ADVERTISEMENT

केरल : पुरुष को पीट रही महिलाओं का वीडियो झूठे हिंदू Vs मुस्लिम एंगल से वायरल

Fact Check: ईसाई शख्स को पीटती ईसाई महिलाओं का वीडियो सोशल मीडिया पर गलत दावे से वायरल है

Published

रोज का डोज

निडर, सच्ची, और असरदार खबरों के लिए

By subscribing you agree to our Privacy Policy

सोशल मीडिया पर एक पुरुष को पीटती महिलाओं के झुंड का वीडियो वायरल है.

दावा: वीडियो शेयर कर दावा किया जा रहा है कि केरल (Kerala) में 'हिंदू महिला' ने बदतमीजी कर रहे मुस्लिम शख्स को पीटा.

पोस्ट का अर्काइव यहां देखें

सोर्स : स्क्रीनशॉट/फेसबुक

वीडियो इसी दावे के साथ शेयर करने वाले अन्य पोस्ट्स के अर्काइव यहां और यहां देखें

ADVERTISEMENT

क्या है सच ? : ये वीडियो केरल का है, लेकिन मामला सांप्रदायिक नहीं है.

  • वीडियो में दिख रही महिलाएं ईसाई समुदाय से हैं और केरल के त्रिशूर जिले के इरिंजलकुडा में स्थित सम्राट इमैनुएल चर्च की सदस्य हैं.

  • वीडियो में दिख रहे शख्स की पिटाई कथित तौर पर महिला की तस्वीर चुराकर उसे फैलाने के बाद हुई थी. इस शख्स ने कुछ दिन पहले ही चर्च से खुद को अलग किया था.

ADVERTISEMENT

हमने ये सच कैसे पता लगाया? : हमने गूगल के इनविड एक्सटेंशन की मदद से वीडियो के की-फ्रेम्स निकाले और फिर रिवर्स सर्च किया.

  • रिवर्स सर्च के बाद हमें एक न्यूज रिपोर्ट में इसी वीडियो का स्क्रीनशॉट मिला.

  • OnManorama में 7 जनवरी को छपी रिपोर्ट के मुताबिक केरल के थ्रिसुर जिले में 11 महिलाओं को एक शख्स के साथ मारपीट करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था.

  • रिपोर्ट में बताया गया है कि महिलाएं एम्परर इमैनुएल चर्च से थीं और शख्स ने कुछ वक्त पहले ही इस चर्च से खुद को अलग कर लिया था.

  • हमें ऐसी कोई रिपोर्ट नहीं मिली, जिससे पुष्टि होती हो कि ये शख्स मुस्लिम समुदाय से था.

आर्टिकल का लिंक यहां देखें 

सोर्स : स्क्रीनशॉट/OnManorama

ADVERTISEMENT

पुलिस ने भी दावों को गलत बताया :

  • हमने अलूर पुलिस स्टेशन से संपर्क किया, जहां एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने वीडियो को लेकर किए जा रहे दावों को गलत बताया.

  • अधिकारी ने बताया कि इस मामले में महिलाएं और पुरुष दोनों ही ईसाई समुदाय से हैं. आगे बताया कि महिलाओं को उस पुरुष के साथ इस तरह का बर्ताव करने पर फटकार लगाई गई, हालांकि बाद में छोड़ दिया गया.

ADVERTISEMENT

चर्च ने भी दी मामले की जानकारी ;

हमने मुरियाद में स्थित एम्परर इमैनुएल चर्च की सदस्य Leslie Pereira से भी संपर्क किया. उन्होंने पुष्टि की कि शाजी चर्च का ही पूर्व सदस्य है, पर अब वो चर्च से अलग हो गया है.

शाजी इसी चर्च का सदस्य था पर बाद में वो कैथलिक चर्च में शामिल होने के लिए अलग हो गया. उसने एक महिला की फोटो को एडिट कर अश्लील तस्वीर बनाकर फैलाना शुरू कर दिया. घटना वाले दिन उसका चर्च के ही दो लोगों से सामना हुआ, तो वो अभद्र भाषा का इस्तेमाल करने लगा. इसके बाद चर्च के और सदस्य भी इकट्ठा हुए और शाजी के साथ मारपीट की.
Leslie Pereira, एम्परर इमैनुएल चर्च की सदस्य
ADVERTISEMENT
  • लेसली ने सोशल मीडिया पर वीडियो को लेकर किए जा रहे दो समुदाय में टकराव से जुड़े दावों को भी गलत बताया.

पड़ताल का निष्कर्ष : केरल में पुरुष को पीटती दिख रही महिलाओं का वीडियो सोशल मीडिया पर गलत सांप्रदायिक दावे से वायरल है.

(अगर आपके पास भी ऐसी कोई जानकारी आती है, जिसके सच होने पर आपको शक है, तो पड़ताल के लिए हमारे वॉट्सऐप नंबर 9643651818 या फिर मेल आइडी webqoof@thequint.com पर भेजें. सच हम आपको बताएंगे. हमारी बाकी फैक्ट चेक स्टोरीज आप यहां पढ़ सकते हैं)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
सत्ता से सच बोलने के लिए आप जैसे सहयोगियों की जरूरत होती है
मेंबर बनें
500
1800
5000

or more

प्रीमियम

3 माह
12 माह
12 माह
मेंबर बनने के फायदे
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
और खबरें
×
×