ताइवान ने चीनी विमान को मार गिराया? टाइम्स नाउ,न्यूज24 का दावा गलत

न्यूज 24, टाइम्स नाउ और एबीपी न्यूज समेत कई मीडिया संगठनों ने इस अनवेरिफाइड विजुअल्स को दिखाया.

Updated
वेबकूफ
5 min read
ताइवान ने चीनी विमान को मार गिराया? टाइम्स नाउ,न्यूज24 का दावा गलत

न्यूज 24, टाइम्स नाउ और एबीपी समेत कई मीडिया संगठनों ने अनवेरिफाइड विजुअल्स के जरिए दावा किया कि ताइवान ने चीनी लड़ाकू विमान को मार गिराया, जो ताइवान के हवाई क्षेत्र में उड़ रहा था.

ताइवान के रक्षा मंत्रालय ने इसे ‘फेक न्यूज’ बताया है. इसके अलावा, हमने OSINT एक्सपर्ट के साथ वीडियो में दिख रही लोकेशन को एनालाइज किया और पाया कि दुर्घटना चीन के गुइलिन में हुई, जो ताइवान से लगभग 1,000 किमी दूर है.

ताइवान ने चीनी विमान को मार गिराया? टाइम्स नाउ,न्यूज24 का दावा गलत
(स्क्रीनशॉट: वेबसाइट)

दावा

‘News Line IFE Live’ नाम के एक ट्विटर हैंडल ने इस घटना के विजुअल्स ट्वीट कर ये दावा किया. ट्वीट में लिखा है: “#BreakingNews : ताइवान के एयर डिफेंस सिस्टम ने ताइवान हवाई क्षेत्र में घुसपैठ के बाद चीन PLA एयरफोर्स विमान को मार गिराया.”

इस आर्टिकल को पब्लिश किए जाने तक, इस वीडियो को चार लाख से ज्यादा लोग देख चुके थे.

ताइवान ने चीनी विमान को मार गिराया? टाइम्स नाउ,न्यूज24 का दावा गलत
(स्क्रीनशॉट: ट्विटर)

ताइवान या चीन की तरफ से कोई आधिकारिक रिपोर्ट नहीं आई, लेकिन कुछ मीडिया चैनलों ने विजुअल चलाए और एक ही दावा किया. टाइम्स नाउ उन चैनलों में से एक है.

ताइवान ने चीनी विमान को मार गिराया? टाइम्स नाउ,न्यूज24 का दावा गलत
(स्क्रीनशॉट: ट्विटर)

ABP न्यूज और ABP माझा ने भी वीडियो अपलोड कर दावा किया कि घटना ताइवान में हुई है.

ताइवान ने चीनी विमान को मार गिराया? टाइम्स नाउ,न्यूज24 का दावा गलत
(स्क्रीनशॉट: वेबसाइट)

TV9 भारतवर्ष ने भी विजुअल्स को ऑन-एयर किया और लिखा कि ये ‘ताइवान ने किया है’.

ताइवान ने चीनी विमान को मार गिराया? टाइम्स नाउ,न्यूज24 का दावा गलत
(स्क्रीनशॉट: वेबसाइट)

अनकंफर्म्ड विजुअल्स होने के बावजूद, मेजर सुरेंद्र पूनिया ने वीडियो को ट्वीट किया और दावा किया कि ‘ताइवान ने चीनी विमान को मार गिराया.’

ताइवान ने चीनी विमान को मार गिराया? टाइम्स नाउ,न्यूज24 का दावा गलत
(स्क्रीनशॉट: ट्विटर)

IPS अफसर दीपांशू काबरा ने भी इसी दावे के साथ वीडियो ट्वीट किया. हालांकि, बाद में उन्होंने अपना ट्वीट हटा लिया.

ताइवान ने चीनी विमान को मार गिराया? टाइम्स नाउ,न्यूज24 का दावा गलत
(स्क्रीनशॉट: ट्विटर)

Defense World नाम की एक वेबसाइट ने इस पर एक आर्टिकल भी पब्लिश किया, जिसकी हेडलाइन थी: “Taiwan Shoots Down Chinese SU-35 Violating Airspace: Reports”

ट्रांसलेशन: “ताइवान ने हवाई क्षेत्र का उल्लंघन कर रहे चीनी SU-35 को मार गिराया: रिपोर्ट

ताइवान ने चीनी विमान को मार गिराया? टाइम्स नाउ,न्यूज24 का दावा गलत
(फोटो: स्क्रीनशॉट)

हमें जांच में क्या मिला?

ताइवान की रक्षा मंत्रालय ने खुद इन खबरों को “फेक न्यूज” बताया.

ताइवान के रक्षा मंत्रालय की तरफ से जारी किए गए एक बयान में कहा गया: “इंटरनेट पर वायरल हो रहे “ताइवान ने CCP SU-35 विमान को मार गिराया?” के जवाब में वायुसेना कमान ने पूरी तरह से इसका इनकार किया है. ये गलत जानकारी है और पूरी तरह से असत्य है.”

इसके कुछ समय बाद ही, कई ONSIT एक्सपर्ट ने इस ओर इशारा किया कि ये वीडियो चीन के गुइलिन का हो सकता है, जो ताइवान से 1,000 किमी दूर है.

हमें इस घटना का एक और वीडियो मिला, जिसमें कहा गया कि ये दुर्घटनाग्रस्त विमान का है. ट्वीट को ट्रांसलेट करने पर ये टेक्स्ट मिला: ‘गुइलिन, गुआंग्सी (18वें मध्य में) में, विमान गिर गया.’

