भारत के हितों को नुकसान पहुंचाने वाला कोई काम नहीं करेंगे:राजपक्षे

गोटबाया राजपक्षे 29 नवंबर को भारत के दौरे पर आएंगे 

Published26 Nov 2019, 02:54 AM IST
दुनिया
1 min read

श्रीलंका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे ने कहा है कि उनका देश भारत के साथ काम करेगा और वो ऐसा कुछ नहीं करेगा जिससे भारत के हितों को नुकसान पहुंचे.

राजपक्षे ने इस हफ्ते के अंत में भारत की अपनी यात्रा से पहले कहा कि वह चाहते है कि श्रीलंका एक ‘‘तटस्थ देश’’ बने और सभी देशों के साथ मिलकर काम करे. 

उन्होंने कहा, ‘‘हम भारत के साथ एक मित्र राष्ट्र के रूप में काम करेंगे और ऐसा कुछ नहीं करेंगे जिससे भारत के हितों को नुकसान पहुंचे.’’

राजपक्षे 29 नवंबर को श्रीलंकाई राष्ट्रपति के तौर पर अपनी पहली आधिकारिक यात्रा पर भारत आएंगे. उन्होंने भारतशक्ति डॉट इन के नितिन गोखले और स्ट्रेटेजिक न्यूज इंटरनेशनल को दिए एक इंटरव्यू में कहा, ‘‘हम एक तटस्थ देश बनना चाहते हैं.’’

पिछले हफ्ते श्रीलंका के राष्ट्रपति के रूप में शपथ लेने वाले राजपक्षे ने कहा, ‘‘हम महाशक्तियों के शक्ति संघर्षों में नहीं पड़ना चाहते हैं... हम इतने छोटे हैं कि हम इस सब में पड़कर खुद को बनाए नहीं रख सकते हैं.’

राजपक्षे ने कहा, ''हम भारत और चीन दोनों से करीबी संबंध चाहते हैं.'' इसके अलावा उन्होंने कहा, ‘‘हम सभी देशों के साथ काम करना चाहते हैं और हम ऐसा कुछ भी नहीं करना चाहते हैं जो किसी मामले में किसी अन्य देश को नुकसान पहुंचाए. हम भारत की चिंताओं को समझते हैं, इसलिए हम किसी भी उस गतिविधि में शामिल नहीं हो सकते हैं जिससे भारत की सुरक्षा को खतरा हो.’’

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!