ADVERTISEMENT

Qatar नहीं, अफगानिस्तान की है बुर्का पहने खबर पढ़ती एंकर की ये तस्वीर

दावा है कि कतर में बुर्का पहनकर खबरें पढ़ती एंकर ने 'भारत में अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता' पर चिंता जाहिर की

Published
Qatar नहीं, अफगानिस्तान की है बुर्का पहने खबर पढ़ती एंकर की ये तस्वीर
i

बीजेपी की प्रवक्ता की तरफ से पैगंबर मोहम्मद (Prophet Mohammad) पर की गई आपत्तिजनक टिप्पणी को लेकर हुए विवाद के बीच सोशल मीडिया पर एक फोटो वायरल है. दावा किया जा रहा है कि कतर (Qatar) में बुर्का पहनकर खबर पढ़ रही एंकर ने भारत में 'अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता' को लेकर चिंता जाहिर की.

ADVERTISEMENT

हमारी पड़ताल में सामने आया कि ये तस्वीर न तो हाल की है और न ही इसका पैगंबर को लेकर बीजेपी प्रवक्ता की तरफ से की गई टिप्पणी से कोई संबंध है. असल में ये फोटो अफगानिस्तान में खबर पढ़ रही महिला एंकर की है.

दावा

फोटो शेयर कर दावा किया जा रहा है कि इसमें दिख रही महिला कतर की न्यूज एंकर फातिमा शेख हैं. और वे भारत में अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता को लेकर चिंता व्यक्त कर रही हैं.

पोस्ट का अर्काइव यहां देखें

सोर्स : स्क्रीनशॉट/फेसबुक

फोटो को इसी दावे के साथ शेयर करते सोशल मीडिया पोस्ट्स का अर्काइव यहां, यहां और यहां देख सकते हैं.

ADVERTISEMENT

पड़ताल में हमने क्या पाया

वायरल फोटो को गूगल पर रिवर्स सर्च करने से हमें यही फोटो एक नॉन प्रॉफिट अमेरिकी संस्था नेशनल पब्लिक रेडियो (NPR) की वेबसाइट पर छपे आर्टिकल में मिली. इस आर्टिकल में बताया गया था कि ये अफगानिस्तान की न्यूज एंकर खातिरा अहमदी हैं.

ADVERTISEMENT

दरअसल, अफगानिस्तान की सत्ता पर काबिज होने के बाद तालिबान ने महिला एंकरों को प्रसारण के वक्त अपना चेहरा ढंकने का आदेश दिया गया था. अमेरिकी संस्था की वेबसाइट पर इस तस्वीर का क्रेडिट न्यूज एजेंसी एसोसिएट प्रेस (AP) को दिया गया था. हमें यही फोटो AP के अर्काइव में भी मिल गई, यहां भी फोटो के साथ यही जानकारी दी गई है.

अफगानिस्तान की है तस्वीर

फोटो: स्क्रीनशॉट/AP

ADVERTISEMENT

फोटो को कतर का बताकर शेयर करने वाले हैंडल @AdvisorZaidu' के ट्वीट पर सबसे ज्यादा लोगों ने रिएक्ट किया है. इस ट्विटर हैंडल के बायो में साफ लिखा है कि ''इस अकाउंट से किए गए सभी ट्वीट 100% फेक हैं''

साफ है कि अफगानिस्तान में बुर्का पहनकर खबर पढ़ती महिला एंकर की तस्वीर को कतर का बताकर गलत दावे के साथ शेयर किया जा रहा है.

(अगर आपके पास भी ऐसी कोई जानकारी आती है, जिसके सच होने पर आपको शक है, तो पड़ताल के लिए हमारे वॉट्सऐप नंबर 9643651818 या फिर मेल आइडी webqoof@thequint.com पर भेजें. सच हम आपको बताएंगे. हमारी बाकी फैक्ट चेक स्टोरीज आप यहां पढ़ सकते हैं )

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
Speaking truth to power requires allies like you.
Q-इनसाइडर बनें
450

500 10% off

1500

1800 16% off

4000

5000 20% off

प्रीमियम

3 माह
12 माह
12 माह
Check Insider Benefits
अधिक पढ़ें
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
और खबरें
×
×