हमने एक ONSIT एक्सपर्ट से संपर्क किया, जिनका ट्विटर हैंडल @Faytuks है. उन्होंने कहा कि वीडियो को OSINT डिस्कॉर्ड सर्वर पर किसी ने जियोकोलेट किया है. हैंडल ने जो लोकेशन शेयर की, वो है: ‘गुइलिन नंबर 18 मिडिल स्कूल.’

हमने इस लोकेशन को गूगल मैप्स पर ढूंढा, जिसके बाद हमें ये मिला:

ताइवान ने चीनी विमान को मार गिराया? टाइम्स नाउ,न्यूज24 का दावा गलत
(फोटो: गूगल मैप स्क्रीनशॉट)

हालांकि इस लोकेशन का स्ट्रीट व्यू नहीं है, हमने एक वीडियो में जो कुछ देखा, उसके साथ इस जगह के जियोग्राफिकल फीचर्स की तुलना करने का प्रयास किया.

1. रनिंग ट्रैक

दोनों विजुअल्स में रनिंग ट्रैक एकदम एक जैसा है. रनिंग ट्रैक के घुमाव पर इंटरसेक्शन भी एक जैसा (नीले रंग में) है. इस सीधी लाइन की लंबाई भी दोनों में एक जैसी ही नजर आती है.

ध्यान से देखने पर, इस सीधी लाइन के आखिर में एक सफेद सीमेंट एरिया जैसा कुछ दिखाई देता है (पीले रंग में). दोनों ही विजुअल में इस स्ट्रक्चर के दोनों ओर घास देखी जा सकती है.

लेफ्ट: वायरल वीडियो, राइट: गुइलिन चीन का गूगल मैप व्यू
लेफ्ट: वायरल वीडियो, राइट: गुइलिन चीन का गूगल मैप व्यू
(फोटो: स्क्रीनशॉट)

2. ट्रैक के पास खाली जगह

एक यूजर द्वारा ट्वीट किए गए वीडियो में, ट्रैक के पास में खाली जगह देखी जा सकती है. गूगल मैप्स पर देखी गई उस लोकेशन में भी ये जगह दिखती है.

लेफ्ट: वायरल वीडियो, राइट: गुइलिन चीन का गूगल मैप व्यू
लेफ्ट: वायरल वीडियो, राइट: गुइलिन चीन का गूगल मैप व्यू
(फोटो: स्क्रीनशॉट)

3. ट्रैक के आसपास पेड़

अगर आप ध्यान से देखेंगे, तो पाएंगे कि सिर्फ ट्रैक और खाली जगह ही नहीं, बल्कि दोनों विजुअल्स में पेड़-पौधे भी एक जैसी शेप में ही नजर आते हैं.

लेफ्ट: वायरल वीडियो, राइट: गुइलिन चीन का गूगल मैप व्यू
लेफ्ट: वायरल वीडियो, राइट: गुइलिन चीन का गूगल मैप व्यू
(फोटो: स्क्रीनशॉट)

4. सीढ़ियां

इस रनिंग ट्रैक में सीढ़ियों का एक सेट भी है. क्योंकि गूगल मैप्स की फोटो एकदम साफ नहीं है, इसलिए क्विंट ये कंफर्म नहीं कर सकता है कि लोकेशन में सीढ़ियां दिख रहे हैं या नहीं. हालांकि, ये देखा जा सकता है कि स्ट्रक्चर में दो अलग-अलग लाइन हैं, जो अलग-अलग लेवल पर हो सकती हैं.

लेफ्ट: वायरल वीडियो, राइट: गुइलिन चीन का गूगल मैप व्यू
लेफ्ट: वायरल वीडियो, राइट: गुइलिन चीन का गूगल मैप व्यू
(फोटो: स्क्रीनशॉट)

हालांकि इस घटना पर चीनी सरकार का एक आधिकारिक बयान आना अभी बाकी है और दुर्घटना का कारण भी अभी तक सामने नहीं आया है, लेकिन ऊपर दी गई जानकारी से ऐसा लगता है कि दुर्घटना चीन में हुई थी, न कि ताइवान में.

ऊपर दिखाए गए विजुअल्स की तुलना से साबित होता है कि दुर्घटना गुइलिन नंबर 18 मिडिल स्कूल के पास कहीं हुई थी.

चीनी लड़ाकू विमानों पर ताइवान के आरोप

साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट (SCMP) में पब्लिश एक आर्टिकल के मुताबिक, चीन ने कथित रूप से लड़ाकू जेट तैनात किए थे जो अगस्त में ताइवान स्ट्रेट की एक सीमा को पार कर गए थे. ये ताइवान के हेल्थ और ह्यूमन सर्विसेस के अमेरिकी सचिव एलेक्स अजार की मेजबानी के दौरान हुआ.

आर्टिकल में लिखा है, "ताइवान की वायु सेना ने कहा कि उसे सोमवार को सुबह लगभग 9 बजे थोड़ी देर के लिए ताइवान और चीन के बीच अनौपचारिक हवाई क्षेत्र की सीमा को पार करते हुए, ताइवान स्ट्रेट के मध्य बिंदु से गुजरने वाले चीनी J-10 और J-11 विमान का पता चला."

इस बीच, सरकारी ग्लोबल टाइम्स के एडिटर-इन-चीफ हू जीजिन ने कथित तौर पर वीबो पर एक वीडियो शेयर किया, जिसमें कहा गया था कि चीन के 'ताइवान स्ट्रेट के लिए फाइटर जेट की तैनाती' अजर की यात्रा को लेकर ताइवान के लिए 'स्पष्ट चेतावनी' थी.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!