कि कुछ दिनों पहले बलिया की रहने वाली एक युवती कोमल पांडेय का मोबाइल पर फोन आया था, उसने मोबाइल के माध्यम से ही उनका परिचय वेरोनिका से कराया, जिसने खुद को प्रधानमंत्री की भतीजी बताया था. रिटायर्ड कर्नल ने बताया कि काफी समय बीतने के बाद भी जब शेयर मार्केट निवेश में कोई मुनाफा नहीं मिला तो उन्होंने वेरोनिका को फोन किया और पूछा तो उसने जवाब दिया की जल्द ही कुछ होगा. साल भर बाद भी कुछ नहीं हुआ तो कर्नल ने पैसे वापस करने का दबाव डाला लेकिन वेरोनिका ने कोई जवाब नहीं दिया.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

आईपीएल में गंवाए पैसे

रिटायर कर्नल ने बताया कि जब महिला पर ज्यादा दबाव बनाया तो वेनोरिका ने कहा कि आईपीएल में सब पैसे गंवा दिए है. फिलहाल पुलिस ने वेरोनिका और उसके साथी रमेश शर्मा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है.

ADVERTISEMENTREMOVE AD

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
अधिक पढ़ें
×
×